विज्ञापन
Home » Economy » BankingFederal Bank to give scholarships to children of security personnel

पुलवामा शहीदों के बच्चों की पढ़ाई में मदद करेगा फेडरल बैंक, स्कॉलरशिप देने का ऐलान

उच्च शिक्षा प्राप्त करने वाले छात्रों को मिलेगा लाभ

Federal Bank to give scholarships to children of security personnel

Federal Bank to give scholarships to children of security personnel निजी क्षेत्र के फेडरल बैंक ने शहीद सैनिकों के बच्चों को एक लाख रुपये तक की छात्रवृत्ति देने की घोषणा की है। बैंक ने सोमवार को यहां जारी बयान में कहा कि सशस्त्र बलों के परिवार के कल्याण के लिए दो अनूठी पेशकश की जा रही है। उसने कहा कि राष्ट्र के लिए स्वयं को न्योछावर करने वाले सशस्त्र बल के जवानों के बच्चों को वर्ष 2019-20 के शैक्षिक सत्र से एक लाख रुपये तक की छात्रवृत्ति दी जायेगी।

मुंबई। निजी क्षेत्र के फेडरल बैंक ने शहीद सैनिकों के बच्चों को एक लाख रुपये तक की छात्रवृत्ति देने की घोषणा की है। बैंक ने सोमवार को यहां जारी बयान में कहा कि सशस्त्र बलों के परिवार के कल्याण के लिए दो अनूठी पेशकश की जा रही है। उसने कहा कि राष्ट्र के लिए स्वयं को न्योछावर करने वाले सशस्त्र बल के जवानों के बच्चों को वर्ष 2019-20 के शैक्षिक सत्र से एक लाख रुपये तक की छात्रवृत्ति दी जायेगी। 

 

आरक्षित वर्ग के लिए 25 छात्रों को यह छात्रवृत्ति मिलेगी


इसके लिए वे बच्चे आवेदन कर सकते हैं जिनका मैरिट के आधार पर सरकारी, सहायता या स्व वित्त पोषित एमबीबीएस, इंजीनियरिंग, बीएससी नर्सिग, बीएससी एग्रिकल्चर, एमबीए आदि पाठ्यक्रमों में दाखिला लेते हैं। बैंक 10 मेधावी छात्रों को सामान्य श्रेणी में यह छात्रवृत्ति देगी और आरक्षित वर्ग के लिए 25 छात्रों को यह छात्रवृत्ति मिलेगी। 

 

पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुआ था आतंकी हमला


बैंक ने इसके साथ ही चालू महीने में ग्राहकों द्वारा जिनती संख्या में ऑनलाइन लेनदेन किये जायेंगे उतनी राशि वह सैन्य कल्याण कोष में देगी। गौरतलब है कि जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा (Pulwama Blast) में अवन्तीपुरा के गोरीपुरा इलाके में सीआरपीएफ (CRPF) के काफिले पर बड़ा फिदायीन आतंकी हमला हुआ था। हमले में तीन दर्जन से अधिक जवान शहीद हो गए, कई दर्जन जवान घायल हुए। इस काफिले में 2500 जवान शामिल थे। 
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss