Home » Economy » Bankingblunders of Modi govt have been demonetisation & hasty implementation of GST

बढ़ी तेल कीमतों से मोदी सरकार ने कमा लिए 10 लाख करोड़, आम लोगों को नहीं मिला फायदा: मनमोहन

कर्नाटक चुनाव प्रचार को लेकर कांग्रेस और बीजेपी दोनों तरफ से आरोप-प्रत्‍यारोप का दौर जारी है।

1 of

नई दिल्‍ली. कर्नाटक चुनाव प्रचार को लेकर कांग्रेस और बीजेपी दोनों तरफ से आरोप-प्रत्‍यारोप का दौर जारी है। कांग्रेस की तरफ से ताजा हमला पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सोमवारको बेंगलुरु में किया। उन्‍होंने कहा कि मोदी सरकार के आर्थिक प्रबंधन से बैंकिंग सिस्‍टम में आम लोगों को भरोसा धीरे-धीरे खत्‍म हो रहा है। हाल में जो घटनाएं हुईं, जिनसे कई राज्‍यों में कैश की कमी हुई, उन्‍हें रोका जा सकता था। 

 

 

मोदी सरकार ने लिए दो गलत फैसले 
पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कि नोटबंदी और जीएसटी मोदी सरकार की दो भयंकर भूल थीं, जिनसे बचा जा सकता था। इन गलतियों के चलते छोटे और मझोले सेक्‍टर को काफी नुकसान हुआ, जिसके चलते ह‍जारों लोगों की नौकरियां गईं। इस तरह, इन फैसलों का अर्थव्‍यवस्‍था को नुकसान पहुंचा। 


मोदी के समय में हुअए नीरव मोदी स्‍कैम 
मनमोहन सिंह ने कहा कि जहां तक नीरव मोदी फ्रॉड का मामला है तो यह निश्चित तौर पर 2015-16 का है। जोकि मोदी सरकार के कार्यकाल के दौर में हुआ। फिर भी मोदी सरकार ने कुछ नहीं किया। यदि आरोप ही लगाना है तो यह सरकार के अधिकार में है। इसमें कोई शक नहीं है कि दावोस में पीएम मोदी नीरव मोदी कंपनी के साथ थे और उसके कुछ दिन बाद ही वह देश छोड़कर भाग गए। 

 

PMO ने कभी इतने निचले स्‍तर पर काम नहीं किया 
मनमोहन सिंह ने कहा कि हमारे देश में किसी भी प्रधानमंत्री ने अपने विरोधियों के बारे में कुछ कहने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) का इस्‍तेमाल नहीं  किया। पीएम मोदी दिन-रात यह काम कर रहे हैं। इतने निचलते स्‍तर पर का व्‍यवहार प्रधानमंत्री का नहीं है। कुल मिलाकर यह देश के लिए अच्‍छा नहीं है। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट