• Home
  • Did slowdown in auto sector due to demonetisation 2 years ago it was inking says tata motors

चिंता /क्या नोटबन्दी से ऑटो सेक्टर में छाई मंदी? टाटा मोटर्स से कहा- 2 साल पहले लग गयी थी भनक

  • मंदी की आहट के बीच टाटा मोटर्स ने शुरू कर दी थी बीएस4 वाहनों के स्टॉक खत्म करने की मुहिम 

Moneybhaskar.com

Jan 23,2020 10:38:00 AM IST

नई दिल्ली। ऑटो सेक्टर की मंदी की वजह सभी वाहन निर्माता कंपनियों की बिक्री को प्रभावित किया है। जिन कंपनी पर मंदी की मार सबसे ज्यादा पड़ी है उनमें से टाटा मोटर्स भी है। बीते साल सितंबर माह में टाटा मोटर्स की बिक्री में 48 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। सितंबर के बाद से लगभग हर माह कंपनी की बिक्री कमोबेश ऐसी ही रही है। टाटा मोटर्स के पैसेंजर व्हिकल्स के प्रेसिडेंट मयंक पारीक के मुताबिक उन्हें मंदी की भनक जनवरी 2018 में ही लग गई थी। टाटा मोटर्स की ओर से दिए गए इस बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं। इसकी एक वजह यह है कि साल 2018 वहीं, वक्त था, जब अक्टूबर 2016 में नोटबंदी और जुलाई 2017 में जीएसटी लागू होने से भारत में आम लोगों की खरीदारी क्षमता प्रभावित हुई थी।

बीएस4 वाहनों का स्टॉक सीमित

मयंक पारिख के मुताबिक ऑटो सेक्टर में मंदी की भनक के बीच टाटा मोटर्स ने अपने स्टॉक को साल 2018 से ही सीमि करने पर काम शुरु कर दिया था। साथ ही बीएस6 इमीशन नॉर्म्स लागू होने की वजह से भी कंपनी ने बीएस4 वाहनों के स्टॉक को जीरो करने का काम शुरू किया था। कंपनी के पास मौजूदा वक्त में बीएस4 वाहनों का स्टॉक काफी कम है, जो इस साल मार्च का आसानी से खत्म किया जा सकेगा।

गिरावट का दौर जारी

वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम के आंकड़ों के मुताबिक भारत में अक्टूबर 2018 से पैसेंजर वाहनों की बिक्री में गिरावट दर्ज की जा रही है। वहीं कॉमर्शिलय वाहनों की बिक्री में गिरावट का सिलसिला साल 2019 की पहली तिमाह से शुरु हुआ, जो अब तक जारी है। इसके अलावा साल 2018 के आखिरी महीनों में दोपहिया के साथ ही तिपहिया वाहनों की बिक्री में गिरावट दर्ज की जा रही है।

वाहन कैटेगरीF20 Q3 F18 Q4 F19 Q1 F19 Q2 F19 Q3 F19 Q4 F20 Q1 F20 Q2 F20 Q3
पैसेंजर व्हीकल 7.2% 19.9% -3.6% -0.8% -2.0% -18.4% -28.7% -0.6%
कॉमर्शियल व्हीकल 31.0% 51.5% 27.5% 6.7% 0.6% - 9.5% -35.0% -17.2%
दोपहिया 86.8% 54.0% 24.6% -6.8% -8.7% - 7.3% - 6.1% 5.7%

X

Money Bhaskar में आपका स्वागत है |

दिनभर की बड़ी खबरें जानने के लिए Allow करे..

Disclaimer:- Money Bhaskar has taken full care in researching and producing content for the portal. However, views expressed here are that of individual analysts. Money Bhaskar does not take responsibility for any gain or loss made on recommendations of analysts. Please consult your financial advisers before investing.