Home » Budget 2018 » Youth And Womanबजट 2018 एजुकेशन इंफ्रा के लिए 1 लाख करोड़, डिजिटल एजुकेशन पर फोकस - Budget 2018 focus on Education Infra

बजट 2018: एजुकेशन इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 1 लाख करोड़ की घोषणा, डिजिटल एजुकेशन पर फोकस

बजट 2018-19 में एजुकेशन सेक्टर के इंफ्रास्ट्रक्चर को बेहतर करने और क्वालिटी पर फोकस किया है।

1 of

नई दिल्ली। बजट 2018-19 में एजुकेशन सेक्टर के इंफ्रास्ट्रक्चर को बेहतर करने और क्वालिटी पर फोकस किया है। फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने बजट में एजुकेशन सेक्टर में इंफ्रास्ट्रक्चर को बेहतर करने के लिए 1 लाख करोड़ रुपए अगले चार साल में इन्वेस्ट करने की घोषणा की है। इसके अलावा स्कूलों में टीचर्स की क्वालिटी और डिजीटल करने पर पर जोर दिया है।

 

 

एजुकेशन सेक्टर के इंफ्रा पर बढ़ाया फोकस

 

प्रीमियर एजुकेशन इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए बजट में रिवाइटलाइज इंफ्रास्ट्रक्चर और सिस्टम इन एजुकेशन (राइज) की घोषणा की गई है। इसके तहत सरकार अगले चार साल में 1 लाख करोड़ रुपए इन्वेस्ट करेगी। इसके अलावा वड़ोदरा में रेलवे यूनिवर्सिटी बनाई जाएगी। इसके अलावा स्कूल ऑफ प्लानिंग और आर्किटेक्ट के लिए 2 स्कूल खोले जाएंगे। 17 नए आईआईटी और एनआईटी स्कूल खोले जाएंगे।

 

टीचर्स के लिए शुरू किया जाएगा इंटीग्रेटेड बीएड प्रोग्राम

 

बजट में एजुकेशन की क्वालिटी सुधारने पर फोकस किया गया है। नेशनल सर्वे ने 20 लाख बच्चों की एजुकेशन क्वालिटी पर सर्वे किया जिसके बाद सरकार ने जिला स्तर पर एजुकेशन क्वालिटी बेहतर करने पर जोर दिया है। सरकार प्री-नर्सरी से12वीं कक्षा तक एजुकेशन क्वालिटी पर काम करेगी। इसके लिेए टीचर्स की एजुकेशन और क्वालिटी पर काम किया जाएगा। बजट में इंटीग्रेटेड बीएड प्रोग्राम टीचर्स के लिए शुरू करने की घोषणा की है। इसके तहत 13 लाख अनट्रेंड टीचर्स को ट्रेनिंग दी जाएगी।

 

स्कूलों में लगेंगे डिजीटल बोर्ड

 

स्कूलों में टेक्नोलॉजी को बेहतर करने के लिए ब्लैक बोर्ड की जगह डिजीटल बोर्ड शुरू करने की घोषणा की है। इसके अलावा डिजीटल पोर्टल के जरिए और टेक्नोलॉजी के जरिए टीचर्स को अपग्रेड किया जाएगा।

 

खोले जाएंगे एकलव्य स्कूल

 

साल 2022 तक जहां 50 फीसदी से अधिक अनुसूचित जनजाति पॉपुलेशन और 20 हजार से अधिक ट्राइबल लोग हैं वहां एकलव्य मॉडल रेजिडेंशियल स्कूल खोले जाएंगे। एकलव्य मॉडल स्कूलों की क्वालिटी नवोदय स्कूलों की तरह होगी।

 

 

स्टूडेंट को दी जाएगी फैलोशीप

 

बजट में प्रधानमंत्री रिसर्च फेलो लॉन्च की गई है जिसके तहत सरकार1,000 बी टेक स्कूलों में से छात्रों को चुनकर उन्हें पीएचडी, आईआईटी और आईआईएस के लिए फैलोशिप दिया जगाएगा। ये स्टूडेंट हायर एजुकेशन स्कूलों में हफ्ते में कुछ घंटे वॉल्युंटरी पढाने का काम करेंगे।

 

आगे पढ़ें सरकार ने - एजुकेशन पर कितना बढ़ाया खर्च

 

 

सरकार ने एजुकेशन पर बढ़ाया खर्च

 

एजुकेशन सेक्टर में स्कूल एजुकेशन के लिए खर्च साल 2017-18 में 46,356 करोड़ रुपए आवंटित किए गए थे जिसे इस बार बजट 2018-19 में बढ़ाकर 50 हजार करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। हायर एजुकेशन में आवंटन 33,330 करोड़ रुपए से बढ़ाकर बजट 2018-19 में 35,010 करोड़ रुपए कर दिया है। सरकार ने इस साल हेल्थ, एजुकेशन और सोशल प्रोटेक्शन सेक्टर के लिए बजट 2018-19 में कुल 1.38 लाख करोड़ रुपए आवंटित किए हैं।

 
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट