Home » Business MantraSmall business : how can be a csc vle

कॉमन सर्विस सेंटर खोलकर बढ़ाएं अपनी इनकम, सरकार ने शुरू की 8 नई सेवाएं

2.5 लाख में खोल सकते हैं कॉमन सर्विस सेंटर

1 of

नई दिल्ली. मोदी सरकार कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) का दायरा बढ़ाती जा रही है। अक्टूबर माह में सात नई सेवाओं को कॉमन सर्विस सेंटर से जोड़ा गया है। इससे कॉमन सर्विस सेंटर चलाने वाली विलेज लेवल एंटरप्रेन्योर्स (VLE) की कमाई में इजाफा होगा। आप भी कॉमन सर्विस सेंटर खोलकर अपनी इनकम बढ़ा सकते हैं। अभी दावा किया जा रहा है कि कॉमन सर्विस सेंटर चलाने वाले VLE की मंथली इनकम 30 हजार रुपए तक हो जाती है, लेकिन सर्विस का दायरा बढ़ने  के बाद इसमें काफी इजाफा हो जाएगा। 

 

कौन सी नई सर्विस शुरू की गई 
सीएससी - एसपीवी द्वारा हर माह प्रकाशित पत्रिका सीएससी तरंग के मुताबिक, अक्टूबर माह में आठ नई सेवाएं शुरू की गई। इनमें - 
- पीएचएफआई में यूज होने वाला सामान 
- सोल्यूशन टू चेंज 
- सरल हरियाणा 
- उत्तराखंड लोक सेवा आयोग 
- एनएचआरसी ऑनलाइन शिकायत पंजीकरण 
- गोल्ड रश 
- ऑनलाइन बिल पेमेंट (आंध्र प्रदेश दक्षिणी पावर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी लिमिटेड) 

- प्रधानमंत्री उज्जवला स्कीम 

 

आप भी खोल सकते हैं CSC 
सरकार जिस तेजी से कॉमन सर्विस सेंटर की सर्विसेज का दायरा बढ़ा रही है, उससे इन सेंटर की इनकम में काफी वृदि्ध हो रही है। ऐसे में आप भी कॉमन सर्विस सेंटर खोल सकते हैं। दरअसल, नेशनल ई-गवर्नेंस प्‍लान के तहत सरकार सभी सरकारी सर्विस सस्‍ती दर पर लोगों तक पहुंचाना चाहती है। इसके लिए डिपार्टमेंट ऑफ इन्फॉर्मेशन एंड टेक्‍नोलॉजी द्वारा देश भर में कॉमन सर्विस सेंटर खोले जा रहे हैं। कॉमन सर्विस सेंटर, जिन युवकों को दिया जाता है, उन्‍हें विलेज लेवल एंटरप्रेन्‍योर कहा जाता है। 
  
कितना करना होगा इन्‍वेस्‍टमेंट 
यदि आप सीएससी खोलना चाहते हैं तो आपके पास कम से 100 से 150 वर्ग फुट स्‍पेस होना चाहिए। इसके अलावा कम से एक कम्प्‍यूटर (यूपीएस के साथ), एक प्रिंटर, डिजिटल/वेब कैमरा, जेनसेट या इन्वर्टर या सोलर पैनल, ऑपरेटिंग सिस्‍टम और एप्‍लिकेशन सॉफ्टवेयर, ब्रॉडबैंड कनेक्‍शन होना चाहिए। इन सब पर आपको 2 से 2.5 लाख रुपए का इन्वेस्‍टमेंट करना पड़ सकता है। 


आगे पढ़ें : क्‍या करना होगा 

 

क्‍या करना होगा 
वीएलई बनने के लिए आपके पास आधार नंबर होना जरूरी है। इसके जरिए आप https://csc.gov.in वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। उसके आधार पर आपको ओटीपी नंबर मिलेगा। इसके जरिए आप सीएससी के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। यदि आप ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो ग्राम पंचायत या नगर पंचायत स्‍तर पर एक कमेटी का गठन किया जा रहा है। आपको इस कमेटी के पास आवेदन करना होगा, जो आपके प्रपोजल की स्‍टडी करने के बाद आपको सीएससी का लाइसेंस देगी।

 

आगे पढ़ें : कैसे कर सकते हैं कमाई 

 

ऐसे कर सकते हैं कमाई 
सीएससी में पैन कार्ड, आधार कार्ड, इलेक्‍शन कार्ड, मतदाता सूची में नाम जुड़वाना, पहचान पत्र, पासपोर्ट बनाने की सुविधा दी जा सकती है। इसके अलावा आप मोबाइल रिचार्ज, मोबाइल बिल पेमेंट, डीटीएच रिचार्ज, इंस्टैंट मनी ट्रांसफर, डाटा कार्ड रिचार्ज, एलआईसी प्रीमियम, रेड बस, एसबीआई लाइफ, बिल क्‍लाउड जैसी निजी सेवाएं भी उपलब्ध करा सकते हैं। यहां बैंकिंग, इन्श्‍योरेंस और पेंशन सर्विस भी दी जा सकती है। सीएससी में प्रौढ़ शिक्षा कार्यक्रम, डिजिटल लिटरेसी प्रोग्राम, वोकेशनल व स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग दी जा सकती है। किसानों को सीएससी के माध्‍यम से मौसम की जानकारी व मिट्टी की जांच जैसी सर्विसेस भी दी जाएंगी। इतना ही नहीं टेलीमेडिसन सर्विस भी लोगों को उपलब्ध कराई जा सकती है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट