विज्ञापन
Home » Business » TradeKumbh mela 2019 is opportunity for employment

कुंभ आस्था ही नहीं कारोबार का भी है संगम, नाव चलाने वाले भी करते हैं 1 लाख तक की कमाई

स्थानीय लोग कमाई के लिए कुंभ का सालों तक करते हैं इंतजार

1 of

नई दिल्ली. देशभर में कुंभ धार्मिक आस्था का प्रतीक है। मेले के दौरान यहां करोड़ों की संख्या में लोग पहुंचते है। इससे स्थानीय कारोबारियों को काफी फायदा होता है। इस फेस्टिवल के दौरान स्थानीय कारोबारी 50 हजार से लेकर एक लाख तक की कमाई आसानी से कर लेते हैं। कई निम्म आय वर्ग के लोग अपने सालाना की कमाई कुंभ के दौरान ही कर लेते हैं।

 

कुंभ है स्थानीय लोगों की कमाई का बड़ा जरिया 

Business Insider की रिपोर्ट के मुताबिक कुंभ मेले में श्रद्धालुओं से नाव चालक एक ट्रिप के 600 से ज्यादा रुपए चार्ज करता है, जो कि अधिकतम 18000 रुपए तक हो सकते हैं। इससे आमतौर पर एक नाव चालक कुंभ के दौरान 1 लाख तक की कमाई कर लेता है। स्थानीय अथॉरिटी के मुताबिक कुंभ के दौरान मेडिकल, टूरिज्म और होटल इंडस्ट्री से करीब 2 लाख लोगों को अस्थायी रोजगार प्राप्त होता है और आम लोगों के लिए कुंभ कमाई का एक बड़ा जरिया बन जाता है। 

 

 

यूपी सरकार कुंभ मेले के लिए बनाया है 40 बिलियन बजट

उत्तर प्रदेश सरकार कुंभ मेले के लिए इस साल करीब 40 अरब रुपए खर्च कर रही है। इस बजट से मेले में माडर्न सुविधाएं दी जा रही है। सरकार की ओर से 1.22 लाख ईको फ्रेंडली टॉयलेट, 5 स्टार टेंट और हाई-टेक खोया पाया केंद्र स्थापित किया गया है। साथ ही सुरक्षा के लिए ऑर्टिफिशियल इंटेलीजेंट वाले सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। रेलव की ओर से कुंभा मेला जाने वालों के लिए 800 स्पेशल ट्रेन शुरू की गई हैं। 

 

 

35 हजार रुपए है टेंट के एक रात का किराया

दिल्ली की कंपनी हितकारी प्रोडक्शंस एंड क्रिएशंस लग्जरी सुविधा दे रही है। हितकारी कुंभ नगरी में 'इंदिराप्रस्थानम' नाम से लग्जरी टेंट लगा रही है। इसका एक रात का किराया 35,000 रुपए होगा। हितकारी कंपनी का कहना है कि कुंभ नगरी में 200 लग्जरी और 250 डिलक्स टेंट सहित कुल 600 कॉटेज टेंट होंगे। इनका एक रात का किराया  12,000 रुपए से 16,000 रुपए के बीच है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन