बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Banking1 महीने में आधी हुई बिटक्‍वॉइन की कीमत, 24 घंटे में लोगों के डूबे 6.5 लाख करोड़ रुपए

1 महीने में आधी हुई बिटक्‍वॉइन की कीमत, 24 घंटे में लोगों के डूबे 6.5 लाख करोड़ रुपए

भारतीय समयानुसान बुधवार रात करीब 8 बजकर 50 मिनट पर बिट्क्‍वाइन की न्‍यूनतम कीमत 9311 डॉलर प्रति यूनिट दर्ज की गई...

1 of

नई दिल्‍ली. बिटक्वॉइन में बुधवार रात भारी गिरावट दर्ज की गई। इसके चलते दुनिया की नंबर वन क्रिप्‍टोकरंसी एक समय में 9500 डॉलर के भी नीचे पहुंच गई। अलग-अलग मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले साल नवंबर के बाद बिटक्‍वॉइन में अब तक की यह सबसे बड़ी गिरावट है। भारतीय समयानुसान बुधवार रात करीब 8 बजकर 50 मिनट पर बिट्क्‍वाइन की न्‍यूनतम कीमत 9311 डॉलर प्रति यूनिट दर्ज की गई। बाद में इसमें करेक्‍शन आया और खबर लिखे जाने तक यह 11200 डॉलर प्रति यूनिट के लेवल पर ट्रेड हो रही थी। 

 

दूसरी क्रिप्‍टोकरंसी में भी भारी गिरावट 

बुधवार की भारी गिरावट का असर दुनिया के अन्‍य क्रिप्‍टोकरंसी में भी देखने को मिला है। दुनिया की दूसरी बड़ी क्रिप्‍टोकरंसी इथर में करीब 28 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। वहीं तीसरी करंसी रिप्‍पल की मार्केट कैप को करीब 45 फीसदी का झटका लगा। 

 

दक्षिण कोरियाई मंत्री का बयान गिरावट की बड़ी वजह 
दुनिया भर के मार्केट रेग्‍यूलेट की ओर से कार्रवाई किए जाने का डार बिटक्‍वाइन में भारी कमी की प्रमुख बजह बताया जा रहा है। दरअसल दक्षिण कोरियाई के वित्‍त मंत्री ने बिटक्‍वाइन पर पाबंदी लागने के संकेत दिए थे। इसके चलते सिर्फ 24 घंटे के भीतर ही इस करंसी में करीब 30 फीसदी की गिरावट देखने को मिली। बताया जा रहा है कि इस गिरावट के चलते बिटक्‍वाइन की मार्केट कैप को 100 अरब डॉलर का नुकसान हुआ। मतलब 24 घंटे में लोगों के 100 अरब डॉलर यानी  6.5 लाख  करोड़ रुपए  डूब गए।  

 

आगे पढ़ें- एक महीने में 10 हजार डॉलर गिरी कीमतें.... 

एक महीने में 10 हजार डॉलर गिरी कीमतें 

एक एक महीने की बात करें तो बिटक्‍वाइन आसमान से अब जमीन पर आ चुका है। पिछले महीने सह 19800 के लेवल पर पहुंच गया था, जबकि भारी गिरावट के चलते यह अब 9311 डॉलर प्रति यूनिट के भाव पर पहुंच गया। इस हिसाब से देखें तो एक महीने के भीतर इसकी कीमतें आधी से भी कम हो चुकी हैं। बिटक्‍वाइन में इससे पहले नंबबर में इस तरह की गिरावट देखने को‍ मिली थी। 30 नवंबर को इसकी कीमतें 10 हजार डॉलर के नीचे पहुंचीं थीं।  

 

 

क्‍या बोले दक्षिण कोरियाई वित्‍त मंत्री 
दक्षिण कोरिया के वित्त मंत्री किम डोंग येओन ने कहा कि एशियाई ट्रेडिंग की शुरुआत में बिटक्वाइन की मूल्य में एक चौथाई की गिरावट दर्ज की गई।  येओन ने बुधवार को कहा कि लक्जमबर्ग स्थित बिटस्टैम्प एक्सचेंज में बिक्वाइन 25 प्रतिशत गिरावट के साथ बंद हुआ और अभी भी क्रिप्टोकरेंसी की ट्रेडिंग पर पाबंदी लगाने का विकल्प है। 

 

 

किसी देश ने नहीं दी है मान्‍यता/ सरकार ने भी चेताया था 
बिटक्वॉइन को भारत सहित दुनिया के किसी भी देश में मान्यता नहीं है। रिजर्व बैंक और वित्‍त मंत्रालय दोनों कई बार बिटक्‍वाइन को लेकर चेतावनी भी जारी की चुके हैं। इसका इस्तेमाल करने वाले नुकसान के खुद जिम्मेदार होंगे। वित्त मंत्रालय के अलावा विभिन्न सुरक्षा एजेंसियां आतंकी फंडिंग और हवाला गतिविधियों में इसके इस्तेमाल की आशंका जता चुके हैं। भारत झुनझुनवाला जैसा इन्‍वेस्‍टमेंट दिग्‍गज भी इसमें विवेश से बचने की सलाह देते रहे हैं। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट