Home » Budget 2018 » Banking/Financialआम बजट 2018: मिडिल क्लास हो जाएगा खुश, अगर जेटली ने खेला 28500 करोड़ का दांव - Union Budget 2018: Middle class will be happy if Jaitley has played a stake of 28500 crores

बजट 2018: मिडिल क्लास हो जाएगा खुश, अगर जेटली ने खेला 28500 करोड़ का दांव

अरुण जेटली बजट के जरिए अगर मिडिल क्लास को खुश करना चाहते हैं, तो उन्हें करीब 30 हजार करोड़ दांव पर लगाने होंगे।

1 of

 

 
नई दिल्ली. वित्त मंत्री अरुण जेटली बजट के जरिए अगर  मिडिल क्लास को खुश करना चाहते हैं, तो उन्हें करीब 28500 करोड़ रुपए दांव पर लगाने होंगे। जी हां, ऐसा इसलिए है क्योंकि इनकम टैक्स में छूट से लेकर बैंक डिपॉजिट तक पर अगर जेटली डिमांड को पूरा करते हैं, तो सरकार को करीब 28 हजार 500 करोड़ रुपए का रेवेन्यु लॉस होगा। अब देखना यह है कि जेटली साल 2019 के आम चुनाव को देखते हुए क्या ऐसा दांव खेल सकते हैं। 
 
 

जेटली से मिडिल क्लास को ये हैं उम्मीदें

एक फरवरी को पेश होने वाले बजट में सबसे ज्यादा मिडिल क्लास टैक्स छूट की लिमिट बढ़ाने से लेकर, टैक्स सेविंग का दायरा बढ़ाने और होम लोन के इंटरेस्ट पर बड़ी राहत की उम्मीद कर रहा है। इसके तहत इकोनॉमिस्ट से लेकर इंडस्ट्री बॉडी ने सरकार से कहा है कि वह 2.5 लाख रुपए तक की टैक्स छूट लिमिट को बढ़ाकर 3 लाख रुपए  करे। इसी तरह 80 सी के तहत 1.50 लाख रुपए तक मिलने वाली छूट को 2 लाख किया जाय। ऐसे ही बैंक डिपॉजिट पर मिलने वाले ब्याज पर भी जेटली राहत दें।
 
1. इनकम टैक्स छूट लिमिट 2.5 लाख से बढ़ाकर 3 लाख रुपए यानी 3 लाख तक की इनकम पर कोई टैक्स नहीं लगे
2. 80 सी के तहत इनकम टैक्स सेविंग लिमिट 1.5 लाख रुपए से बढ़ाकर 2 लाख रुपए की जाय
3. हाउसिंग लोन के इंटरेस्ट पेमेंट पर छूट को 2 लाख से बढ़ाकर 2.5 लाख की जाय
4. बैंक सेविंग अकाउंट पर 10 हजार रुपए से ज्यादा ब्याज मिलने पर टैक्स लगता है। इस लिमिट को बढ़ाया जाय
5. टैक्स सेविंग टर्म डिपॉडिट का लॉक इन पीरियड 5 साल से घटाकर 3 साल किया जाय
 
 

जेटली को 28500 करोड़ का लगेगा झटका

SBI द्वारा तैयार किए गए रिसर्च के अनुसार, अगर सरकार ये 5 डिमांड पूरी कर देती है तो उसे करीब 28500 रुपए का  रेवेन्यु लॉस होगा। इसके तहत सबसे ज्यादा टैक्स छूट लिमिट बढ़ाने की वजह से असर होगा। इसके जरिए करीब 9500 करोड़ रुपए का रेवेन्यु इम्पैक्ट होगा।
ऐलान    रेवेन्यु इम्पैक्ट (रुपए में)
इनकम टैक्स छूट लिमिट 3 लाख  9500 करोड़
80 सी लिमिट 2 लाख रुपए  8000 करोड़
होम लोन इंटरेस्ट डिडक्शन 2.5 लाख 7500 करोड़
सेविंग डिपॉजिट को बूस्ट          3500 करोड़
टोटल               28500 करोड़

 

Get Latest Update on Budget 2018 in Hindi

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट