Home » Business » TradeCII-IWN organised 3rd WomeNation Summit

आत्मनिर्भर हो रही हैं देश की महिला उद्यमी, 57% खुद लेती हैं वित्तीय मामलों से जुड़े फैसले

CII- IWN द्वारा आयोजित 3rd WomeNation Summit के मौके पर जारी हुई रिपोर्ट

CII-IWN organised 3rd WomeNation Summit

 

नई दिल्ली : कंफेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री (CII) के इंडियन वीमेन नेटवर्क (IWN) की रिपोर्ट के मुताबिक देश की महिला उद्यमी अधिक आत्मनिर्भर हो रही हैं। वे तेजी से बदल रहीं वैश्विक परिदृश्य में केंद्रीय भूमिका निभा रही हैं। रिपोर्ट के मुताबिक 57 फीसदी महिला बिजनेस लीडर अपने वित्तीय मामलों की प्लानिंग खुद ही करती हैं। CII- IWN द्वारा मुंबई में आयोजित की गई 3rd WomeNation Summit के मौके पर इस रिपोर्ट को जारी किया गया।

 

नेटवर्किंग को अहमियत देती हैं महिला लीडर्स

 

रिपोर्ट के मुताबिक अधिकतर महिला लीडर्स नेटवर्किंग को बेहद जरूरी मानती हैं। 34 फीसदी महिला उद्यमी नेटवर्क बनाने के लिए व्यावसायिक संस्थाआें और नेटवर्किंग ईवेंट को प्राथमिकता देती हैंवहीं 33.79 फीसदी कार्यस्थल पर सहयोगपूर्ण व्यवहार रखने को जरूरी मानती हैं।

 

काम से छुट्‌टी लेना भी जरूरी

ग्लोबल ट्रेंड्स को देखते हुए भारतीय महिला उद्यमी भी करियर से ब्रेक लेती हैं। सर्वे की गई कुल उद्यमियों में से 42.68 ने काम से कुछ वक्त के लिए छुट्‌टी ली। इनमें से 33.33 फीसदी ने मातृत्व अवकाश लिया और 25  फीसदी ने बच्चों की देखभल के लिए। 16.67 फीसदी ने अपने पति के तबादले के चलते अवकाश लिया औश्र इतनी ही महिलाओं ने सिर्फ खुद को आराम देने के लिए काम से दूरी बनाई। 66.76 फीसदी करियर ब्रेक 1-2 साल के लिए थे। दो फीसदी ब्रेक से साल और 8.33 फीसदी ब्रेक पांच साल के लिए लिए गए। दोबारा काम पर लौटने वाली महिलाओं में से 69.23 फीसदी फुल-टाइम जॉब्स के लिए लौटीं। 23.08 फीसदी महिलाएं ऐसी नौकरियों से जुड़ीं जिनमें समय की पाबंदी नहीं थी। सिर्फ 7.69 फीसदी महिलाओं ने खुद का बिजनेस शुरू कियाताकि वे अपने हिसाब से किसी भी समय काम कर सकें। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट