Home » Economy » Bankingwhen would start India Post Payments Bank, interest rates of India Post Payments Bank, India Post Payments Bank news update, how i can open account in India Post Payments Bank

अगस्‍त से शुरू होगा पोस्‍ट ऑफिस का बैंक, सरकारी बैंक से देगा 1.5 फीसदी ज्‍यादा ब्‍याज

सभी जरूरी तैयारियां पूरी, बैंक ऑपरेशन को तैयार

1 of

नई दिल्‍ली.पोस्‍ट ऑफिस यानी इंडिया पोस्‍ट का पेमेंट बैंक (IPPB) अगले महीने (अगस्‍त) से आम लोगों को अपनी सेवाएं देना शुरू कर देगा। बैंक 650 ब्रांच और 17 करोड़ खातों के साथ अपनी बैंकिंग की शुरुआत करेगा। RBI की ओर से इस बात मंजूरी मिलने के बाद IPPB के अगले महीने से शुरू होने की उम्‍मीद जागी है। इससे पहले अप्रैल-2018 से IPPB के शुरू होने की खबर थी। IPPB के सीईओ सुरेश सेठी ने बताया कि अब हमारी नजर लॉन्च डेट पर है। एक ऑपरेशनल, टेक्नॉलजी और मार्केट प्रॉस्पेक्टिव के नजरिए से हम लाइव जाने के लिए तैयार हैं।   


अगस्‍त में होगी शुरुआत 
सेठी ने दावा किया कि पूरा सिस्टम टेस्ट करने के बाद RBI ने IPPB के ऑपरेशन की मंजूरी दे दी है। IPPB की लॉन्चिंग के लिए फाइनल अप्रूवल RBI के पास पेडिंग था। सूत्रों के मुताबिक, कम्युनिकेशन मिनिस्ट्री को उम्‍मीद है कि वह IPPB को अगस्त में लॉन्च कर देगी। हालांकि लॉन्चिंग की किसी खास तरीख के बारे में सेठी ने कुछ भी कहने से इनकार किया। उन्‍होंने कहा कि हर चीज तैयार है और हम लॉन्चिंग के बिल्कुल करीब पहुंच गए हैं।’ आईपीपीबी पेमेंट्स बैंक की मंजूरी पाने वाली एयरटेल और पेटीएम के बाद तीसरी इकाई है। सेठी के मुताबिक, IPPB अपने सिस्‍टम की टेस्टिंग के लिए कई नजदीकी यूजर ग्रुप के साथ 250 से ज्‍यादा टेस्टिंग शुरू कर चुका है। 

 

1.55 लाख लास्‍ट माइल एक्‍सेस प्‍वॉइंट 
सरकार का कहना है कि इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक के तहत भारत में मौजूद लगभग 1.55 लाख पोस्‍ट ऑफि‍स ब्रांच ग्राहकों के लिए लास्‍ट माइल एक्‍सेस प्‍वॉइंट की तरह काम करेंगे और 650 पेमेंट बैंक ब्रांच कंट्रोलिंग ऑफिस के तौर पर काम करेंगी। इसका अर्थ यह हुआ कि 650 पेमेंट्स बैंक के अलावा भी सारे पोस्‍ट ऑफिस में पेमेंट बैंक की सुविधा लेने का विकल्‍प रहेगा। इसके अलावा इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक की एक तय समय के अंदर 5,000 एटीएम भी शुरू करने की भी योजना है। 

 

आगे पढ़ें- सरकारी बैंकों से 1.5 फीसदी ब्‍याज मिलेगा 

 

 

 

सेविंग अकाउंट पर मिलेगा 5.5 फीसदी ब्‍याज 

IPPB में तीन तरह के सेविंग्‍स अकाउंट होंगे- रेगुलर सेविंग्‍स अकाउंट 'सफल',  बेसिक सेविंग्‍स बैंक डिपॉजिट अकाउंट (BSBDA) 'सुगम' और BSBDA स्‍मॉल सेविंग्‍स अकाउंट 'सरल'। इन सभी के लिए सालाना ब्‍याज दर 5.5 फीसदी रहेगी, जो पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स अकाउंट के ब्‍याज से 1.5 फीसदी ज्‍यादा है। पोस्‍ट ऑफिस अभी 4 फीसदी ब्‍याज की पेशकश कर रहा है। बता दें कि देश के ज्‍यादातर सरकारी बैंक भी 4 फीसदी के आसपास ब्‍याज देते हैं। ऐसे में IPPB का ऑफर सामान्‍य सरकारी बैंकों से 1.5 फीसदी ज्‍यादा है। 

 

 

1 लाख रु. तक का सेविंग्‍स अकाउंट
फिलहाल इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के तहत आपको सफल और सुगम सेविंग्‍स अकाउंट में 1 लाख रुपए तक मैक्सिमम बैलेंस रखने की सुविधा है। वहीं सरल के लिए यह लिमिट 50,000 रुपए है। 


 

आगे पढ़ें- और कौन सी सर्विस देगा बैंक 

 

 

 

डिजिटल पेमेंट व डॉमेस्टिक रेमिटेंस सर्विसेज
इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक ग्राहकों को डिजिटल पेमेंट की सुविधा भी उपलब्‍ध कराएगा। साथ ही डॉमेस्टिक रेमिेटेंस ऑफरिंग के जरिए फंड ट्रान्‍सफर का सस्‍ता और सुरक्षित माध्‍यम भी देगा। पेमेंट्स बैंक के सभी कस्‍टमर NEFT, IMPS, AEPS, UPI और *99# के तहत डॉमेस्टिक रेमिटेंस के विभिन्‍न मोड्स की सुविधा का लाभ ले सकेंगे। 


करंट अकाउंट और थर्ड पार्टी इंश्‍योरेंस
इंडिया पोस्‍ट पेंमेंट्स बैंक करंट अकाउंट और फाइनेंशियल सर्विस भी उपलब्‍ध कराएगा। इसके तहत इंश्‍योरेंस, म्‍युच्‍युल फंड, पेंशन, क्रेडिट प्रॉडक्‍ट्स, फॉरेक्‍स आदि जैसी सुविधाएं भी मिलेंगी।

 

आगे पढ़े- घर पर भी आकर सर्विस देंगे बैंक के कर्मचारी 

 

 

डोरस्‍टेप बैंकिंग
इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक ग्राहकों को डोरस्‍टेप बैंकिंग की सुविधा भी देगा। इसके तहत कस्‍टमर ऑन बोर्डिंग, कैश बेस्‍ड फाइनेंशियल ट्रान्‍जेक्‍शन (डिपॉजिट व विदड्रॉल), नॉन-कैश बेस्‍ड फाइनेंशियल ट्रान्‍जेक्‍शंस (रेमिटेंस), नॉन-कैश बेस्‍ड नॉन फाइनेंशियल ट्रान्‍जेक्‍शन (बैलेंस इन्‍क्‍वायरी, मिनी स्‍टेटमेंट) शामिल हैं। हालांकि इसके लिए कुछ चार्ज भी तय हैं। इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक में हर तरह के चार्ज की जानकारी आपको https://www.indiapost.gov.in/VAS/DOP_PDFFiles/IPPBScheduleofCharges.pdf पर मिल जाएगी। 

 
डायरेक्‍ट बेनिफिट ट्रान्‍सफर
इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक की स्‍थापना के पीछे सरकार का एक मकसद विभिन्‍न सब्सिडीज के डायरेक्‍ट बेनिफिट ट्रान्‍सफर (डीबीटी) को बेहतर बनाना भी है। इसके लिए पेमेंट्स बैंक एक सुदृढ़ टेक्‍नोलॉजी वाला प्‍लेटफॉर्म उपलब्ध कराएगा। अधिक जानकारी https://www.indiapost.gov.in/VAS/DOP_PDFFiles/CentrefoldBrochure.pdf पर मौजूद है।

 

डिजिटल पेमेंट व डॉमेस्टिक रेमिटेंस सर्विसेज
इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक ग्राहकों को डिजिटल पेमेंट की सुविधा भी उपलब्‍ध कराएगा। साथ ही डॉमेस्टिक रेमिेटेंस ऑफरिंग के जरिए फंड ट्रान्‍सफर का सस्‍ता और सुरक्षित माध्‍यम भी देगा। पेमेंट्स बैंक के सभी कस्‍टमर NEFT, IMPS, AEPS, UPI और *99# के तहत डॉमेस्टिक रेमिटेंस के विभिन्‍न मोड्स की सुविधा का लाभ ले सकेंगे। 


करंट अकाउंट और थर्ड पार्टी इंश्‍योरेंस
इंडिया पोस्‍ट पेंमेंट्स बैंक करंट अकाउंट और फाइनेंशियल सर्विस भी उपलब्‍ध कराएगा। इसके तहत इंश्‍योरेंस, म्‍युच्‍युल फंड, पेंशन, क्रेडिट प्रॉडक्‍ट्स, फॉरेक्‍स आदि जैसी सुविधाएं भी मिलेंगी।

 

आगे पढ़े- घर पर भी आकर सर्विस देंगे बैंक के कर्मचारी 

 

डोरस्‍टेप बैंकिंग
इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक ग्राहकों को डोरस्‍टेप बैंकिंग की सुविधा भी देगा। इसके तहत कस्‍टमर ऑन बोर्डिंग, कैश बेस्‍ड फाइनेंशियल ट्रान्‍जेक्‍शन (डिपॉजिट व विदड्रॉल), नॉन-कैश बेस्‍ड फाइनेंशियल ट्रान्‍जेक्‍शंस (रेमिटेंस), नॉन-कैश बेस्‍ड नॉन फाइनेंशियल ट्रान्‍जेक्‍शन (बैलेंस इन्‍क्‍वायरी, मिनी स्‍टेटमेंट) शामिल हैं। हालांकि इसके लिए कुछ चार्ज भी तय हैं। इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक में हर तरह के चार्ज की जानकारी आपको https://www.indiapost.gov.in/VAS/DOP_PDFFiles/IPPBScheduleofCharges.pdf पर मिल जाएगी। 

 
डायरेक्‍ट बेनिफिट ट्रान्‍सफर
इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक की स्‍थापना के पीछे सरकार का एक मकसद विभिन्‍न सब्सिडीज के डायरेक्‍ट बेनिफिट ट्रान्‍सफर (डीबीटी) को बेहतर बनाना भी है। इसके लिए पेमेंट्स बैंक एक सुदृढ़ टेक्‍नोलॉजी वाला प्‍लेटफॉर्म उपलब्ध कराएगा। अधिक जानकारी https://www.indiapost.gov.in/VAS/DOP_PDFFiles/CentrefoldBrochure.pdf पर मौजूद है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट