Home » Economy » BankingBank employees to go on 2-day strike from Wednesday

पीएसयू बैंकों में आज से दो दि‍न की हड़ताल, वेतन बढ़ोतरी को लेकर नहीं बनी सहमति

बुधवार से देश के करीब 10 लाख बैंक कर्मचारी दो दि‍न की हड़ताल पर हैं।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। अगर बैंक से जुड़ा कोई काम हो तो फि‍लहाल उसे टाल दें क्‍योंकि‍ देश के करीब 10 लाख बैंक कर्मचारी दो दि‍न की हड़ताल पर चले गए हैं। कम वेतन बढ़ने व अन्‍य मांगो को लेकर लंबे समय से बैंक यूनियनों व सरकार  के बीच चल रही बातचीत का कोई हल ना नि‍कलता देख कर्मचारि‍यों ने यह फैसला लि‍या है।

 

एडि‍शनल चीफ लेबर कमि‍शनर (CLC) राजन वर्मा ने यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन (UFBU) के बैनर तले बैंक यूनि‍यन और इंडि‍यन बैंक असोसिएशन (IBA) के प्रति‍नि‍धि‍यों से मुलाकात कर हड़ताल को टालने का प्रयास कि‍या था मगर बात नहीं बनी। UFBU के तहत नौ यूनियन आती हैं। इनमें ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कन्‍फेडरेशन (AIBOC), ऑल इंडिया बैंक इंप्‍लॉइज एसोसिएशन (AIBEA), नेशनल ऑर्गेनाइजेशन ऑफ बैंक वर्कर्स (NOBW) भी शामिल हैं। 

 

नाकाम रही कोशि‍श 
 बैंक यूनि‍यन, वि‍त्‍त मंत्रालय और बैंक मैनेजमेंट अधिकारि‍यों से मुलकात की। ऑल इंडि‍या बैंक इम्‍प्‍लॉइज असोसि‍एशन के महासचि‍व सीएच वेंकटचलम ने कहा कि सीएलसी ने हड़ताल से जुड़े मामलों को नि‍पटाने की भरपूर कोशि‍श की। हालांकि आईबीए के माध्‍यम से बैंकरों ने कहा कि वह वेतन बढ़ोतरी पर दोबारा वि‍चार करने को तैयार हैं। हालांकि इस मुद्दे पर कुछ ठोस नहीं हो पाया।  

 

इसलिए खफा हैं बैंक यूनियन्‍स 

बता दें कि बैंक कर्मचारियों के वेतन में नवंबर 2017 के बाद से बढ़ोत्‍तरी नहीं हुई है। डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंशियल सर्विसेज, वित्‍त मंत्रालय और भारत सरकार की ओर से IBA को बैंक कर्मचारियों के वेतन में जल्‍द बढ़ोत्‍तरी के लिए दो बार लेटर लिखा था। लेकिन IBA ने बातचीत की प्रक्रिया में देरी की और मीटिंग के 10 राउंड में केवल मैनेजमेंट और नॉन-फाइनेंशियल मुद्दों पर चर्चा की गई। उसके बाद 5 मई 2018 की मीटिंग में IBA ने केवल 2 फीसदी की वेतन वृद्धि का प्रस्‍ताव रखा, जिसे बैंक यूनियन्‍स ने अस्‍वीकार कर दिया। इसके बाद उन्‍होंने 30 और 31 मई को राष्‍ट्रव्‍यापी हड़ताल का फैसला लिया। 

 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट