Home » Budget 2018 » Market/Investorमार्केट के लिए बूस्टर है बजट 2018, अगले 6 माह में 40000 टच कर सकता है सेंसेक्स - Experts says budget is booster for market, sensex may touch 40000 in next 6 month

मार्केट के लिए बूस्टर है बजट, अगले 6 माह में 40000 टच कर सकता है सेंसेक्स, यहां मिलेगा रिटर्न

अगले 6 माह में सेंसेक्स्‍ा 40000 और निफ्टी 12000 के स्तर को छू सकता है।

1 of

 

नई दिल्ली. जीएसटी लागू होने के बाद वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने मोदी सरकार का पहला बजट पेश किया है। बजट में रूरल सेक्टर क्लीयर विनर रहा है। रूरल बेस्ड स्कीम और एग्री सेक्टर के अलावा सरकार ने फूड प्रॉसेसिंग इंडस्ट्री, मेक इन इंडिया, नेशनल प्रोटेक्शन स्कीम और उड़ान स्कीम को भी फोकस में रखा है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि बजट पॉपुलिस्ट है और इससे शेयर मार्केट को बूस्ट मिलेगा। अगले 6 माह में सेंसेक्स्‍ा 40000 और निफ्टी 12000 के स्तर को छू सकता है। हालांकि, लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स (LTCG) लगने से अगले कुछ दिनों तक मार्केट वोलेटाइल रह सकता है। 

 

 

लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन को लेकर राय अलग


बैलेंस करने का उपाय: नांगिया एंड कंपनी मैनेजिंग पार्टनर राकेश नांगिया का कहना है कि सरकार ने 1 साल से ज्यादा रखे गए शेयरों पर होने वाली 1 लाख से ज्यादा कमाई पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स तो लगाया है। लेकिन, 31 जनवरी 2018 तक शेयर से होने वाली इनकम को इससे दूर रखा है, यह बैलेंस करने का बेहतर उपाय है। 
- केआर चोकसी सिक्युरिटीज के एमडी देवेन चोकसी का कहना है कि सरकार ने स्टॉक मार्केट से कमाई पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स (LTCG) लगाया है, जिसका मार्केट पर निगेटिव असर नहीं होगा। LTCG टैक्स 31 जनवरी के बाद शेयरों से होने वाली इनकम पर लगेगा। इससे पहले यदि इन्‍वेस्‍टर को शेयर बेचकर इनकम होती है तो उस पर यह नहीं लगेगा। इसलिए ये निगेटिव फैक्टर नहीं है।    

 

बजट में लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स के एलान का शेयर बाजार पर असर; सेंसेक्स 550, निफ्टी 200 फिसला

 

निगेटिव सेंटीमेंट का डर: अशोक माहेश्‍वरी एंड एसोसिएट्स के पार्टनर अमित माहेश्‍वरी का कहना है कि लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स शेयर मार्केट के लिए निगेटिव खबर है। इससे उन निवेशकों का सेंटीमेंट निगेटिव बनेगा जो शेयर मार्केट की ओर शिफ्ट हो रहे थे या इसकी प्लानिंग में थे। इससे उनका रूझान इक्विटी मार्केट की जगह गोल्ड और प्रॉपर्टी में बढ़ सकता है।

- SMC इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज के टेक्निकल एनालिस्ट सचिन सर्वदे ने भी माना है कि इस टैक्स से निवेशकों में कनफ्यूजन बढ़ेगा। एसटीटी और LTCG दोनों को रखना निवेशकों के लिहाज से निगेटिव है। 

 

 

बजट लंबी अवधि में मार्केट के लिए कैटलिस्ट 
केआर चोकसी सिक्युरिटीज के एमडी देवेन चोकसी का कहना है कि सरकार ने मार्केट फ्रेंडली बजट पेश किया है। सरकार ने बजट में इंफ्रास्ट्रक्चर, रूरल, एग्री और एजुकेशन सेक्टर पर फोकस बढ़ाया है। अर्निंग बढ़ने के साथ कंज्यूमर की स्पेंडिंग बढ़ाने में मदद मिलेगी। इसका फायदा रूरल सेक्टर के अलावा फार्मा और ऑटो सेक्टर को भी मिलेगा। 

फॉर्च्यून फिस्कल के डायरेक्टर जगदीश ठक्कर के मुताबिक बजट से मार्केट को बूस्ट मिलेगा और जून तक सेंसेक्स 40,000 के स्तर को छू सकता है। वहीं, निफ्टी 12,000 के लेवल तक पहुंच सकता है। बजट में सबसे ज्यादा एडवांटेज ऑटोमोबाइल सेक्टर को मिलेगा। ऑटो कंपनियों के स्टॉक्स में 15 से 20 फीसदी की ग्रोथ हो सकती है।


बजट से डिमांड बढ़ाने में मिलेगी मदद
एपिक रिसर्च के सीईओ नदीम मुस्तफा का कहना है कि बजट में रूरल सेक्टर क्लीयर विनर रहा है। सेक्टर को सरकार से बहुत बड़ी राहत मिली है। सरकार ने एमएसपी के जरिए किसानों की आय बढ़ाने के उपाय करने की बात कही है। वहीं, एग्री बेस्ड स्कीम को बढ़ावा देकर भी रूरल इकोनॉमी बढ़ाने पर जोर है। रूरल इकोनॉमी बढ़ने से डिमांड बढ़ेगी। इससे न केवल रूरल स्टॉक बल्कि कंजम्पशन बेस्ड स्टॉक में भी आगे तेजी आएगी। 

 

एविएशन और डिफेंस सेक्टर को भी फायदा 
नदीम मुस्तफा का कहना है कि सरकार का 80,000 करोड़ रुपए का डिसइन्वेस्टमेंट टारगेट है। रीजनल कनेक्टिविटी बढ़ाने को लेकर एविएशन सेक्टर को भी फोकस में रखा है। वहीं, डिफेंस प्रोडक्शन बढ़ाने के उपाय भी कर रही है। ऐसे में इन सभी सेक्टर को बजट से बूस्ट मिलेगा। बजट से आगे कॉरपोरेट अर्निंग में भी सुधार देखने को मिलेगा। इससे इकोनॉमी को भी फायदा होगा।

 

बजट 2018 : डिफेंस सेक्‍टर में मामूली बढ़ोतरी, 2.95 लाख करोड़ का आवंटन

 

शेयर मार्केट की कैसी रहेगी चाल
नदीम मुस्तफा का कहना है कि बजट के दिन मार्केट में वोलेटिलिटी दिखी थी। वोलेटिलिटी इंडेक्स में 11 फीसदी से ज्यादा गिरावट दिखी। अगले कुछ ट्रेडिंग सेशन में  LTCGT की वजह से मार्केट वोलेटाइल रह सकता है। हालांकि लंबी अवधि में मार्केट को लेकर ज्यादा टेंशन नहीं दिख रही है। उनका कहना है कि अगले कुछ दिनों की बात करें तो मार्केट में गिरावट आ सकती है। फॉर्च्यून फिस्कल के डायरेक्टर जगदीश ठक्कर के मुताबिक बजट मार्केट के लिए बूस्टर साबित होगा। अगेल कुछ सेशन में मार्केट वोलेटाइल रह सकता है, लेकिन लंबी अवधि में मार्केट को लेकर चिंता नहीं है। जून तक सेंसेक्स 40,000 के स्तर को छू सकता है। वहीं निफ्टी 12,000 के लेवल तक पहुंच सकता है। 

 

Get Latest Update on Budget 2018 in Hindi

 

आगे पढ़ें, किन शेयरों में मिलेगा रिटर्न
 

 

 

किन शेयरों में मिलेगा रिटर्न

 

 

एस्कॉर्ट्स लिमिटेड, स्पाइस जेट, सीमेन 
सचिन सर्वदे ने एस्कॉर्ट्स लिमिटेड में 15 फीसदी, स्पाइस जेट में 15 फीसदी और सीमेन में 18 फीसदी रिटर्न की उम्मीद जताई है। 

 

टाटा मोटर्स, अशोक लेलैंड , बजाज ऑटो
जगदीश ठक्कर के अनुसार आगे टाटा मोटर्स और अशोक लेलैंड में अच्छा रिटर्न मिल सकता है। 
वहीं, ब्रोकरेज हाउस एक्सिस डायरेक्ट ने बजाज ऑटो में 3905 के लक्ष्‍य के साथ निवेश की सलाह दी है। 

 

अल्ट्राटेक सीमेंट 
ब्रोकरेज हाउस सेंट्रम ने लक्ष्‍य के साथ अल्ट्राटेक सीमेंट में निवेश की सलाह दी है। 

 

भारत फोर्ज
केआर चौकसे ने भारत फोर्ज में 840 रुपए के लक्ष्‍य के साथ निवेश की सलाह दी है। 

 

पिरामल इंडस्ट्रीज
स्टैलियन एसेट्स डॉट कॉम के सीआईओ अमीत जेसवानी ने 4000 रुपए के लक्ष्‍य के साथ पिरामल इंडस्ट्रीज में निवेश की सलाह दी है।

 

(नोट- यहां दी गई सभी सलाह टॉप ब्रोकरेज हाउस के द्वारा जारी रिपोर्ट और मार्केट एक्सपर्ट्स की सलाह के आधार पर हैं। हर स्टॉक से जुड़े अपने जोखिम होते है, इसलिए सलाह है कि अपने स्तर पर जांच या अपने एक्सपर्ट की सलाह के बाद ही निवेश का फैसला लें।) 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट