विज्ञापन
Home » Business Mantrasuccess story of investor and businessman daymond john

27 बैंकों से नहीं मिला लोन, मां ने गि‍रवी रखा घर, आज बेटा 2100 करोड़ का मालि‍क

चुनौतियों से पार पाकर एक बड़े फैशन ब्रांड का मालिक बना यह अमेरिकी

1 of

नई दि‍ल्‍ली। अमेरि‍का के बड़े फैशन ब्रांड के मालि‍क, इन्‍वेस्‍टर, टेलीवि‍जन पर्सनैलिटी और 2100 करोड़ रुपए (30 करोड़ डॉलर) की नेटवर्थ वाले डेमॉन्‍ड जॉन (Daymond John) के करि‍यर की शुरुआत भी चुनौति‍यों से भरी थी। उनकी चुनौति‍यों और परेशानि‍यों को कम करने और मुसीबतों से बाहर नि‍कालने में उनकी मां का योगदान बेहद अहम रहा। जब डेमॉन्‍ड जॉन को उनके हि‍प हॉप स्‍टार्टअप FUBU के लि‍ए 3 लाख डॉलर का ऑर्डर मि‍ला तो वह काफी उत्‍साहि‍त थे। यह एक बेसमेंट में बि‍जनेस करने वाले क्‍लोथिंग ब्रांड के लि‍ए बड़ा ब्रेक था।

 

27 बैंकों ने लोन देने से किया इनकार

बस परेशानी यह थी कि‍ उनको 3 लाख डॉलर के कपड़े का ऑर्डर पूरा करना था। उनके पास न तो इंफ्रास्‍ट्रक्चर था ना ही रि‍सोर्सेज तो वह बैंक के पास लोन मांगने के लि‍ए। वह दूसरे बैंक के पास गए और उसने भी इनकार कर दि‍या। कुल मि‍लाकर जॉन 27 बैंकों के पास गए और सभी ने उनको लोन देने से मना कर दि‍या।  
 

मदद करने के लिए आगे आई मां

बि‍ना बैकअप प्‍लान और ठुकराए जाने के बाद जॉन  (Daymond John) को समझ नहीं आया की वह क्‍या करें। तभी उनकी मां मदद करने के लि‍ए आगे आईं। उन्‍होंने अपने क्‍वींस में मौजूद घर को गि‍रवी रखकर जॉन को 1 लाख डॉलर दि‍ए। इस पैसे से उन्‍होंने अपने घर पर एक मि‍नी फैक्‍ट्री बनाई। हालांकि‍, जल्‍द ही 1 लाख डॉलर घटकर उनके पास महज 500 डॉलर ही बचे।
जॉन को घर का कर्ज चुकाने में छह माह की देरी हो चुकी थी। ऐसे में वह अपने मां के घर को खोने के कगार पर थे। जॉन ने एक इंटरव्‍यू में कहा कि‍ मेरी फाइनेंशि‍यल इंटेलि‍जेंस की टीम और अच्‍छे लोगों का साथ नहीं होने की वजह से नीचे गि‍रता जा रहा था। हालात दिनोंदिन बिगड़ते जा रहे थे।
 

 

मां ने दी सलाह

जॉन अपनी कंपनी को खड़ा करने के लि‍ए रेड लॉब्‍सटर में फुल टाइम जॉब भी करते थे। वह अपने FUBU बि‍जनेस में शि‍फ्ट्स पर काम करते थे। जब पैसे खत्‍म होने लगे तो उनकी मां ने इस परेशानी से नि‍कालने के लि‍ए जॉन से 2,000 डॉलर मांगे। जॉन रेड लॉब्‍सटर गए और कुछ बि‍स्‍कुट और कैश लेकर आए। उस कैश से जॉन की मां ने लोकल पेपर में वि‍ज्ञापन नि‍काला, ’10 लाख ऑर्डर्स के लिए फाइनेंस की जरूरत।’ जॉन ने कहा कि‍ उनकी मां को बढ़ा-चढ़ा पर बोलने में भी डर नहीं लगा था। इस वि‍ज्ञापन के बाद जॉन के बाद 33 कॉल्‍स आए।
 

 
सैमसंग से आया फोन

जॉन के पास जो फोन कॉल्‍स आए वह ज्‍यादातर बेकार थे। हालांकि‍, एक कॉल सैमसंग (Samsung) के टेक्‍सटाइल डि‍वि‍जन से आया। सैमसंग की नजर पहले से ही FUBU पर थी। सैमसंग ने जॉन को एक ऑफर दि‍या। वह उनको ऑर्डर्स के लि‍ए फंड देने के लि‍ए तैयार थे लेकि‍न जॉन के सामने तीन साल में 50 लाख डॉलर की सेल्‍स करने की शर्त रखी। जॉन जानते थे कि‍ यह कोई बड़ी बात नहीं है। उन्‍होंने तीन महीने के भीतर ही 3 करोड़ डॉलर की सेल्‍स की दी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन
Don't Miss