Home » Business Mantrasmall business idea : how can start poultry business

विंटर सीजन में इस बिजनेस की रहती है डिमांड, 15 लाख तक हो सकती है इनकम

नाबार्ड की मदद से शुरू कर सकते हैं पॉल्ट्री बिजनेस

1 of

नई दिल्‍ली। अगले महीने से विंटर सीजन शुरू जाएगा। इस सीजन में अंडे और चिकन की डिमांड बढ़ जाती है। यही वजह है कि पॉल्‍ट्री बिजनेस करने का भी यह बहुत सही समय है। अगर आप बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो पॉल्‍ट्री बिजनेस शुरू कर सकते हैं। यह ऐसा बिजनेस है, जिसमें सरकार भी पूरा सपोर्ट करती है। सरकारी एजेंसी (नाबार्ड नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्‍चर एंड रूरल डेवलपमेंट) द्वारा पॉल्‍ट्री बिजनेस का पूरा सपोर्ट किया जाता है। बस आपको इसके बारे में कुछ बारीकियां पता होनी चाहिए। हम आपको न केवल यह बताएंगे कि यह बिजनेस कैसे किया जा सकता है, बल्कि यह भी बताएंगे कि कैसे आप नाबार्ड से सपोर्ट भी ले सकते हैं।

 
सबसे पहले आपके लिए यह जानना जरूरी है कि पॉल्‍ट्री बिजनेस दो तरह का होता है। यदि आप अंडों का बिजनेस करना चाहते हैं या चिकन का। यदि आप अंडे का बिजनेस करना चाहते हैं तो आपको लेयर मुर्गियां पालनी होगी और आप चिकन का बिजनेस करना चाहते हैं तो आपको ब्रायलर मुर्गियां पालनी होंगी।
 
कितने में शुरू होगा यह बिजनेस 

नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्‍चर एंड रूरल डेवलपमेंट (नाबार्ड) द्वारा तैयार किए गए मॉडल प्रोजेक्‍ट्स के मुताबिक यदि आप पॉल्‍ट्री ब्रायलर फार्मिंग करना चाहते हैं और कम से कम 10 हजार मुर्गियों से बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आपको 4 से 5 लाख रुपए का इंतजाम करना होगा, जबकि बैंक आपको लगभग 75 फीसदी यानी कि 27 लाख रुपए तक का लोन मिल जाएगा। यदि आप 10 हजार मुर्गियों से पॉल्‍ट्री लेयर फार्मिंग करना चाहते हैं तो आपको 10 से 12 लाख रुपए का इंतजाम करना होगा और बैंक आपको 40 से 42 लाख रुपए तक का लोन दे सकता है। बैंक से आसानी से लोन लेने के लिए नाबार्ड कंसलटेंसी सर्विस की सहायता भी ली जा सकती है।
 
कितनी होगी कमाई
नाबार्ड के मुताबिक, एक स्‍वस्‍थ चूजा 16 से 18 रुपए में मिल जाता है। और ब्रायलर चूजा अच्‍छा व पौष्टिक आहार मिलने पर 40 दिन में एक किलोग्राम हो जाता है, जबकि लेयर ब्रिड के चूजे 4 से 5 महीने में अंडे देना शुरू कर देते हैं और औसतन डेढ़ साल तक लगभग 300 अंडे देते हैं। नाबार्ड के मॉडल प्रोजेक्‍ट के मुताबिक ब्रायलर फार्मिंग में आप लगभग 70 लाख रुपए तक कमाई कर सकते हैं, जबकि आपका कुल खर्च 64 से 65 लाख रुपए तक हो सकता है, जिसमें चूजे की खरीद, दाना, दवाइयां, इंश्‍योरेंस, शेड का किराया, बिजली का बिल, ट्रांसपोर्टेशन आदि शामिल है। यानी कि आप लगभग 15 लाख रुपए कमाई कर सकते हैं।
 
आगे पढ़ें – कितनी होगी अंडों से कमाई 

 

कितनी होगी अंडों से कमाई
यदि आप 10 हजार मुर्गियों से ब्रायलर फार्मिंग का बिजनेस शुरू करते हैं तो आप पहले साल में लगभग 35 लाख रुपए का अंडे बेच सकते हैं। साथ ही, एक साल बाद मुर्गियों को चिकन के लिए बेच दिया जाता है। इससे लगभग 5 से 7 लाख रुपए की आमदनी होगी। जबकि कुल खर्च लगभग 25 से 28 लाख रुपए होगी और साल भर में 12 से 15 लाख रुपए प्रॉफिट कमा सकते हैं। आगे के सालों में आपकी कैपिटल कॉस्‍ट कम हो जाती है।
 
आगे पढ़ें  – बिजनेस के लिए कितने स्‍पेस की जरूरत होगी

 

बिजनेस के लिए कितने स्‍पेस की जरूरत होगी
 
पॉल्‍ट्री फार्मिंग के लिए स्‍पेस की खास जरूरत होती है। हालांकि यह जरूरी नहीं कि आप किसी विकसित इलाके में ही पॉल्‍टी फार्मिंग करें, क्‍योंकि यह आपके लिए महंगा साबित हो सकता है, लेकिन इतना जरूर है कि पॉल्‍ट्री फार्म शहर के निकट ही हो और वहां तक वाहनों का आना जाना आसान हो। कितने स्‍पेस की जरूरत पड़ेगी, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कितनी मुर्गियों से अपना बिजनेस शुरू करना चाहते हैं। माना जाता है कि एक मुर्गी को कम से कम 1 वर्ग फुट की जरूरत पड़ती है और यदि यह स्‍पेस 1.5 वर्ग फुट हो तो अंडों या चूजों के नुकसान की आशंका काफी कम हो जाती है। इसके अलावा फार्मिंग ऐसी जगह पर करनी चाहिए, जहां बिजली का पर्याप्‍त इंतजाम होना चाहिए। 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट