Home » Budget 2018 » Railway/Infraरेल बजट 2018 - Rail Budget 2018 India LIVE, रेलवे के लिए 1.48 लाख करोड़ रुपए का आवंटन, Rail Budget 2018 Latest Updates

बजट 2018: रेलवे को मिलेंगे 1.48 लाख करोड़, 3600 KM पटरियों का होगा नवीकरण

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को आम बजट पेश किया।

1 of
नई दिल्‍ली। नई दिल्‍ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को आम बजट पेश किया। इस बजट में उन्‍होंने रेलवे के लिए 1.48 लाख करोड़ रुपए का आवंटन किया है। वित्त मंत्री ने बताया कि भारतीय रेलवे को पूरी तरह ब्रॉडगेज किया जाएगा। इसके अलावा पटरी और गेज बदलने के काम भी किया जाएगा। वित्त मंत्री ने कहा कि रेलवे को लेकर उनकी सरकार का पहला लक्ष्य सुरक्षा है। जेटली ने कहा कि सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेल बजट का बड़ा हिस्सा पटरी और गेज बदलने के काम में इस्तेमाल किया जाएगा। 

 
700 नए रेल इंजन और 5160 नए कोच 

5000 किलोमीटर लाइन के गेज परिवर्तन का काम चल रहा है। वित्त मंत्री ने बताया, 'छोटी लाइनों को बड़ी लाइनों में बदलने काम पूरा किया जा रहा है। इस दिशा में पूरी तेजी से काम कर रहे हैं।' उन्होंने बताया कि इस साल 700 नए रेल इंजन और 5160 नए कोच तैयार किए जाएंगे। सुरक्षा के इंतजामों पर बात करते हुए उन्होंने रेलवे स्टेशनों पर सीसीटीवी लगाने की योजना का भी एलान किया है। उन्होंने बताया कि इस साल में 600 रेलवे स्टेशनों को आधुनिक बनाने का काम किया जाएगा। सौंदर्यीकरण के अलावा स्टेशनों पर ऐस्केलेटर्स बनाने की भी योजना है। 
 
 
 3600 किमी ट्रैक का नवीकरण 
 
वित्त मंत्री ने बताया कि रख-रखाव पर भी विशेष ध्यान दिया जा रहा है। 3600 किमी ट्रैक का नवीकरण किया गया। 40000 करोड़ रुपये एलिवेटेड कॉरिडोर के निर्माण पर खर्च किए जाएंगे। मुंबई रेलवे को शहर की लाइफलाइन बताते हुए मुंबई लोकल का दायरा 90 किलोमीटर बढ़ाने का ऐलान किया है। वहीं मोदी सरकार की सबसे महत्वकांक्षी योजना बुलेट ट्रेन पर घोषणा करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड बुलेट ट्रेन का ट्रैक बनाने का काम शुरू करने के लिए जो भी इस संबंध में जरूरी है उसे पूरी करेंगे। 
 
 
रेलवे में पिछले साल हुए थे ये एलान  
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पिछले साल के बजट में रेलवे के लिए 1.31 लाख करोड़ रुपए के फंड का आवंटन किया था।  जबकि 2015 में यह आंकड़ा 1.21 लाख करोड़ रुपए था। 2017 के आम बजट में रेलवे के जिन 4 सेक्‍टर पर फोकस किया गया था वो - पैसेंजर सेफ्टी, स्‍वच्‍छता, कैपिटल एंड डेवलपमेंट वर्क और फाइनेंस एंड अकाउंटिंग रिफॉर्म रहे।  
 
रेलवे की कमाई का लेखा-जोखा
 
..साल 2018-19 में 2 लाख करोड़ रुपए रेवेन्यु पहुंचने का अनुमान
..पैसेंजर के जरिए होने वाली कमाई 4 फीसदी बढ़कर 52 हजार करोड़ का अनुमान
..माल-भाड़ा से कमाई 4 फीसदी बढ़कर 1.21 लाख करोड़ का अनुमान
..साल 2018-19 में 92.8 फीसदी ऑपरेटिंग रेशियो का टारगेट
.. साल 2017-18 में 96 फीसदी ऑपरेटिंग रेशियो
.. 2020 तक 85 फीसदी ऑपरेटिंग रेशियो करने का अनुमान
 
 
 
 
 
 
 
Get Latest Update on Budget 2018 in Hindi
prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट