Home » Business Mantraloan in 59 minutes portal will be launched by PM Modi

मोदी दिलाएंगे बिना गारंटी के 59 मिनट में 1 करोड़ का लोन, कल करेंगे शुरुआत

नए कारोबारियों को करना होगा इंतजार

1 of

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल (शुक्रवार) को छोटे कारोबारियों को बड़ा तोहफा देंगे। वह देश के छोटे और मध्यम वर्ग (MSME) के कारोबारियों के लिए एक 'डिजिटल लेंडिंग प्लेटफॉर्म' की शुरुआत करेंगे। जहां से एक करोड़ रुपए तक का लोन बिना किसी गारंटी के लिया जा सकेगा। साथ ही लोन के लिए बैंकों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। बड़ी बात यह है कि मात्र 59 मिनट में लोन मंजूर हो जाएगा। इसके लिए कारोबारियों को  psbloansin59minutes.com पर रजिस्टर कर अप्लाई करना होगा। 

 

देने होंगे ये डॉक्युमेंट 
लोन के लिए किसी अपने कंप्यूटर से psbloansin59minutes.com पर आवेदन करना होगा। इसके बाद कारोबारी से लोन के लिए तीन तरह के डॉक्युमेंट मांगे जाएंगे। पहला कारोबारी को अपना GSTIN और  GST यूजरआईडी व पासवर्ड देना होगा। दूसरा आयकर रिटर्न ई-फाइलिंग के बारे में जानकारी देनी होगी। तीसरे और अंत में बैंक खाते का स्टेटमेंट अपलोड करना होगा या नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करना होगा। 

 

कितने दिनों में मिल जाएगा लोन
दस्तावेज अपलोड होने के बाद बैंक, मंत्रालय, आयकर विभाग इनकी जांच करेंगे। अगर दस्तावेज सही पाए गए, तो अगल एक हफ्ते में लोन की राशि आपके खाते में पहुंच जाएगी। हालांकि इसमें केवल वर्किंग डेज को शामिल किया जाएगा।

 

ये बैंक देंगे लोन 

यह शायद पहला मौका है, जब सरकारी बैंक एमएसएमई सेक्टर को लोने देने के लिए साथ आए हैं। इसमें SIDBI और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा, पंजाब नेशनल बैंक, इंडियन बैंक और विजया बैंक शामिल हैं। 

 

आगे पढ़ें : नए कारोबारियों को करना होगा इंतजार 

 

नए कारोबारियों को करना होगा इंतजार 
psbloansin59minutes.com पोर्टल पर अभी वर्तमान कारोबारियों का ही रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है, यदि आप नया कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो आपको इस पोर्टल पर अप्लाई करने के लिए इंतजार करना होगा। पोर्टल में अभी इसकी शुरुआत नहीं की गई है। 

 

आगे पढ़ें : लोन के अलावा मिलेंगी ये सुविधा 


लोन के अलावा मिलेंगी ये सुविधा 
मोदी शुक्रवार को विज्ञान भावन में आयोजित कार्यक्रम में इस पोर्टल की शुरुआत करेंगे। इसके अलावा छोटे कारोबारियों को मार्केट उपलब्ध कराने, उन्हें ईज ऑफ डुइंग बिजनेस और रेग्यलुटेरी कम्प्लायंस आसान करने जैसी घोषणा भी की जाएंगी। कारोबारियों को जीएसटी में आने वाली समस्याओं के निदान की भी घोषणा की जाएगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट