विज्ञापन
Home » Do You Know » Share » FactsCommon man, business community enjoy special works of Diwali

दिवाली पर ही होते ये हैं 5 काम, आम आदमी से लेकर सबके लिए है खास

देश में दिवाली आम आदमी से लेकर बिजनेसमैन तक सभी के लिए खास मायने रखती है। इस अवसर पर कई सारे बिजनेसमैन अपने 70-80 फीसदी तक सामान की खरीद-बिक्री कर लेते हैं।

1 of
 
नई दिल्‍ली। देश में दिवाली आम आदमी से लेकर बिजनेसमैन तक सभी के लिए खास मायने रखती है। इस अवसर पर कई सारे बिजनेसमैन अपने 70-80 फीसदी तक सामान की खरीद-बिक्री कर लेते हैं। वास्‍तव में दिवाली को भारत में सबसे बड़े शॉपिंग सीजन के रूप में भी जाना जाता है। लेकिन दिवाली के अवसर पर हम कई ऐसी चीजों की शुरुआत करते हैं, जो वर्षभर चलती हैं और जिनसे हमारी धार्मिक और व्‍यावसायिक धारणाएं जुड़ी हुई हैं। मनी भास्‍कर आज आपको ऐसे ही कुछ बेहद रोचक फैक्‍ट्स की जानकारी देने जा रहा है। 
 
स्‍टॉक एक्‍सचेंज में होती है मुहूर्त ट्रेडिंग
 
भारत में दिवाली को धन की देवी लक्ष्‍मी के साथ जोड़कर देखा जाता है। यही वजह है कि इस दिन पैसा खर्च करने और कमाने दोनों को शुभ माना जाता है। इसी महत्‍व को देखते हुए शेयर बाजार में भी विशेष रूप से ट्रेडिंग होती है। दिवाली के अवसर पर बांबे स्‍टॉक एक्‍सचेंज (बीएसई) और नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज (एनएसई) में मुहूर्त ट्रेडिंग का विशेष सत्र रखा जाता है।
 
अगली स्‍लाइड में जानिए, दिवाली पर होते हैं ये पांच काम......   
 
 

 
नए अकाउंट खोलते हैं कारोबारी
 
दिवाली के दिन से ही कारोबारियों के नए फाइनेंशियल ईयर की शुरुआत होती है। इसलिए कारोबारी इस दिन अपना नया खाता-बही (अकाउंट)  खोलते हैं और मां लक्ष्‍मी और भगवान गणेश की पूजा करते हैं।
 
 
धनतेरस को विशेष शॉपिंग
 
भारत में 5 दिनों तक चलने वाले दिवाली का त्‍योहार बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है। दिवाली से दो दिन पहले धनतेरस को लोग स्‍पेशल शॉपिंग करते हैं। आमतौर पर धनतेरस को चांदी खरीदने की प्रथा है। लेकिन, आजकल लोग धनतेरस पर बड़े पैमाने पर कार, फ्रीज, वाशिंग मशीन और एलईडी टीवी आदि की खरीददारी करते हैं। धनतेरस के दिन ही लोग दिवाली की रात में पूजा करने के लिए लक्ष्‍मी-गणेश की मूर्तियां भी खरीदते हैं। इसके अलावा लोग सोने के सिक्‍के और ज्‍वेलरी आदि भी खरीदते हैं।
 
 
फसल काटने और बोने का समय
 
दिवाली के अवसर पर ही किसान खरीफ फसलों के बेहतर पैदावार और आने वाले साल में रबी फसलों की बुआई की अच्‍छी शुरुआत हो, इसके लिए भगवान की पूजा और प्रार्थना करते हैं। दरअसल भारत में सदिर्यों के साथ ही खेतीबारी का समय भी शुरू होता है।
 
 
 
हिंदुओं के नए संवत वर्ष की शुरुआत
 
भारत में दिवाली से ही हिंदुओं के नए साल संवत वर्ष की शुरुआत होती है। संवत वर्ष प्राचीन हिंदू परंपरा के अनुसार चंद्र कैलैंडर पर आधारित है। इस दिवाली से हिंदुओं के नए साल संवत वर्ष 2073 शुरू होगा।
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss