बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Bankingमई से पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट पर मिलेगा 1.5% ज्‍यादा ब्‍याज, करना होगा ये काम

मई से पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट पर मिलेगा 1.5% ज्‍यादा ब्‍याज, करना होगा ये काम

अगर आपका पोस्‍ट ऑफिस में सेविंग्‍स अकाउंट है तो आप मई से इस पर डेढ़ फीसदी ज्‍यादा ब्‍याज पा सकते हैं।

1 of

नई दिल्‍ली. अगर आपका पोस्‍ट ऑफिस में सेविंग्‍स अकाउंट है तो आप मई से इस पर डेढ़ फीसदी ज्‍यादा ब्‍याज पा सकते हैं। अभी पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट पर ब्‍याज की दर 4 फीसदी है। ज्‍यादा ब्‍याज का लाभ आपको अप्रैल से शुरू होने वाले इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक (IPPB)के तहत मिलेगा। इसके लिए आपको अपने मौजूदा पोस्‍ट ऑफिस अकाउंट को पेमेंट्स बैंक अकाउंट से लिंक करना होगा। 

 

दरअसल इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक से पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट की लिंकिंग मई से शुरू होगी। पेमेंट्स बैंक में सेविंग्‍स अकाउंट पर ब्‍याज दर 5.5 फीसदी रहेगी, जबकि अभी पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट पर यह दर 4 फीसदी है। लिंकिंग के चलते जो भी सेविंग्‍स अकाउंट, पोस्‍ट ऑफिस से पेमेंट्स बैंक में ट्रान्‍सफर होंगे उन पर डेढ़ फीसदी ज्‍यादा ब्‍याज मिलेगा। 

 

बिना कस्‍टमर की मर्जी पेमेंट्स बैंक से लिं‍क नहीं होगा अकाउंट 

सूत्रों का कहना है कि पोस्‍ट ऑफिस के सेविंग्‍स अकाउंट होल्‍डर्स को डिजिटल बैंकिंग सर्विस उनकी मर्जी के अनुसार ही मिलेगी। यानी सर्विस पूरी तरह वैकल्पिक होगी। यदि खाताधारक यह सर्विस लेना चाहता है तो ही उसके अकाउंट को IPPB अकाउंट से लिंक किया जाएगा। 

 

आगे पढ़ें- कितने कस्‍टमर्स को होगा फायदा

34 करोड़ सेविंग्‍स अकाउंट होल्‍डर्स को होगा फायदा 

लिंकिंग की सुविधा शुरू होने से पोस्‍ट ऑफिस के 34 करोड़ सेविंग्‍स अकाउंट होल्‍डर्स को फायदा होगा। अकाउंट्स लिंकिंग के चलते पोस्‍ट ऑफिस कस्‍टमर्स भी डिजिटल बैंकिंग का लाभ ले सकेंगे और अपने अकांउट से किसी भी बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने में सक्षम हो जाएंगे। 

 

आगे पढ़ें- ऐसे करेगा काम

यूं बनेगा सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क 

सरकार का कहना है कि IPPB के तहत भारत में मौजूद लगभग 1.55 लाख पोस्‍ट ऑफि‍स ब्रांच ग्राहकों के लिए लास्‍ट माइल एक्‍सेस प्‍वॉइंट की तरह काम करेंगे और 650 पेमेंट बैंक ब्रांच कंट्रोलिंग ऑफिस के तौर पर काम करेंगी। इसका अर्थ यह हुआ कि 650 पेमेंट्स बैंक के अलावा भी सारे पोस्‍ट ऑफिस में पेमेंट बैंक की सुविधा लेने का विकल्‍प रहेगा। इसके अलावा इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक की एक तय समय के अंदर 5,000 एटीएम भी शुरू करने की भी योजना है। 

 

आगे पढ़ें- ज्‍यादा ब्‍याज के अलावा ये सुविधाएं भी

ज्‍यादा ब्‍याज के अलावा और कौन सी सुविधाएं

IPPB में ग्राहकों को डेढ़ फीसदी ज्‍यादा ब्‍याज के अलावा कुछ और सुविधाएं भी मिलेंगी। इनमें डिजिटल पेमेंट, NEFT, IMPS, AEPS, UPI और *99# के तहत डॉमेस्टिक रेमिटेंस के विभिन्‍न मोड्स के जरिए फंड ट्रान्‍सफर की सुविधा, करंट अकाउंट, इंश्‍योरेंस, म्‍युच्‍युल फंड, पेंशन, क्रेडिट प्रॉडक्‍ट्स, फॉरेक्‍स आदि जैसी फाइनेंशियल सर्विसेज, डोरस्‍टेप बैंकिंग, डीबीटी के जरिए सब्सिडी की प्राप्ति आदि शामिल हैं। पेमेट्स बैंक के सेविंग्‍स अकाउंट में ग्राहक 1 लाख तक डिपॉजिट रख सकेंगे।  

 

आगे पढ़ें- सितंबर से ये भी ऑप्‍शन 

ऐप से भी पेमेंट का मिलेगा ऑप्‍शन 

दूसरे फेज में सितंबर से पोस्‍ट ऑफिस में खाताधारकों को अपने IPPB अकाउंट से सुकन्‍या समृद्धि, रेकरिंग डिपॉजिट, स्‍पीड पोस्‍ट जैसे प्रोडक्‍टस के लिए पेमेंट का ऑप्‍शन मिलेगा। इसके अलावा, IPPB जल्‍द ही मर्चेंट्स का रजिस्‍ट्रेशन शुरू करेगा, जो कि उसके कमस्‍टर्स का पेमेंट ऐप के जरिए कर सकेंगे। IPPB जल्‍द ही अपना ऐप बेस्‍ड पेमेंट सिस्‍टम लाएगा। इसके जरिए ग्रॉसरी, टिकट आदि का पेमेंट हो सकेगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट