Home » Do You Know » Banking » FAQE-way bill & GST - ई-वे बिल और जीएसटी

कस्टमर को 50,000 के प्रोडक्ट ले जाने पर बनाना होगा ई-वे बिल

कस्टमर को भी 50 हजार रुपए से अधिक का माल या प्रोडक्ट स्वयं खरीदकर ले जाने पर ई-वे बिल बनाना होगा।

E-way bill & GST - ई-वे बिल और जीएसटी

नई दिल्ली। कस्टमर को भी 50 हजार रुपए से अधिक का माल या प्रोडक्ट स्वयं खरीदकर ले जाने पर ई-वे बिल बनाना होगा। सरकार की तरफ से जारी क्लैरिफिकेशन में यह सामने आया है कि 50,000 रुपए से अधिक का टीवी, मोबाइल खरीदने पर अगर कन्ज्यूमर स्वयं अपने व्हीकल में दूसरे राज्य में लेकर जाता है तो उसे भी ई-वे बिल बनाना होगा।

 

 

कन्ज्यूमर को भी बनाना होगा ई-वे बिल

 

चार्टेड अकाउंटेंट शुभी गुप्ता ने moneybhaskar.com को बताया कि सरकार ने ई-वे बिल को क्लैरिफिकेशन दिए हैं। इन क्लैरिफिकेशन में कहा गया है कि एक कन्ज्यूमर को भी 50 हजार रुपए से अधिक का माल या प्रोडक्ट ट्रांसपोर्ट करने पर ई-वे बिल बनाना होगा। यानी अगर कोई कस्टमर 50 हजार रुपए से अधिक का मोबाइल या टीवी खरीदता है जिसे वह अपने स्वयं के व्हीकल में लेकर जाता है तो उसे ई-वे बिल जेनरेट करना होगा। ये ई-वे बिल कन्ज्यूमर के तरफ से टैक्सपेयर या सप्लायर बना सकता है। कन्ज्यूमर स्वयं भी ई-वे बिल के पोर्टल पर सिटीजन के तौर पर रजिस्टर कर ई-वे बिल जेनरेट कर सकता है।

 

पब्लिक ट्रांसपोर्ट में प्रोडक्ट ले जाने पर भी बनाना होगा ई-वे बिल

 

 

अगर कोई भी डीलर या सप्लायर पब्लिक ट्रांसपोर्ट जैसे बस, मेट्रो के जरिए 50 हजार रुपए से अधिक का गुड्स ट्रांसपोर्ट करते हैं तो उन्हें ई-वे बिल बनाना होगा। ताकि चेकिंग के समय ई-वे बिल दिखाया जा सके।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट