Home » Business Mantralow investment business : business ideas

7 दिन में शुरू हो जाते हैं ये 5 बिजनेस, आप भी कर सकते हैं ट्राई

काफी कम पैसे में शुरू कर सकते हैं ये बिजनेस

1 of


नई दिल्ली. अक्सर लोग अपनी कमाई बढ़ाने के लिए बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, लेकिन वक्त और पैसों की कमी की वजह से वो पीछे हट जाते हैं। आम धारणा है कि कारोबार शुरू करने में काफी वक्त लगता है और इसमें शुरुआत में पैसा भी लगाना पड़ता है। कई ऐसे छोटे और सफल बिजनेस चल रहे हैं जो आप कोई भी 7 दिन में शुरू कर सकता है। इनमें शुरुआती लागत भी काफी कम होती है। आगे हम आपको ऐसे कारोबार बता रहे हैं जिन्हें शुरू करने में लंबे इंतजार की जरूरत नहीं हैं और न ही बड़े शुरूआती निवेश की जरूरत है।

 

 1. स्टॉक ट्रेडिंग
स्टॉक मार्केट को गंभीरता से लेने वाले ट्रेडिंग को एक अच्छा कारोबार बना सकते हैं।
मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक कानपुर के एक ट्रेडर एकांश मित्तल ने 9 साल में एक आम ट्रेडर से शुरुआत कर अपनी सफल कंपनी स्थापित की है। 6 साल में उनका रिटर्न 1700 फीसदी से ज्यादा रहा।
एकांश ने 2008 में अपना डीमैट अकाउंट खोला और पॉकेट मनी के साथ निवेश की शुरुआत की। प्रैक्टिकल एक्सपोजर मिलने से एकांश को कंपनी खड़ी करने में मदद मिली।
डीमैट अकाउंट 7 दिन से कम समय में शुरू हो जाता है, जिसके बाद आप ट्रेड या निवेश की शुरुआत कर सकते हैं।
( स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग से जुड़े अपने रिस्क हैं, ऐसे में भले ही शुरुआत छोटे स्तर पर हो लेकिन मार्केट और मार्केट के जोखिम से जुड़ी पूरी जानकारी होनी जरूरी है)
 

2. ऑनलाइन ट्यूटर
अगर आप किसी सब्जेक्ट में माहिर हैं तो आप ऑनलाइन ट्यूटर बन कर अपना काम शुरू कर सकते हैं।
देश में कई वेबसाइट्स मौजूद हैं जहां आप लिस्ट होकर ई-ट्यूटर बन सकते हैं।
ऑनलाइन ट्यूशन देने वाली वेबसाइट वेदांतु के मुताबिक उनकी साइट पर एप्लीकेशन से लेकर एक्सपर्ट्स के सामने प्रजेंटेशन देने तक का पूरा प्रोसेस एक हफ्ते में पूरा हो जाता है।
आप यूट्यूब पर अपने लेक्चर से जुड़ा चैनल भी खोल सकते हैं। फिलहाल एग्री, पेंटिंग, क्रिएटिविटी से लेकर मैथ एक्सपर्ट अपने चैनल यूट्यूब पर चला रहे हैं। हिट्स बढ़ने पर यूट्यूब के जरिए कमाई का नया सोर्स खुलता है। वहीं इन्हीं लेक्चर की मदद से उन्हें ऑनलाइन टीचिंग असाइनमेंट मिलने में भी आसानी होती है।

