Home » Business MantraPMKVY : what is Prime Minister Kaushal vikas yojna

12वीं से कम पढ़े लिखे हैं तो 8000 रु. और फ्री ट्रेनिंग दे रही है सरकार, ऐसे करें अप्लाई

1 करोड़ युवाओं को रोजगार देने के लिए मोदी सरकार की बड़ी पहल

1 of

नई दिल्ली। अगर आप 12वीं से कम पढ़ें लिखे हैं और आप अपने भविष्य को लेकर चिंतित हैं तो परेशान न हों। आप फ्री में ऐसी कोई भी ट्रेनिंग ले सकते हैं, जो आपको अच्छी खासी नौकरी दिला सकती है। बल्कि ट्रेनिंग लेने पर आपको 8000 रुपए भी मिलेंगे। जी हां, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2015 में प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) लॉन्च की थी। आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।  

 

PMKVY क्या है 
PMKVY केन्द्र सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं में से एक है। यह कौशल विकास एवं उद्यमता मंत्रालय की ओर चलाई जाती है। PMKVY का उद्देश्य है देश के युवाओं को उद्योगों से जुड़ी ट्रेनिंग देना है जिससे उन्हें रोजगार पाने में मदद मिल सके। इसमें ट्रेनिंग की फीस सरकार खुद भुगतान करती है। 

 

किन्हें ट्रेनिंग देती है सरकार 
सरकार PMKVY के जरिये कम पढ़े लिखे या 10वीं, 12वीं कक्षा ड्राप आउट (बीच में स्कूल छोड़ने वाले) युवाओं को कौशल प्रशिक्षिण देती है। सरकार ने 2020 तक PMKVY के तहत एक करोड़ युवाओं को कौशल प्रशिक्षण देने का लक्ष्य रखा है। 

 

कैसे करें अप्लाई 
अगर आप इस स्कीम का फायदा उठाना चाहते हैं तो आपको प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) में अपना नामांकन कराना जरूरी होता है। इसके लिए http://pmkvyofficial।org पर जाकर अपना नाम, पता और ईमेल आदि जानकारी भरनी होती है। 

 

ट्रेनिंग सेंटर चुनें 

फार्म भरने के बाद आवेदकर जिस तकनीकी क्षेत्र में ट्रेनिंग करना चाहता है उसे चुनना होगा। इनमें कंस्ट्रक्शन, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं हार्डवेयर, फूड प्रोसेसिंग,फर्नीचर और फिटिंग, हैंडीक्रॉफ्ट, जेम्स एवं ज्वेलरी और लेदर टेक्नोलॉजी जैसे करीब 40 तकनीकी क्षेत्र दिये गए हैं। पसंदीदा तकनीकी क्षेत्र के एक अतिरिक्त तकनीकी क्षेत्र का भी चयन करना होगा। ये जानकारियां भरने के बाद अपने ट्रेनिंग सेंटर का चयन करना होगा।

 

आगे पढ़ें : क्या है PMKVY 

 

 

क्या हैं PMKVY की खास बातें 

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) की 5 खास बातें :- 
- प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) के लिए कोई फीस नहीं चुकानी पड़ती है बल्कि बतौर पुरस्कार राशि करीब 8000 रुपये सरकार देती है।
- इस स्कीम में 3 महीने, 6 महीने और 1 साल के लिए रजिस्ट्रेशन होता है। कोर्स पूरा करने के बाद ही सर्टिफिकेट दिया जाएगा। यह सर्टिफिकेट पूरे देश में मान्य होगा।
- प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) में ट्रेनिंग करने के बाद सरकार आर्थिक सहायता करने के साथ रोजगार मेलों के जरिए सरकार ऐसे युवाओं को नौकरी दिलाने में मदद करती है। 
- PMKVY योजना का उद्देश्य ऐसे लोगों को रोजगार मुहैया कराना है जोकि कम पढ़े लिखे हैं या बीच में स्कूल छोड़ देते हैं। 

 

आगे पढ़ें : SSC करेगा मूल्यांकन
 

- अपने पाठ्यक्रम के पूरा होने पर आपका SSC द्वारा स्वीकृत मूल्यांकन एजेंसी द्वारा मूल्यांकन किया जाएगा। यदि आप मूल्यांकन पास कर लेते हैं और आपके पास वैध आधार कार्ड है, तो आपको सरकारी प्रमाणपत्र तथा स्किल कार्ड प्राप्त होगा। उम्मीदवार कई बार अपना मूल्यांकन करवा सकते हैं,पर उन्हें हर बार मूल्यांकन शुल्क भरना होगा। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट