विज्ञापन
Home » Business MantraBattery Water Manufacturing Plant: Prime Minister Employment Generation Program

बस 50 हजार में लगा सकते हैं बैटरी वाटर प्लांट, जानें पूरा प्रोसेस

मोदी सरकार देगी 90% लोन और 25% सब्सिडी

Battery Water Manufacturing Plant: Prime Minister Employment Generation Program

Battery Water Plant by Modi Govt: बैटरी वाटर मैन्युफैक्चरिंग प्‍लांट बिजनेस में संभावना को देखते हुए सरकार प्रधानमंत्री इम्प्लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम के तहत इस प्रोजेक्‍ट को लोन भी देती है। अगर आपके पास लगभग 50 हजार रुपए हैं तो आप बैटरी वाटर प्‍लांट लगा सकते हैं, क्योंकि इस पूरे प्रोजेक्‍ट की कॉस्ट 4 लाख 70 हजार रुपए है और इस प्रोग्राम केतहत 90 फीसदी लोन केंद्र सरकार द्वारा दिया जाता है।

नई दिल्‍ली. पिछले कुछ सालों में बैटरी वाटर की डिमांड लगातार बढ़ रही है। वाहनों और इन्‍वर्टर में लगी बैटरियों में कुछ महीनों के अंतराल में पानी डालने की जरूरत होती है। यह पानी अलग तरह का होता है। यह बैटरी वाटर ऑटोमोबाइल मार्केट के अलावा लगभग हर रेसिडेंशियल मार्केट में बिकता है। ऐसे में, शहरों में बैटरी वाटर मैन्‍युफैक्‍चरिंग प्‍लांट भी लग रहे हैं। अगर आप भी कोई ऐसा बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, जिसे लगाने में ज्‍यादा पैसा खर्च नहीं होता तो आप बैटरी वाटर मैन्‍युफैक्‍चरिंग प्‍लांट लगा सकते हैं। 

 

बिजनेस में संभावना को देखते हुए सरकार प्रधानमंत्री इम्‍प्‍लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम के तहत इस प्रोजेक्ट को लोन भी देती है। आज हम आपको इस पूरे प्रोजेक्‍ट के बारे में बताएंगे, ताकि आप इस प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के आधार पर लोन लेकर अपना बिजनेस शुरू कर सको। यह भी पढ़ें .. 

अप्रैल से करना चाहते हैं कमाई तो शुरू करें यह बिजनेस, देखें पूरी प्रोजेक्ट रिपोर्ट

 

 

कितना आएगा खर्च 


सरकार के मॉडल प्रोजेक्‍ट  रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आपके पास लगभग 50 हजार रुपए हैं तो आप बैटरी वाटर प्‍लांट लगा सकते हैं, क्‍योंकि इस पूरे प्रोजेक्‍ट की कॉस्‍ट 4 लाख 70 हजार रुपए है और प्रधानमंत्री इम्‍प्‍लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम के तहत आप लोन भी ले सकते हैं। इस प्रोग्राम के तहत 90 फीसदी लोन केंद्र सरकार द्वारा दिया जाता है। 

 

यह है प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट

 
इक्‍वीपमेंट ( हॉट एयर ब्‍लॉवर, प्‍लास्टिक ड्रम, वाटर लिफ्टिंग पंप, हार्डनेस टेस्टिंग किट, पीएच मीटर, सेमीऑटोमैटिक फिलिंग मशीन, 1 एचपी मोटर, क्‍वालिटी कंट्रोल इक्‍वीपमेंट) पर लगभग 2 लाख 25 हजार रुपए का खर्च आएगा। जबकि आपको लगभग 2 लाख 45 हजार रुपए की वर्किंग कैपिटल की जरूरत पड़ेगी। जिससे आपके प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट 4 लाख 70 हजार रुपए हो जाएगी। 

 

कितनी होगी इनकम

 
प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक, प्रोजेक्‍ट शुरू होने के बाद एक साल के दौरान आपको लगभग 9 लाख रुपए के रॉ-मैटेरियल की जरूरत पड़ेगी। इस तरह आपकी कॉस्‍ट ऑफ प्रोडक्‍शन 14 लाख 70 हजार रुपए आएगी। एक साल में आप 250 किलोलीटर बैटरी वाटर का प्रोडक्‍शन करेगा और इसे बेचकर आपको 16 लाख रुपए मिलेंगे। इस तरह आपको लगभग 1 लाख 29 हजार रुपए की इनकम होगी। 

यह भी पढ़ें . Solar lamp बिजनेस से कमा सकते हैं सालाना 20 लाख रु, सीखें कैसे कर सकते हैं शुरू 

 


मिलेगी 25 फीसदी तक सब्सिडी

 
अगर आप इस प्रोग्राम के तहत लोन लेते हैं तो आपको 25 फीसदी तक सब्सिडी भी मिलती है। शहरी क्षेत्रों में 15 फीसदी और ग्रामीण क्षेत्र में 25 फीसदी सब्सिडी दी जाती है, जबकि स्‍पेश्‍ल कैटेगिरी के लोगों को 25 व 35 फीसदी सब्सिडी दी जाती है। यह भी पढ़ें . 

3.50 लाख में लगाएं पैडी प्रोसेसिंग यूनिट, 90% लोन के लिए ऐसे बनाएं प्रोजेक्ट रिपोर्ट 

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन