बिज़नेस न्यूज़ » Auto » Industry/ Trendsऑटो इंडस्‍ट्री ने कहा- दि‍ल्‍ली के लि‍ए अप्रैल 2018 तक BS-VI व्‍हीकल्‍स लाना मुश्‍कि‍ल

ऑटो इंडस्‍ट्री ने कहा- दि‍ल्‍ली के लि‍ए अप्रैल 2018 तक BS-VI व्‍हीकल्‍स लाना मुश्‍कि‍ल

ऑटो इंडस्‍ट्री ने कहा कि‍ वह इस फ्यूल के हि‍साब से व्‍हीकल्‍स को लॉन्‍च करने की पॉजि‍शन में नहीं है

Auto industry says not feasible to have BS VI vehicles for Delhi by 2018

नई दि‍ल्‍ली। ऑटो इंडस्‍ट्री ने कहा कि‍ सरकार का दि‍ल्‍ली में पॉल्यूशन कम करने के लि‍ए बीएस-6 को पहले लागू करने का फैसला सही दि‍शा में है लेकि‍न वह इस फ्यूल के हि‍साब से व्‍हीकल्‍स को लॉन्‍च करने की पॉजि‍शन में नहीं है और अप्रैल 2020 से पहले एमि‍शन नॉर्म्‍स को पूरा करने की तैयारी में हैं। इंडस्‍ट्री का यह भी कहना है कि‍ दि‍ल्‍ली में पॉल्यूशन से लड़ने के लि‍ए यह हॉलि‍स्‍टि‍क अप्रोच है और सरकार को पुराने व्‍हीकल्‍स को हटाने पर फोकस करना चाहि‍ए।  

 

महिंद्रा ने क्‍या कहा

 

महिंद्रा एंड महिंद्रा के डायरेक्‍टर पवन गोयनका ने बताया कि‍ सीधे तौर पर हमारा मानना है कि‍ दि‍ल्‍ली में पॉल्यूशन के खि‍लाफ लड़ने के लि‍ए यह सही दि‍शा में उठाया गया कदम है। हालांकि‍, जहां तक ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री की बात है तो हम बीएस-6 व्‍हीकल्‍स को अप्रैल 2020 तक लॉन्‍च करने की समयसीमा पर पहले से ही काम कर रहे हैं। 

 

उन्‍होंने पेट्रोलि‍यम मि‍नि‍स्‍ट्री की ओर से दि‍ल्‍ली में 1 अप्रैल 2018 से बीएस-6 को लागू करने के ऐलान पर कहा कि‍ मुझे नहीं लगता कि‍ कोई बड़ी कंपनी बीएस-6 वाले व्‍हीकल्‍स को अप्रैल 2018 तक पूरे पोर्टफोलि‍यो को लॉन्‍च कर सके। उन्‍होंने यह भी कहा कि‍ महिंद्रा अप्रैल 2020 की समयसीमा को ध्‍यान में रखते हुए अपने प्रोजेक्‍ट्स पर काम कर रही है।  

 

सि‍याम ने क्‍या कहा

 

इसी तरह का वि‍चार रखते हुए सोसाइटी ऑफ इंडि‍यन ऑटोमोबाइल मैन्‍युफैक्‍चरर्स (सि‍आम) के डीजी वि‍ष्‍णु माथुर ने कहा कि‍ हमें रोड़ ट्रांसपोर्ट मि‍नि‍स्‍ट्री से अप्रैल 2020 तक बीएस-6 नॉर्म्‍स को लागू करने का रोडमैप मि‍ला है और हम इसी समयसीमा के आधार पर काम कर रहे हैं। इंडस्‍ट्री के लि‍ए यह मुमकि‍न नहीं है कि‍ वह इस तारीख से पहले काम कर सकें। 

 

क्‍या है दि‍क्‍कत

 

केवल दि‍ल्‍ली के लि‍ए बीएस-6 व्‍हीकल्‍स को लॉन्‍च करने में संभावि‍त दि‍क्‍कत को बताते हुए गोयनका ने कहा कि‍ यह व्‍यवहारि‍क नहीं है क्‍योंकि‍ दि‍ल्‍ली से बाहर यह फ्यूल उपलब्‍ध नहीं है और बीएस-6 व्‍हीकल्‍स बीएस-4 फ्यूल पर नहीं चल सकते। 

 

पहले पुराने व्‍हीकल्‍स को करें बंद 

 

माथुर ने कहा कि‍ पॉल्यूशन के दूसरे कारणों को छोड़ कर अगर हम वाहनों से होने वाले पॉलुशन को देख रहे हैं तो पहले फ्यूल के हि‍साब से 10 से 15 साल से ज्‍यादा पुराने व्‍हीकल्‍स को हटाना चाहि‍ए।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट