Home »Do You Know »Economy »Facts» What Is The Difference Between Money Bill And Ordinary Bill

जानिए क्‍या होता है मनी बिल, आधार एक्‍ट को लेकर क्‍या है विवाद

 
नई दिल्‍ली।आधार बिल को मनी बिल के तौर पर लोकसभा से पास कराने को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। इस बिल को कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। कांग्रेस ने कोर्ट में दलील दी है कि आधार बिल को मनी बिल के तौर पर लोकसभा से पास नहीं कराया जा सकता, क्‍योंकि मनी बिल और आम बिल में फर्क होता है। ऐसे में आइए जानते हैं कि मनी बिल क्‍या होता है और इस तरह के बिल को संसद से पास कराने की प्रक्रिया क्‍या है।      
 
 
 
क्‍या होता है मनी बिल
 
 
मनी बिल वह बिल होता है, जिसमें केवल धन से जुड़े हुए प्रस्ताव शामिल किया गया हो। इस बिल के अंतर्गत सिर्फ राजस्व और खर्च से जुड़े हुए मामले ही आते हैं। मनी बिल पर राज्यसभा में सिर्फ चर्चा हो सकती है, लेकिन उस बिल पर राज्‍यसभा में वोटिंग नहीं हो सकती है। इसके अलावा मनी बिल पर राज्यसभा सिर्फ अपनी राय दे सकती है, लेकिन उसमें कोई संशोधन नहीं कर सकती और ना ही कोई प्रस्‍ताव ला सकती है। लोकसभा मनी बिल पर दी गई सलाहों को मानने और न मानने के लिए पूरी तरह से स्वतंत्र है। आम तौर पर मनी बिल को लोकसभा में ही पेश किया जाता है और उस पर अंतिम फैसला लोकसभा ही लेती है।
 
 
अगली स्‍लाइड में जानिए मनी बिल संसद के किस सदन में होता है पेश.... 
 
 

और देखने के लिए नीचे की स्लाइड क्लिक करें

Recommendation

    Don't Miss

    NEXT STORY