बिज़नेस न्यूज़ » Budget 2018 » Railway/Infra​बजट 2018 : रेलवे के लिए की गई ये बड़ी घोषणाएं, आपको होंगे फायदे

​बजट 2018 : रेलवे के लिए की गई ये बड़ी घोषणाएं, आपको होंगे फायदे

जेटली ने रेलवे के लिए कई अहम घोषणाएं की गई, जो आपके काफी काम आ सकती हैं।

1 of


नई दिल्‍ली। फाइनेंस मिनिस्‍टर अरुण जेटली ने रेलवे के लिए कई अहम घोषणाएं की गई, जो आपके काफी काम आ सकती हैं। हालांकि जेटली ने नई ट्रेनों जैसी लोकलुभावन घोषणा नहीं की, बावजूद इसके रेलवे को काफी कुछ मिला, जिससे रेलवे के इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर, सेफ्टी और सर्विसेज में सुधार होगा। 


आइए, जानते हैं कि अरुण जेटली के पिटारे में रेलवे के लिए क्‍या-क्‍या घोषणाएं की गई और आपको क्‍या फायदा होगा। 

 

1.48 लाख करोड़ का आवंटन 
अरुण जेटली ने आम बजट  में रेलवे के लिए 1.48 लाख करोड़ रुपए का कुल आवंटन किया है। जबकि पिछले साल 2017 में 1.31 लाख करोड़ रुपए का बजट दिया गया था। यानी कि इस साल रेलवे के बजट अलोकेशन में लगभग 17 हजार करोड़ रुपए अधिक दिए गए। 

 

नई पटरियां बिछेंगी 
पिछले कुछ सालों से हो रहे एक्‍सीडेंट्स की वजह से आपको रेल में सफर करते वक्‍त आपको डर जरूर सताता होगा, लेकिन इस बार के बजट में आपकी सेफ्टी का ध्‍यान रखा गया है। फाइनेंस मिनिस्‍टर ने घोषणा की है कि रेलवे की 3600 किलोमीटर नई पटरियां बिछाई जाएंगी। 

 

नहीं चढ़नी पड़ेंगी सीढि़यां 
रेलवे स्‍टेशनों में एक प्‍लेटफॉर्म से दूसरे प्‍लेटफॉर्म में जाने के लिए दर्जनों सीढि़यां चढ़नी पड़ती हैं। पिछले साल मुंबई स्‍टेशन पर फुटओवर ब्रिज पर हुए एक बड़े एक्‍सीडेंट से सबक लेते हुए वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने घोषणा की है कि  25,000 से ज्यादा फुटफॉल वाले स्टेशनों में स्केलेटर्स लगेंगे। 

 

आगे पढ़ें : स्‍टेशनों पर मिलेगी क्‍या सुविधाएं 
 

स्‍टेशनों पर मिलेगी क्‍या सुविधाएं 

जेटली ने कहा है कि रेलवे स्‍टेशनों की हालत में व्‍यापक सुधार किया जाएगा। जैसे कि - 
सभी रेलवे स्टेशनों और ट्रेनों को वाई-फाई और सीसीटीवी से लैस किया जाएगा 
-600 प्रमुख रेलवे स्‍टेशन को पुन: विकसित करने का काम शुरू 

 

आगे पढ़ें : लोकल को मिलेगा बूस्‍ट 
 

लोकल को मिलेगा बूस्‍ट 
मुंबई में लोकल ट्रेन सिस्‍टम देश की आर्थिक राजधानी की लाइफ लाइन माना जाता है। जेटली ने घोषणा की है कि 
- सब अर्बन रेल के नेटवर्क में 150 किलोमीटर अतिरिक्‍त तौर पर जोड़ा जाएगा, जिस पर 40 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसमें कुछ सेंक्‍शन पर एलिवेटिड कोरिडोर बनाया जाएगा। 
- बेंगलुरु में 160 किलोमीटर सब-अर्बन नेटवर्क पर 17 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। 

 

ये भी होंगे फायदे 
- इस साल 700 नए रेल इंजन तैयार किए जाएंगे।
- पूरे भारतीय रेल नेटवर्क को ब्रॉडगेज में तब्दील किया जाएगा।
- बुलेट परियोजना के लिए जरूरी मानव संसाधन को वड़ोदरा रेल यूनिवर्सिटी में प्रशिक्षण दिया जाएगा।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट