बिज़नेस न्यूज़ » Economy » Bankingअप्रैल से शुरू हो रहा पोस्‍ट ऑफिस का बैंक, 4 की जगह मिलेगा 5.5% ब्‍याज

अप्रैल से शुरू हो रहा पोस्‍ट ऑफिस का बैंक, 4 की जगह मिलेगा 5.5% ब्‍याज

1 अप्रैल से आपका पोस्‍ट ऑफिस भी बदलने जा रहा है। देश के सभी 1.55 लाख पोस्‍ट ऑफिस पेमेंट बैंक बन जाएंगे....

1 of

नई दिल्‍ली। नया फाइनेंशियल ईयर शुरू होने के चलते अप्रैल से बहुत सी चीजें बदल ही रही हैं। इसमें बैंक, बीमा आधार और इनकमट टैक्‍स के नियम शामिल हैं। इन सारी चीजों के साथ ही अप्रैल से आपका पोस्‍ट ऑफिस भी बदलने जा रहा है। इसके तहत देश के सभी 1.55 लाख पोस्‍ट ऑफिस पेमेंट बैंक बन जाएंगे। मलबल आप यहां से चिट्ठी पत्री के अलावा बैंकिंग की सुविधा भी हासिल कर सकते हैं। इसका नाम इंडिया पोस्‍ट पेमेंट बैंक होगा। बड़ी बात यह है कि यहां आपको पोस्‍ट ऑफिस की सामान्‍य बचत जमा से 1.5 फीसदी ज्‍यादा ब्‍याज मिलेगी।  

 

देश का तीसरा पेमेंट बैंक होगा इंडिया पोस्‍ट 
इंडियन पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) एयरटेल और पेटीएम के बाद तीसरा ऐसा पेमेंट बैंक होगा। अप्रैल से पूरे देश में इसका नेटवर्क काम करना शुरू करेगा।    इस बैंक की सेवाएं देश के सभी 1.55 लाख डाकघरों में ली जा सकेगी। 650 पेमेंट बैंक ब्रांच कंट्रोलिंग ऑफिस के तौर पर काम करेंगी।  इसके अलावा इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक की एक तय समय के अंदर 5,000 एटीएम भी शुरू करने की भी योजना है। माना जा रहा है कि पोस्‍टऑफिस के पेमेंट बैंक बन जाने के बाद सरकार को देश के ऐसे दूरदराज के इलाकों में बैंकिंग सुविधा का विकास करने में मदद मिलेगी, जहां अभी तक ये सुविधाएं नहीं हैं। इंडिया पोस्‍ट आपको 5 सुविधाएं देगा। 

 

 

 

 

पोस्‍ट ऑफिस से 1.5 फीसदी ज्‍यादा ब्‍याज 

इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक में तीन तरह के सेविंग्‍स अकाउंट होंगे- रेगुलर सेविंग्‍स अकाउंट 'सफल',  बेसिक सेविंग्‍स बैंक डिपॉजिट अकाउंट (BSBDA) 'सुगम' और BSBDA स्‍मॉल सेविंग्‍स अकाउंट 'सरल'। इन सभी के लिए सालाना ब्‍याज दर 5.5 फीसदी रहेगी, जो पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट के ब्‍याज से 1.5 फीसदी ज्‍यादा है। पोस्‍ट ऑफिस अभी 4 फीसदी ब्‍याज की पेशकश कर रहा है। 

 

 

1 लाख रु. तक का सेविंग्‍स अकाउंट
फिलहाल इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के तहत आपको सफल और सुगम सेविंग्‍स अकाउंट में 1 लाख रुपए तक मैक्सिमम बैलेंस रखने की सुविधा है। वहीं सरल के लिए यह लिमिट 50,000 रुपए है। 


 

डिजिटल पेमेंट व डॉमेस्टिक रेमिटेंस सर्विसेज
इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक ग्राहकों को डिजिटल पेमेंट की सुविधा भी उपलब्‍ध कराएगा। साथ ही डॉमेस्टिक रेमिेटेंस ऑफरिंग के जरिए फंड ट्रान्‍सफर का सस्‍ता और सुरक्षित माध्‍यम भी देगा। पेमेंट्स बैंक के सभी कस्‍टमर NEFT, IMPS, AEPS, UPI और *99# के तहत डॉमेस्टिक रेमिटेंस के विभिन्‍न मोड्स की सुविधा का लाभ ले सकेंगे। 

करंट अकाउंट और थर्ड पार्टी इंश्‍योरेंस
इंडिया पोस्‍ट पेंमेंट्स बैंक करंट अकाउंट और फाइनेंशियल सर्विस भी उपलब्‍ध कराएगा। इसके तहत इंश्‍योरेंस, म्‍युच्‍युल फंड, पेंशन, क्रेडिट प्रॉडक्‍ट्स, फॉरेक्‍स आदि जैसी सुविधाएं भी मिलेंगी।

 
 

डोरस्‍टेप बैंकिंग
इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक ग्राहकों को डोरस्‍टेप बैंकिंग की सुविधा भी देगा। इसके तहत कस्‍टमर ऑन बोर्डिंग, कैश बेस्‍ड फाइनेंशियल ट्रान्‍जेक्‍शन (डिपॉजिट व विदड्रॉल), नॉन-कैश बेस्‍ड फाइनेंशियल ट्रान्‍जेक्‍शंस (रेमिटेंस), नॉन-कैश बेस्‍ड नॉन फाइनेंशियल ट्रान्‍जेक्‍शन (बैलेंस इन्‍क्‍वायरी, मिनी स्‍टेटमेंट) शामिल हैं। हालांकि इसके लिए कुछ चार्ज भी तय हैं। इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक में हर तरह के चार्ज की जानकारी आपको https://www.indiapost.gov.in/VAS/DOP_PDFFiles/IPPBScheduleofCharges.pdf पर मिल जाएगी। 

 
 

डायरेक्‍ट बेनिफिट ट्रान्‍सफर
इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक की स्‍थापना के पीछे सरकार का एक मकसद विभिन्‍न सब्सिडीज के डायरेक्‍ट बेनिफिट ट्रान्‍सफर (डीबीटी) को बेहतर बनाना भी है। इसके लिए पेमेंट्स बैंक एक सुदृढ़ टेक्‍नोलॉजी वाला प्‍लेटफॉर्म उपलब्ध कराएगा। अधिक जानकारी https://www.indiapost.gov.in/VAS/DOP_PDFFiles/CentrefoldBrochure.pdf पर मौजूद है। 


 

क्‍या होता है पेमेंट बैंक 

आरबीआई ने 2015 में ही एयरटेल और पेटीएम के साथ ही भारतीय डाक विभाग सहित कई अन्‍य संस्‍थाओं को पेमेंट बैंक खोलने का लाइसेंस दिया था। पेमेंट्स बैंक पूरी तरह बैंक नहीं होते। ये सामान्य बैंकों की तरह ही कई सुविधाएं आपको मुहैया कराते हैं। हालांकि आप यहां से लोन हासिल नहीं कर सकते हैं। पेमेंट्स बैंक में आप 1 लाख रुपए तक जमा कर सकते हैं। इसके आलावा पैसे भेजने और मंगाने व इंटरनेट बैंकिंग की सेवा भी मिलती है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट