Home » Auto » Industry/ TrendsFirst time ever London use coffee powered bus

यहां कॉफी से चल रही है Bus, पहली बार हुआ ऐसा है

लंदन में ऐसी पहली बस चलाई गई है जि‍समें फ्यूल के तौर पर कॉफी का इस्‍तेमाल कि‍या गया है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। सुबह उठकर लोगों को कॉफी पीने की आदत तो रहती है। कॉफी पीकर लोग अपने-अपने काम पर नि‍कल पड़ते हैं। लेकि‍न आपने कभी यह नहीं सोचा होगा कि‍ कोई बस भी कॉफी पीकर चलती हो। लंदन में ऐसी पहली बस चलाई गई है जि‍समें फ्यूल के तौर पर कॉफी का इस्‍तेमाल कि‍या गया है। अब केवल लंदन के लोग ही नहीं बल्‍कि‍ लंदक की बसों को भी आगे बढ़ने के लि‍ए कॉफी की जरूरत पड़ेगी। 

 

कॉफी वेस्‍ट से ब्‍लेंडिंग ऑयल निकालकर उसमें डीजल मि‍लाकर इस बायोफ्यूल को बनाया गया है। इस बायोफ्यूल का इस्‍तेमाल पब्‍लि‍क ट्रांसपोर्ट फ्यूल सप्‍लाई में शामि‍ल कि‍या गया है। टेक्‍नोलॉजी कंपनी बायो-बीन ने कहा है कि‍ उन्‍होंने पर्याप्‍य कॉफी ऑयल बनाया है जो एक साल के लि‍ए एक बस को पावर दे सकती है। ट्रांसपोर्ट फॉर लंदन (TfL) ट्रांसपोर्ट एमि‍शन को कम करने के लि‍ए तेजी से बायोफ्यूल का यूज कर रहा है। 

 

आगे पढ़ें...

 

पहली बार हुआ ऐसा

 

कुकिंग ऑयल जैसे वेस्‍ट प्रोडक्‍ट्स और मीट प्रोसेसिंग से चरबी के बायो फ्यूल का इस्‍तेमाल पहले से ही लंदन की 9,500 बसों में हो रहा है। हालांकि‍, यहां ऐसा पहली बार हुआ है जब कॉफी से बने बायो फ्यूल को लंदन के पब्‍लि‍क ट्रांसपोर्ट सि‍स्‍टम को शामि‍ल कि‍या गया है।  

 

आगे पढ़ें...

 

B20 बायोफ्यूल

 

बायो-बीन के मुताबि‍क, लंदन के लोग एक साल में 2 लाख टन कॉफी वेस्‍ट पैदा करते हैं। कंपनी कॉफी शॉप और इंस्‍टेंट कॉफी फैक्‍ट्रीज का यूज कर अपनी फैक्‍ट्री में ऑयल नि‍काल रही है। इसके बाद इसे B20 बायोफ्यूल का प्रोसेस कि‍या जाता है। बसों में इसका इस्‍तेमाल बि‍ना कि‍सी मोडिफि‍केशन के लि‍या जा सकता है। 

 

आगे पढ़ें...

 

एक साल में लंदन बस को चलाने के लि‍ए कि‍तने कॉफी कप चाहि‍ए?

 

कंपनी का मानना है कि‍ एक साल के लि‍ए एक लंदन बस को चलाने के लि‍ए 2 5.5 लाख से ज्‍यादा कॉफी कप की जरूरत पड़ती है ताकि‍ पर्याप्‍त बायोफ्यूल बनाया जा सके। अब तक 6 हजार लीटर कॉफी ऑयल को बनाया जा चुका है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट