विज्ञापन
Home » Business » IT/StartupsAmazon's 59 percent stake in smart speaker market. While Google Home has kept 39 percent of the hold.

Amazon और Google  ने भारतीयों की पकड़ी कमजोरी, संगीत प्रेमी Indians को यह स्मार्ट स्पीकर बेचकर भर रही अपनी जेबें 

स्मार्ट स्पीकर के मार्केट में 59 फीसदी हिस्सेदारी अमेजॉन की है. जबकि गूगल होम ने 39 फीसदी पर कब्जा जमा रखा है।

1 of

नई दिल्ली. भारतीय बाजारों में प्रभुत्व पाने की कोशिशों में लगी अमेरिकन बहुराष्ट्रीय कंपनियां अमेजन और गूगल को अहम कामयाबी हासिल हुई है। दोनों ने भारतीय लोगों की संगीत प्रेम की कमजोरी पकड़ कर स्मार्ट स्पीकर लांच किया और कुछ ही दिनों में 98 फीसदी बिक्री पर कब्जा जमा लिया है। कुछ दिनों पहले आई आईडीसी की एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है। 

 

यह भी पढ़ें...

राहत की खबर: 1 अप्रैल से नहीं बढ़ेंगी कार इश्योरेंस की दरें

 

59 फीसदी हिस्सेदारी अमेजन की 

 

स्मार्ट स्पीकर के मार्केट में 59 फीसदी हिस्सेदारी अमेजन की है. जबकि गूगल होम ने 39 फीसदी पर कब्जा जमा रखा है।  इन आंकड़ों से ये तो साफ है कि इन दोनों ही कंपनियों ने स्मार्ट स्पीकर के 98 फीसदी के मार्केट पर कब्जा जमा रखा है। 

 

हर दिन लोकप्रिय हो रहा स्मार्ट स्पीकर

 

इस रिपोर्ट पर आईडीसी इंडिया के एसोसिएट रिसर्च मैनेजर जयपाल सिंह का कहना है कि स्मार्ट स्पीकर भारत में हर दिन नई लोकप्रियता हासिल कर रहे हैं। ये भारत में एक नया प्रोडक्ट है। ये हर दिन नई लोकप्रियता हासिल कर रहा है। जयपाल सिंह का यह भी कहना है कि वॉयस स्पीकर तेजी से दुनियाभर में लोकप्रिय हो रहे हैं। भारत में भी इसका क्रेज बढ़ता ही चला जा रहा है। इस स्पीकर की बढ़ती लोकप्रियता का पता इस बात से ही लगाया जा सकता है कि 2018 में भारत में कुल 7 लाख 53 हजार स्मार्ट स्पीकर बेचे गए हैं। 

 

यह भी पढ़ें...

 

India की यह कामयाबी आपका सीना चौड़ा कर देगी, शेयर बाजार में भी हमने बाजी मारी

 

55 फीसदी ऑनलाइन बिक्री

 

2017 में पहली बार भारतीय बाजार में स्मार्ट स्पीकर को लॉन्च किया गया था। उस समय अमेजन इको सीरीज के तहत अमेजन ने ये स्पीकर भारतीय बाजार में उतारा था। तब से लेकर अब तक बहुत सारी कंपनियां अपने स्मार्ट स्पीकरों को लॉन्च कर चुकी हैं। स्मार्ट स्पीकर की बिक्री की बात की जाए तो इनकी बिक्री सबसे ज्यादा ई-कॉमर्स वेबसाइटों के जरिए होती है। 55 फीसदी स्पीकर ई-कॉमर्स वेबसाइट के जरिए बेचे जाते हैं. जबकि 45 फीसदी बिक्री ऑफलाइन के जरिए होती है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
विज्ञापन
विज्ञापन