3. हैंडीमैन सर्विस 
हैंडीमैन सर्विस में घर के रखरखाव से जुड़ी सर्विस ऑफर की जाती है।
अगर आप अपनी हैंडीमैन सर्विस खोलना चाहते हैं तो आपको कारीगरों की डिटेल्स रखनी होगी।
ये सर्विस ओला, उबर टैक्सी सर्विस जैसे बिजनेस मॉड्यूल पर काम करती हैं। अगर किसी ग्राहक को प्लंबर, इलेक्ट्रीशियन या कारपेंटर की जरूरत है तो वो सर्विस प्रोवाइडर को कॉल करता है। सर्विस प्रोवाइडर ग्राहक के घर के करीब मौजूद कारीगर को सर्विस रिक्वेस्ट भेज देता है।
सर्विस में भरोसा जरूरी होता है ऐसे में कारीगरों का वैरीफिकेशन सर्विस प्रोवाइडर की जिम्मेदारी होती है। वहीं वेबसाइट या मोबाइल फोन के जरिए कारीगरों या ग्राहकों से डील की जाती है।
शुरुआत बेहद सीमित संख्या में कारीगरों को जोड़ कर एक खास इलाके में की जा सकती है। धीरे धीरे सर्विस और एरिया का दायरा बढ़ाया जा सकता है।
अगर कारीगरों की संख्या सीमित है तो डिटेल्स, वैरीफिकेशन के साथ एडवरटाइजमेंट के लिए एक हफ्ता काफी है।    
 

आगे पढ़ें : 

 
4. लोन एडवाइजर 
लोन / इंश्योरेंस एडवाइजर
- अगर आप लोन से जुड़ी सलाह देने में माहिर हैं, तो आप इस कारोबार को शुरू कर सकते हैं।
- प्रमुख बैंक और इंश्योरेंस कंपनियां अपने प्रोडक्ट्स बेचने के लिए एंजेट्स की नियुक्ति करते रहते हैं।
- आप किसी से जुड़कर एक हफ्ते से कम की ट्रेनिंग के साथ मार्केट में उतर सकते हैं।
- ये एजेंट कमीशन बेस्ड होते हैं, जिससे आप बेहतर कमाई कर सकते हैं।
- अगर आप वित्तीय सलाहकार बनना चाहते हैं तो आपको सर्टिफिकेट हासिल करना होगा, जिसका समय और पैसा आपके कोर्स के हिसाब से होगा।
- लोन एडवाइजर से शुरू कर आप आगे चलकर फाइनेंशियल एडवाइजर बन सकते हैं।  

 

आगे पढ़ें : कैसे बने फ्रीलॉन्सर 
 
 


5. फ्रीलॉन्सर 

- बहुत सारे लोगों के लिए फ्रीलांसिंग एक साइड बिजनेस है, हालांकि अपनी शर्तों पर काम करने वाले फ्रीलांसिंग को मेन बिजनेस की तरह लेते हैं।  
फ्रीलांसर दरअसल वो लोग होते हैं जो किसी कंपनी से जुड़े नहीं होते और अपने क्लाइंट्स के साथ प्रोजेक्ट्स के हिसाब से काम करते हैं।  
अगर आप आईटी से लेकर कंटेंट राइटिंग तक में माहिर हैं तो आप फ्रीलांसिग की शुरुआत कर सकते हैं। 
थोड़ी रिसर्च से आप ऐसी साइट्स का पता कर सकते हैं,  जहां आपको काम और फीस सही तरह से ऑफर होती है।
फ्रीलांसर डॉट इन में आप आसानी से खुद को रजिस्टर कर अपने हिसाब से किसी जॉब के लिए बिड कर सकते हैं। वेबसाइट पर डाटा एंट्री, कंटेंट, ट्रांसलेशन, डिजाइनिंग जैसे प्रोजेक्ट्स के लिए बिड लगा सकते हैं।
सही वेबसाइट्स आपसे काम के बदले पैसों की मांग नहीं करती है। वहीं लिस्ट होने के लिए प्रोसेस भी आसान है।
इसके साथ ही आप डायरेक्ट अप्रोच भी इस्तेमाल कर सकते हैं। अपने काम के आकर्षक सैंपल बना कर वेबसाइट्स, सोशल मीडिया के जरिए डिस्प्ले कर सकते हैं। अगर आपको ऐसी कंपनियों का पता है जो प्रोजेक्ट्स ऑफर करती हैं वहां जाकर सीधे मिल भी सकते हैं। 
 
(नोट- मार्केट में कई फ्रॉड वेबसाइट्स घर बैठे काम का ऑफर देती हैं। ऐसे में सतर्कता जरूरी है)  

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट