Home »Economy »Banking» SBI Branch Opened 2000 Accounts To Channelize Black Money

ब्‍लैकमनी खपाने के लि‍ए SBI में खोले गए 2000 से ज्‍यादा अकाउंट, CBI ने दर्ज की FIR

नई दि‍ल्‍ली।नोटबंदी के बाद से 31 दि‍संबर तक एसबीआई की बरेली ब्रांच में कालेधन को सफेद करने के लिए 2000 से ज्‍यादा खाते खोले गए। सीबीआई की जांच में यह बात सामने आई है कि‍ इन बैंकों के माध्‍यम से कम से कम 8 करोड़ की ब्‍लैकमनी को खपाया गया।
 
भारी मात्रा में कैश जमा कराया 
सीबीआई ने इस मामले में आपराधि‍क षडयंत्र, धोखाधड़ी और भ्रष्‍टाचार की धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है। कि‍सी सूचना के आधार पर सीबीआई ने यूपी के बरेली में सि‍वि‍ल लाइन स्‍थि‍त ब्रांच का औचक नि‍रीक्षण कि‍या था। जांच पड़ताल के दौरान यह बात सामने आई कि‍ बीते साल 8 नवंबर को नोटबंदी की घोषणा के बाद इस शाखा में खुले नए अकाउंट्स में भारी मात्रा में कैश जमा कराया गया।
 
अधि‍कारि‍यों ने 2441 नए अकाउंट खोले
आठ नवंबर से 31 दि‍संबर के बीच बैंक अधि‍कारि‍यों ने 2441 नए अकाउंट खोले। इनमें से 667 सेविंग अकाउंट, 53 करंट, 94 जनधन अकाउंट, 50 पीपीएफ, 1518 एफडी, 13 फेस्‍टि‍वल अकाउंट, दो सीनि‍यर सि‍टि‍जन अकाउंट और एक सरकारी खाता शामि‍ल है।
 
794 ट्रांजैक्‍शन में 1 लाख से अधि‍क जमा कराए
पड़ताल में पता चला कि‍ इस तरह की 794 ट्रांजैक्‍शन हुईं, जि‍नमें 1 लाख रुपए से अधि‍क रुपए जमा कराए गए। कुछ मामलों में भारी मात्रा में नकदी जमा कराई गई, मगर जमा करवाने वाले ने इसका स्रोत नहीं बताया।
 
अधि‍कारि‍यों पर ये आरोप
आरोप है कि‍ यह खाते बैंक अधि‍कारि‍यों ने कुछ लोगों की सुवि‍धा के लि‍ए खोले ताकि‍ वह बि‍ना कि‍सी वाजि‍ब रि‍कॉर्ड नोट बदलवा सकें। एफआईआर के मुताबि‍क, ऐसा सामने आया है कि‍ नोटबंदी के बाद बैंक अधि‍कारि‍यों ने 267 डोरमैट अकाउंट को फि‍र से चालू करवा दि‍या ताकि‍ नोट बदले जा सकें। 

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY