बिज़नेस न्यूज़ » Business Mantraहेल्थकेयर सेक्टर में आएंगी 40 लाख जॉब्स, आयुष्मान भारत से होगी शुरुआत

हेल्थकेयर सेक्टर में आएंगी 40 लाख जॉब्स, आयुष्मान भारत से होगी शुरुआत

2025 तक हेल्थ केयर सेक्टर में होगा सालाना 15-16 फीसदी का ग्रोथ

new jobs opportunity :  jobs in health care sector

नई दिल्ली. आने वाले सालों में जॉब्स का ट्रेंड पूरी तरह बदलने वाला है। कई ऐसे सेक्टर तेजी से ग्रोथ कर रहे हैं, जिनमें जॉब्स की डिमांड भी बढ़ने वाली है। ऐसा ही एक सेक्टर है, हेल्थ केयर। इंडस्ट्री बॉडी फिक्की द्वारा शनिवार को फ्यूचर ऑफ जॉब्स इन इंडिया 2.0 में कहा गया है कि भारत में हेल्थ केयर सेक्टर चौथा बड़ा इम्प्लॉयर है और 2022 तक इस सेक्टर में सालाना 16 से 17 फीसदी ग्रोथ होने की संभावना है। रिपोर्ट बताती है कि 2025 तक हेल्थकेयर सेक्टर में 40 लाख जॉब्स क्रिएट होंगी। 

 

कहां आएंगी जॉब्स 
रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2025 तक  1000 की आबादी पर अस्पतालों में 3 बेड का लक्ष्य रखा गया है। इस वजह से लगभग 30 लाख अतिरिक्त बिस्तर की जरूरत पड़ेगी। वहीं, जॉब्स के नजरिए से देखा जाए तो हेल्थ केयर सेक्टर की डिमांड को पूरा करने के लिए 15 लाख 40 हजार अतिरिक्त डॉक्टर्स और 24 लाख अतिरिक्त नर्सों की जरूरत होगी। रिपोर्ट बताती है कि दिसंबर 2017 तक इस सेक्टर में लगभग 12 लाख लोग को जॉब्स मिली हैं। 

 

आयुष्मान भारत से होगी शुरुआत 
रिपोर्ट में कहा गया है कि हाल ही में घोषित आयुष्मान भारत से हेल्थ केयर सेक्टर को काफी सपोर्ट मिलेगा। यह वर्ल्ड का सबसे बड़ा सरकारी फंड पर आधारित कार्यक्रम है। इससे जहां लगभग 1.5 लाख वेलनेस सेंटर खुलेंगे। वहीं, 1.4 बिलियन डॉलर बजट अलोकेट किया गया है। गौरतलब है कि सरकार दावा है कि 1 लाख  आयुष्मान मित्रों की नियुक्ति की जाएगी। यानी कि, हेल्थ केयर सेक्टर में जॉब्स की शुरुआत आयुष्मान भारत कार्यक्रम से शुरू हो जाएगी। यह भी उम्मीद जताई जा रही है कि आयुष्मान भारत के कारण लगभग 10 नई जॉब्स क्रिएट होंगी। 
 

क्या होगा आयुष्मान मित्र का काम 

आयुष्मान मित्र को सरकारी और निजी अस्पतालों में तैनात किया जाएगा। मरीज की डीटेल चेक  करना, उनकी समस्याओं का निवारण करना, उनके बिल को क्लीयर कराने का काम इसी स्वास्य मित्र का होगा। एक तरह से कहें तो मरीजों को इसी स्वास्थ्य मित्र के जरिए ही अस्पतालों में इलाज मिल सकेगा। स्वास्थ्य मित्र के ऊपर एक नोडल अधिकारी होगा। आयुष्मान मित्र बनने की न्यूनतम योग्यता 12वीं पास होगी। मतलब अगर आप 12वीं पास हैं तो आयुष्मान मित्र बन सकते हैं। हालांकि इसके साथ ही कंप्यूटर की बुनियादी जानकारी होना बेहद जरूरी है। अधिकतम उम्र की कोई सीमा नहीं होगी। हालांकि 30 साल के आप पास के लोगों को वरीयता दी जाएगी। न्यूनतम उम्र 18 साल होगी। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट