Home » Economy » BankingCBI arrests Gitanjali Group vice president Vipul Chitalia

CBI ने गीतांजलि के VP को किया अरेस्‍ट, 17 मार्च तक की कस्टडी

पीएनबी फ्रॉड मामले में सीबीआई ने मंगलवार को गीतांजलि जेम्स के वाइस प्रेसिडेंट विपुल चितालिया को अरेस्‍ट किया।

1 of

 

नई दिल्‍ली। पीएनबी फ्रॉड मामले में सीबीआई ने मंगलवार को गीतांजलि जेम्स के वाइस प्रेसिडेंट विपुल चितालिया को अरेस्‍ट किया। जांच एजेंसी ने इसे बैंकॉक से लौटते ही मुंबई एयरपोर्ट पर अरेस्‍ट किया। बाद में इसे सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने चितालिया को 17 मार्च तक सीबीआई कस्टडी में भेज दिया है। वहीं, जांच एजेंसी ने मामले में आईसीआईसीआई बैंक की चीफ चंदा कोचर और एक्सिस बैंक की प्रमुख शिखा शर्मा को समन भेजा है।

 

 

पीएनबी घोटाला का मास्टरमाइंड

सीबीआई ने कोर्ट में विपुल चितालिया की रिमांड मांगते वक्त उसे पीएनबी घोटाला का मास्टरमाइंड बताया।  बता दें कि पीएनबी ने पिछले दिनों सेबी और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को करीब साढ़े ग्यारह हजार करोड़ रुपए के घोटाले के जानकारी दी। पीएनबी ने हाल ही में सीबीआई को बैंक में 1300 करोड़ के नए फ्रॉड की जानकारी दी थी। यह मेहुल चौकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स से जुड़ा है। इस तरह पीएनबी फ्रॉड 12,672 करोड़ हो गया है। 2011 से 2018 के बीच हजारों करोड़ की रकम 297 फर्जी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग (LoUs) के जरिए विदेशी अकाउंट्स में ट्रांसफर की गई।  इस घोटाले के मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी और गीताजंलि जेम्स के मालिक मेहुल चौकसी हैं। दोनों देश छोड़कर जा चुके हैं।

 

 

सीबीआई ने अब तक 198 लोकेशन पर मारे छापे

- 14 फरवरी को सीबीआई ने पहली एफआईआर नीरव मोदी, उसकी पत्नी अमी, भाई निशाल और नीरव के मामा मेहुल चौकसी के खिलाफ दायर की थी। मोदी, उसकी फैमिली और चौकसी जनवरी में ही देश छोड़कर चले गए थे।

- 15 फरवरी को चौकसी के गीतांजलि ग्रुप के खिलाफ सीबीआई ने दूसरी एफआईआर दर्ज की। इसमें गीतांजलि द्वारा 4886.72 करोड़ के फ्रॉड की बात कही गई।

- अब तक इस मामले में सीबीआई ने देश में 198 लोकेशन पर मारे गए छापे में 6 हजार करोड़ की संपत्ति जब्त की है और 18 लोगों को गिरफ्तार किया है।

 

5 फरवरी को 4 लोगों को अरेस्ट किया गया

- सोमवार को सीबीआई ने बैंक के जनरल मैनेजर (ट्रेजरी) एसके चंद से पूछताछ की। फायरस्टार के प्रेसिडेंट (फाइनेंस) विपुल अंबानी समेत 6 आरोपी सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेश किए गए। कोर्ट ने उन्हें 19 मार्च तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया। विपुल अंबानी रिलायंस ग्रुप के प्रमुख मुकेश अंबानी का चचेरा भाई है।

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट