चोरी में 9 बार गया था जेल, आज हर साल कमाता है 850 करोड़ रुपए

आज वह दुनिया के सबसे अमीर टॉप एक्टर्स में शामिल है और वर्ष 2018 तो उसके लिए बेहद शानदार रहा है। इस साल उसने 850 करोड़ रुपए (12.4 करोड़ डॉलर) से ज्यादा कमाई की। वह प्रोडक्शन हाउस समेत अपने कई बिजनेस वेंचर्स भी चला रहा है। उसने रियल एस्टेट में भी काफी इन्वेस्‍ट किया है। लेकिन दुनिया के सबसे अमीर एक्टर और बिजनेस में आगे बढ़ने की उसकी राह बेहद मुश्किल रही है। एक दौर था, जब उसे चोरी और झपटमारी के आरोप में 9 बार जेल जाना पड़ा था। फुटबॉल खिलाड़ी बनने की सोची थी, लेकिन वहां भी किस्मत ने साथ नहीं दी।

 

moneybhaskar

Dec 11,2018 12:31:00 PM IST

नई दिल्ली। आज वह दुनिया के सबसे अमीर टॉप एक्टर्स में शामिल है और वर्ष 2018 तो उसके लिए बेहद शानदार रहा है। इस साल उसने 850 करोड़ रुपए (12.4 करोड़ डॉलर) से ज्यादा कमाई की। वह प्रोडक्शन हाउस समेत अपने कई बिजनेस वेंचर्स भी चला रहा है। उसने रियल एस्टेट में भी काफी इन्वेस्‍ट किया है। लेकिन दुनिया के सबसे अमीर एक्टर और बिजनेस में आगे बढ़ने की उसकी राह बेहद मुश्किल रही है। एक दौर था, जब उसे चोरी और झपटमारी के आरोप में 9 बार जेल जाना पड़ा था। फुटबॉल खिलाड़ी बनने की सोची थी, लेकिन वहां भी किस्मत ने साथ नहीं दी।

दुनिया का 5वां सबसे अमीर एक्टर

हम यहां WWE स्टार और ‘द रॉक’ के नाम से चर्चित एक्टर ड्वेन डगलस जॉनसन (Dwayne Johnson) की बात कर रहे हैं। फोर्ब्स के मुताबिक, जुलाई, 2018 में समाप्त वर्ष के दौरान उन्होंने 12.4 करोड़ डॉलर (850 करोड़ रुपए) की कमाई की। वह सबसे ज्यादा कमाई करने वाले सितारों में दुनिया में 5वें नंबर पर बने हुए हैं।

उन्होंने अपनी फिल्मों और बैलर्स एचबीओ सीरीज से हुई कमाई से खासा फायदा मिला।

गौरतलब है कि रॉक को बॉडी बिल्डिंग के दम पर रेसलिंग में मौका मिल गया। रेसलर के रूप में इतनी पॉपुलैरिटी मिली कि हॉलीवुड में चांस मिल गया। आज वह दुनिया का सबसे पॉपुलर और अमीर एक्टर बन गया। उनकी फिल्मों ने 5290 करोड़ तक का ग्लोबल बिजनेस किया है।

आगे पढ़ें- द रॉक की सफलता की कहानी, किस मजबूरी में उसे करनी पड़ी चोरी

यह भी पढ़ें-न लगाई फैक्ट्री और न की जॉब, इस शख्स ने 35 हजार से बना दिए 500 करोड़

 

अपार्टमेंट से परिवार को क्यों निकाला गया

कैलिफोर्निया के रहने वाले ड्वेन जॉनसन के पिता भी पेशे से रेसलर थे। उनकी नानी रेसलिंग की गिनी-चुनी फीमेल प्रमोटर्स में एक थीं। बाद में उनका परिवार होनोलुलु में शिफ्ट हो गया। लेकिन, वहां एक समय ऐसा भी आया कि परिवार के पास पैसों की इतनी तंगी हो गई कि उन्हें अपार्टमेंट से निकाल दिया गया। मजबूरी में परिवार को छोटे से अपार्टमेंट में रहना पड़ा था। पिता के पास काम नहीं था। तब ड्वेन 14 साल के थे। परिवार को ऐसे हालत में नहीं देखा गया तो उन्होंने कमाई के लिए एक अलग ही राह चुन ली।

 

घर की हालत देख चुनी कौन सी राह

14 साल की उम्र में ड्वेन ने ऐसे ग्रुप का साथ कर लिया जो सड़कों पर झपटमारी का काम किया करते थे। खुद ड्वेन का कहना था कि होनोलुलु में टूरिस्ट बहुत ज्यादा आते हैं, इस वजह से वे सड़क पर आसान शिकार थे। दूसरे देशों से आने वाले टूरिस्ट्स के पास पैसे भी ज्यादा होते थे, इसलिए उनके हाथ अच्छा-खासा कैश, ज्वैलरी लग जाता था। चोरी-झपटमारी के चलते ड्वेन जॉनसन को 9 बार जेल जाना पड़ा। घर वालों का दबाव पड़ा तो उन्होंने यह रास्ता छोड़ दिया।  

 

अगली स्लाइड में, क्या हुआ चोरी छोड़ने के बाद


 

 

चोरी छोड़ने के बाद क्या किया

ड्वेन जॉनसन को शुरू से ही पिता को देखकर बॉडी बिल्डिंग का शौक‍ था। इसी दम पर दमखम वाले खेल रग्बी खेलना शुरू कर दिया। वह यूनिवर्सिटी ऑफ मियामी की नेशनल चैंपियन टीम के हिस्सा रहे। कनाडा की फुटबॉल लीग में भी खेले। लेकिन एक इंजरी की वजह से उन्हें टीम से 2 महीने के लिए बाहर कर दिया गया। जब वह फुटबॉल टीम छोड़कर लौटे तो उनके पास सिर्फ 7 डॉलर बचे थे। इसी वजह से आगे चलकर उन्होंने अपने प्रोडक्शन हाउस का नाम 7 बक रखा।  

अगली स्लाइड में, कैसे खुली ड्वेन जॉनसन की किस्मत

 

 

पिता की राह पर चलकर बदली किस्मत

फुटबॉल टीम से निकाले जाने के बाद ड्वेन भयानक डिप्रेसन में आ गए। फिर किसी ने सलाह दी कि पिता की तर्ज पर रेसलिंग में किस्मत आजमाओ। रेसलर की तरह शरीर थी ही, फिर उन्होंने सोच ली कि वह भी पिता की तर्ज पर चलेंगे। किस्मत ने साथ दी और ड्वेन को 1996 में तब वर्ल्ड रेसलिंग फेडरेशन में एंट्री मिल गई, जिसे आज वर्ल्ड रेसलिंग इंटरटेनमेंट के नाम से जानते हैं। रिंग में वह रॉक के नाम से पॉपुलर हुए और लोग उन्हें पिपुल्स चैंप के नाम से बुलाने लगे। वह रिंग में 1996 से 2004 तक और 2011 से 2014 तक एक्टिव रहे। वह 16 बार चैंपियनशिप जीतने में कामयाब रहे।

 

अगली स्लाइड में, फिल्म ने किया जब 5290 करोड़ का ग्लोबल बिजनेस


 

 

 

फिल्म ने किया 5290 करोड़ का ग्लोबल बिजनेस

रेसलिंग के रिंग में पॉपुलर होने पर बॉलीवुड से ब्रेक मिला। द ममी रिटर्न और द स्कॉर्पियन किंग जैसी फिल्मों से बतौर एक्टर शुरुआत की। द स्कॉर्पियन किंग के लिए उन्हें 37 करोड़ रुपए मिले थे। लेकिन, फास्ट एंड फ्यूरियस-6 ने उन्हें सुपरस्टार बना दिया। फिल्म ने 5290 करोड़ का ग्लोबल कारोबार किया।

 

अगली स्लाइड में, बिजनेस में हुए सफल


 

 

 

एक सफल बिजनेसमैन भी

-ड्वेन जॉनसन का 7 बक नाम से अपना प्रोडक्शन हाउस हैं, जिसके जरिए टीवी प्रोग्राम और फिल्मों का प्रोडक्शन किया जाता है।

- जॉनसन ने अपने कपड़े और फुटवियर ग्लोबली प्रमोट करने के लिए अंडर आर्मर के साथ टाइअप किया है।

- वह रियल एस्टेट के माहिर खिलाड़ी हैं और फ्लोरिडा व कैलिफोर्निया में काफी इन्वेस्टमेंट भी किया है।   

 
X
COMMENT

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.