Home » Business » IT/StartupsOYO now manages 1.80 lakh rooms in China

गुड़गांव से बैठकर चीन के 1.80 लाख रूम पर कर लिया कब्जा

चीन की टॉप-10 होटल चेन में शामिल हुई यह भारतीय कंपनी

1 of

नई दिल्ली.

चीन की नीतियों की वजह से भारत को वहां अपने उत्पाद तक बेचने में दिक्कत आती है। लेकिन उसी चीन में हरियाणा के गुड़गांव स्थित एक कंपनी ने अपना परचम लहरा दिया है। गुड़गांव की यह कंपनी OYO भारत के मुकाबले चीन में ज्यादा तेजी से बढ़ रही है। इस कंपनी ने चीन के होटलों के 1.80 लाख रूम पर अपना कब्जा कर लिया है। मतलब OYO की मर्जी से चीनी होटलों के इन कमरों की बुकिंग हो सकेगी। सितंबर में कंपनी चीन में सिर्फ 87 हजार रूम को मैनेज कर रही थी। तब से कंपनी ने दोगुने रूम अपने अधिकार में ले लिए हैं। छह साल पुरानी यह कंपनी भारत और दक्षिण एशिया में कुल 1.49 लाख रूम मैनेज कर रही है।

 

चीन की टॉप 10 होटल चेन में हुई शुमार

OYO कंपनी ने नवंबर, 2017 में चीन में काम शुरू किया था और अब यह 265 शहरों में मौजूद है। कंपनी के सीईओ रितेश अग्रवाल के मुताबिक चीन में सिर्फ एक ही साल में कंपनी टॉप-10 होटल चेन में शामिल हो गई है। उन्होंने बताया कि हाेटलों द्वारा उन्हें अपनी प्रॉपर्टी लीज पर देने के बाद कंपनी के असेट के इस्तेमाल का औसत 25 फीसदी से बढ़कर 60-70 फीसदी हो गया है। फिलहाल यहां पर लीज और फ्रैंचाइजी पर ली गई 4000 प्रॉपर्टीज में OYO 1.8 लाख रूम संभाल रही है।

 

चीन में जमाई धाक

एक्सपर्ट्स का कहना है कि चीन में जिस रफ्तार से कंपनी बढ़ रही है वह भारतीय इंटरनेट सेक्टर में पहली बार हुआ है। कंपनी चीन में स्थानीय लोगों को टीम में शामिल कर रही है। हाल ही में कंपनी ने Car Inc नाम की कंपनी के पूर्व फाइनेंस एंड ऑपरेशंस हेट Wilson Li को चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर नियुक्त किया है। यहां पर कंपनी के 5,500 फुल टाइम एम्पलॉई और कॉन्ट्रैक्ट पर काम करने वाले 60 हजार कर्मचारी हैं।

 

आगे भी पढ़ें- 

 

 

गूगलअमेजन जैसी कंपनियों से निकली आगे

OYO ने एेसे मार्केट में अपनी जगह पक्की कर ली है जहां पर Google, Uber और Amazon जैसी दिग्गज कंपनियां भी अपने पैर नहीं जमा पा रही हैं। यहां पर कंपनी के 600 सप्लाई चेन पार्टनर और 100 से भी ज्यादा वेयरहाउस हैंजिससे कंपनी का इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत हो सके।

 

जापान का बैंक करता है निवेश

OYO का प्रमुख निवेशक जापान का SoftBank है। इसके अलावा 15 से 20 फीसदी रिवेन्यू थर्ड-पार्टी डिस्ट्रीब्यूटर्स से आता है। इसमें कई ऑनलाइल ट्रैवल ऑपरेटर शामिल हैं।

 

आगे भी पढ़ें- 

 

 

चार देशों में ऑपरेट करती है OYO 

2013 में शुरू होने के बाद कंपनी भारतचीनमलेशिया और नेपाल में तकरीबन 265 शहरों में ऑपरेट करती है। यह कंपनी उन चुनिंदा भारतीय कंपनियों में शामिल है जिन्होंने ओवरसीज अपना विस्तार किया है। इसमें Ola और Lenskart शामिल हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट