Home » Budget 2018 » State/Election Statesबजट 2018: जेटली ने की वोटर्स को साधने की कोशिश; किसान, युवाओं, महिलाओं का रखा ध्यान - Jaitley tried to convince voters from Budget 2018

बजट 2018: जेटली ने की वोटर्स को साधने की कोशिश; किसान, युवाओं, महिलाओं का रखा ध्यान

वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने अपने बजट भाषण में किसानों, युवाओं और महिलाओं के लिए कई बड़े एलान किए हैं।

बजट 2018: जेटली ने की वोटर्स को साधने की कोशिश; किसान, युवाओं, महिलाओं का रखा ध्यान - Jaitley tried to convince voters from Budget 2018

नई दिल्‍ली। वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने अपने बजट भाषण में किसानों, युवाओं और महिलाओं के लिए कई बड़े एलान किए हैं। माना जा रहा है कि बजट में काफी हद तक 2019लोकसभा चुनाव को ध्‍यान में रखा गया। इसके अलावा 2018 में होने वाले 8 राज्यों के विधानसभा चुनावों में मतदाताओं को साधने की कोशिश की गई है।

 

नाराज हैं किसान

इसमें कोई शक नहीं कि पिछले कुछ समय से मोदी सरकार के खिलाफ किसानों की नाराजगी झेल रही है। इसकी एक बानगी पिछले दिनों मध्‍य प्रदेश में किसानों के प्रदर्शन से देखने को मिली थी। इसके अलावा आलू को लेकर यूपी समेत देश के अलग-अलग राज्‍यों में भी किसानों ने प्रदर्शन किया ।

 

क्‍या दिया किसानों को

यही वजह है कि वित्‍त मंत्री ने अपने बजट में किसानों पर खासतौर से ध्‍यान दिया है। उन्‍होंने उन्होंने बांस की खेती को बढ़ावा देने की बात की। भारत में बांस की खेती सबसे ज्यादा मिजोरम, त्रिपुरा, नागालैंड और मेघालय में होती है। त्रिपुरा, नागालैंड और मेघालय में इसी माह चुनाव होने हैं।

 

किसानों को मिले ये तोहफे भी

कि‍सानों को लागत से कम से कम डेढ़ गुना ज्‍यादा एमएसपी, ग्रामीण हाटों को मार्केट में तब्‍दील करने का फैसला, फूड प्रोसेसिंग के लि‍ए दोगुना आवंटन, एग्री एक्‍सपोर्ट पर फोकस और मछलीपालन व पशुपालन को प्रोत्‍साहन जैसे फैसले इस बात का संकेत देते हैं कि मोदी सरकार ने 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का जो वादा कि‍या है, उसे पूरा करने की दि‍शा में ठोस कदम उठाए जा रहे हैं।

 

ऑपरेशन फ्लट की तर्ज पर ऑपरेशन ग्रीन्स

- ऑपरेशन फ्लड की तर्ज पर ऑपरेशन ग्रीन्स शुरू करने का सपना दिखाया गया है, जिसके लिए 500 करोड़ रुपये का प्रस्ताव दिया गया है।

- सरकार ने फूड प्रोसेसिंग मिनिस्ट्री का आवंटन बढ़ाकर दोगुना कर दिया गया है। अब यह715 करोड़ रुपए की तुलना में बढ़कर 1400 करोड़ रुपए हो गया है।

- टमाटर, आलू के दामों में उतार-चढ़ाव के नुकसान को रोकने के लिए इंतजाम करने का सपना भी दिखाया गया है।

 

महिलाओं के हित में

उज्जवला योजना से बीजेपी को कई राज्यों में सियासी फायदा मिला है। ऐसे में इसका विस्तार किया गया है। योजना के तहत सरकार ने पहले 5 करोड़ गरीब महिलाओं तक मुफ्त गैस कनेक्शन पहुंचाने का लक्ष्य रखा था। जिसे बढ़ाकर अब 8 करोड़ कर दिया गया है।

 

युवाओं के लिए क्‍या

वैसे तो पीएम मोदी हमेशा युवाओं के लिए काम करने की बात करते हैं। इसके बावजूद मौजूदा दौर में युवाओं के बीच रोजगार और एजुकेशन लोन से जुड़े संकट अब भी बरकरार है। ऐसे में वित्‍त मंत्री अरुण जेटली का यह बजट तोहफा जरूर बन सकता है।

 

इस बार के बजट में सरकार ने युवाओं के लिए खास घोषणाएं की हैं। सरकार नेशनल ट्रेनिंग प्रोग्राम के तहत 50 लाख युवाओं को स्‍कॉलरशिप देगी। हायर एजुकेशन के लिए जेटली ने बीटेक छात्रों के लिए पीएम रिसर्च फेलो प्लान लॉन्च किया। इसके अलावा इंटीग्रेटेड बीएड प्रोग्राम भी शुरू किया जाएगा। इससे हर साल 1000 छात्रों को फायदा मिलेगा। साथ ही प्लानिंग एंड आर्किटेक्ट के लिए 2 नए स्कूल खोले जाएंगे। इसके अलावा रोजगा सृजन पर भी जोर दिया गया है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट