विज्ञापन
Home » Economy » BankingAll bank will be closed for 5 days in next week

इसी सप्ताह निपटा लें सारे काम, फिर 5 दिन बंद रहेंगे देशभर के सरकारी बैंक

क्रिसमस के कारण हो सकती है नकदी की किल्लत

1 of

नई दिल्ली। यदि आपका बैंक से जुड़ा कोई जरुरी काम अभी तक बकाया है तो इसे 20 दिसंबर तक निपटा लें। इसका बाद आपको इस काम को करने के लिए आपको लंबा इंतजार करना पड़ सकता है। इसका कारण यह है कि 20 दिसंबर के बाद देशभर के सरकारी बैंक 5 दिन बंद रहेंगे। इन पांच में से बैंक दो दिन कर्मचारियों की हड़ताल के कारण बंद रहेंगे तो एक दिन क्रिसमस का अवकाश रहेगा। अन्य दो दिन शनिवार और रविवार रहने के कारण अवकाश रहेगा। 

 

कब बंद रहेंगे बैंक 

 

इस सप्ताह बैंकों में 20 दिसंबर तक कामकाज सुचारू रूप से चलेगा। शुक्रवार 21 दिसंबर को बैंक कर्मचारियों की हड़ताल रहेगी। इस कारण सभी सरकारी बैंकों में कामकाज ठप रहेगा। इसके अगले दिन यानी 22 दिसंबर को महीने का चौथा शनिवार होने का कारण देशभर के सभी  सरकारी और प्राइवेट बैंकों में अवकाश रहेगा। 23 दिसंबर को रविवार को कारण सभी बैंकों में अवकाश रहेगा। 24 दिसंबर को सभी बैंकों में कामकाच सुचारू रूप से होगा। 25 दिसंबर को क्रिसमस के कारण सभी बैंकों में अवकाश रहेगा, जबकि 26 दिसंबर को बैंक कर्मचारियों की यूनाइटेड फोरम की हड़ताल के कारण सभी सरकारी बैंक बंद रहेंगे। 21 से 26 दिसंबर तक 6 दिन में से बैंक केवल एक दिन खुलेंगे। हालांकि, हड़ताल वाले दिनों में प्राइवेट बैंकों में कामकाज होगा। 

 

आगे पढ़ें-- हड़ताल के कारण हो सकती है नकदी की किल्लत

हो सकती है नकदी की किल्लत

 


इस सप्ताह शुक्रवार के बाद 5 दिनों तक बैंकों के बंद रहने से नकदी की किल्लत हो सकती है। इसका कारण यह है कि इन पांच दिनों में शनिवार, रविवार और क्रिसमस का त्योहार होने के कारण लोगों को अधिक रुपयों की जरुरत पड़ेगी। ऐसे में नकदी की किल्लत से बचने के लिए आप पहले ही पर्याप्त नकदी का इंतजाम कर लें। हालांकि, बैंकों ने कहा है कि लोगों की नकदी की किल्लत नहीं होने दी जाएगी। इसके लिए एटीएम में पर्याप्त मात्रा में कैश डाला जाएगा।

 

आगे पढ़ें-- किसलिए हड़ताल कर रहे हैं बैंक कर्मचारी

इसलिए हड़ताल कर रहे हैं बैंक कर्मचारी


केंद्र सरकार की नीतियों के विरोध में बैंक कर्मचारियों के संगठनों ने 21 और 26 दिसंबर को हड़ताल का आह्वान किया है। यह कर्मचारी संगठन तीन बैंकों के विलय, वेतन वृद्धि, एनपीएस और पेंशन जैसी मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे हैं। बैंक कर्मचारियों ने केंद्र सरकार से 8 फीसदी वेतन वृद्धि की मांग रखी है लेकिन सरकार ने इसे ठुकरा दिया है। बैंक कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर अड़े हैं। बैंक कर्मचारियों का कहना है कि उनका वेतन सातवें वेतन आयोग के अनुसार किया जाए।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन