विज्ञापन
Home » Economy » BankingAmerica's central bank raises lending rates for 4th time this year, defies Prez Trump

ट्रंप की चेतावनी के बावजूद फेडरल रिजर्व ने बढ़ाई ब्याज दरें, ग्लोबल मार्केट में गिरावट

गिरावट के साथ बंद हुए अमेरिकी शेयर बाजार

America's central bank raises lending rates for 4th time this year, defies Prez Trump

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चेतावनी के बाद भी अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडलर रिजर्व ने बुधवार को ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर दी। 0.25 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद अब यह 2.25 फीसदी से 2.5 फीसदी हो गई है।

नई दिल्ली। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चेतावनी के बाद भी अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडलर रिजर्व ने बुधवार को ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर दी। 0.25 फीसदी की बढ़ोतरी के बाद अब यह 2.25 फीसदी से 2.5 फीसदी हो गई है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फेडरल रिजर्व से ब्याज दरें बढ़ाकर दोबारा गलती नहीं करने को लेकर आगाह किया था। ब्याज दरों में बढ़ोतरी के बाद फेडरल रिजर्व के चेयरमैन जेरोम पॉवेल ने संवाददाता सम्मेलन में सेंट्रल बैंक की स्वतंत्रता का बचाव करते हुए कहा कि फेडरल की बैठक और फैसलों में राजनीतिक दबाव की कोई भूमिका नहीं है।

 

ब्याज दरें बढ़ने से अमेरिकी शेयर बाजारों में गिरावट

उधर, फेडरल रिजर्व की ओर से ब्याज दरों में बढ़ोतरी के बाद अमेरिका के सभी शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए। डॉउ जोंस इंडस्ट्रियल एवरेज बुधवार को 351.98 अंकों यानी 1.49 फीसदी की गिरावट के साथ 23,323.66 पर बंद हुआ। एसएंडपी 500 सूचकांक 39.2 अंकों यानी 1.54 फीसदी की कमजोरी के साथ 2,505.96 पर आ गया। नैस्डैक कंपोजिट सूचकांक 147.08 अंकों यानी 2.17 फीसदी की कमजोरी के साथ 6,636.83 पर बंद हुआ।

 

भारतीय बाजारों पर भी दिखा असर

अमरीकी फेडरल रिजर्व की ओर से ब्याज दरों में बढ़ोतरी करने का असर गुरुवार को भारतीय बाजारों पर भी दिखा। गुरुवार सुबह बंबई स्टाक एक्सचेंज का बीएसई गिरावट के साथ खुला और सुबह करीब साढ़े 11 बजे 185 अंकों की गिरावट के साथ 36,300 पर कारोबार करता दिखा। वहीं, नेशलल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी शुरुआत में गिरावट के साथ खुला और पहले दो घंटे तक करीब 63 अंकों की गिरावट पर 10,903 पर कारोबार करता दिखा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन