बिज़नेस न्यूज़ » Budget 2018 » Taxationफिर से समझिए PPF की ABCD...., जेटली ने म्‍यूचुअल फंड पर लगा दिया है टैक्‍स

फिर से समझिए PPF की ABCD...., जेटली ने म्‍यूचुअल फंड पर लगा दिया है टैक्‍स

अगर लॉन्‍च टर्म में रिटर्न पर बिना टैक्‍स दिए बड़ा फंड बनाना चाहते हैं तो इस समय PPF आपके लिए बेहतरीन साबित हो सकता है..

1 of

नई दिल्‍ली. वित्‍त मंत्री अरुण जेटली की ओर से 1 फरवरी को पेश आम बजट 2018 में मिडिल क्‍लास को कई झटके देखने को मिले हैं। इन्‍हीं झटकों में से एक झटका लॉन्‍ग टर्म कैपिटल गेन टैक्‍स है। दरसअल 1 साल से अधिक की अवधि में शेयर या स्‍टॉक मार्केट से हुए मुनाफे पर अब सरकार टैक्‍स लेगी। जेटली के इस फैसले के बाद अब म्‍यूचुअल फंड फायदे का सौदा नहीं रहा। एक साल में एक लाख से ज्‍यादा का रिटर्न मिलता है तो आपको 10 फीसदी का सीधा टैक्‍स देना होगा। शॉर्ट टर्म तो नहीं, लेकिन लॉन्‍ग टर्म में इसका सबसे ज्‍यादा नुकसान होगा। दरअसल लॉन्‍ग टर्म में म्‍यूचुअल फंड पर एक लाख का सालाना रिटर्न कोई बड़ी बात नहीं है...। ऐसे में 10 फीसदी की टैक्‍स आप पर भारी पड़ेगा। 

PPF के रिटर्न पर नहीं है कोई टैक्‍स 

हालांकि अगर लॉन्‍ग टर्म में रिटर्न पर बिना टैक्‍स दिए बड़ा फंड बनाना चाहते हैं तो इस समय PPF आपके लिए बेहतरीन साबित हो सकता है। आइए जानते हैं PPF की पूरी एबीसीडी.. और आप आखिर PPF में सालाना कितना पैसा हर साल जमा कर सकते हैं। साथ ही इसपर इन्‍वेस्‍टमेंट से आप टैक्‍स भी बचा सकते हैं। आइए जानते हैं पीएम अकाउंट की पूरी जानकारी 

 

 

आप भी खोल सकते हैं अकाउंट
पीएफ अकाउंट कोई भी खोल सकता है। इसके लिए कोई एज मिमिट नहीं होती है। हालांकि आप एक ही खाता खोल सकते हैं। अगर आपने दो खाते खोल लिए हैं तो दूसरे खाते को irregular माना जाएगा। दूसरे खाते में जमा राशि पर कोई भी ब्याज भी नहीं दिया जाएगा। हालांकि आप सामान्‍य बैंक खाते की तरह ज्‍वाइंट पीपीएफ अकाउंट नहीं खोल सकते हैं। गार्जियन के तौर पर आप बच्‍चों का भी पीएफ खाता खोल सकते हैं। 

 

कहां खोलें PPF खाता 
PPF खाता खोलने के लिए कोई अधिकतम आयु नहीं है। अगर आप भी PPF (पीपीएफ) खाता खोलना चाहते हैं तो आपको डाकघर का रुख करना होगा। इसके अलावा आप SBI, Union बैंक, PNB, IDBI जैसे सरकारी बैंकों में भी यह खाता खोल सकते हैं। प्राइवेट सेक्‍टर के बैंक जैसे ICICI और Axis भी यह सुविधा देते हैं। आप PPF खाते को पोस्‍ट ऑफिस से बैंक और बैंक से पोस्‍टऑफिस के अलावा एक बैंक से दूसरे बैंक में भी ट्रांसफर कर सकते हैं। 

 

 

इस समय कितना मिलता है रिटर्न 
PPF में मौजूदा समय में 7.6 फीसदी का रिटर्न मिलता है। हालांकि पहले यह 8 फीसदी के आसपास हुआ करता था, लेकिन अब भी यह किसी सेविंग अकाउंट यहां तक की एफडी के मुकाबले यह रिटर्न सबसे ज्‍यादा है। हर तीसरे महीने पीपीएफ पर ब्‍याज केंद्र सरकार की ओर से रिवाइज किया जाता है। 

 

कितना डाल सकते हैं पैसा 
एक फाइनेंशियल ईयर मे आप PPF में मिनिमम 500 रुपए इन्‍वेस्‍ट कर सकते हैं। वहीं मैक्सिमम कॉन्‍ट्रीब्‍यूशन 1.5 लाख रुपए है। PPF  में आप एक साल में 12 ट्रांजैक्‍शन यानी 12 बार पैसे जमा कर सकते हैं। एक बार में जमा करने की मिनिमम राशि 500 रुपए है। 1.5 लाख रुपए से ज्‍यादा की जमा पर आपको कोई रिटर्न नहीं मिलेगा। 

 

 

मच्‍योर होने पर तीन विकल्‍प 
अगर आप का PPF अकाउंट मच्‍यौर हो जाता है तो आपके पास 3 विकल्‍प होंगे। अपना खाता बंद करें और पूरा फंड निकाल लें। बिना किसी कॉन्‍ट्रीब्‍यूशन के आप इसे अगले 5 साल तक बढ़ा भी सकते हैं। आप कॉन्‍ट्रीब्‍शूयन के साथ भी इसे अगले 5 साल तक बढ़ा सकते हैं। खाता 15 साल में मच्‍योर होता है। 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट