Home » Auto » Industry/ Trendstoyota planning to increase price from next month

अगले महीने महंगी हो सकती हैं टोयोटा की कारें

टोयोटा कि‍र्लोस्‍कर मोटर (केटीएम) अगले माह अपने व्‍हीकल प्राइज को बढ़ाने की प्‍लानिंग कर रही है।

toyota planning to increase price from next month

बेंगलुरु। टोयोटा कि‍र्लोस्‍कर मोटर (केटीएम) अगले माह अपने व्‍हीकल प्राइज को बढ़ाने की प्‍लानिंग कर रही है। कीमतों में इजाफा बढ़ते इनपुट कॉस्‍ट के असर को कम करने के लि‍ए कि‍या जाएगा। टोयोटा कि‍र्लोस्‍कर भारत में हैचबैक इटि‍ओस लि‍वा (शुरुआती कीमत 5.49 लाख रुपए) से लग्‍जरी एसयूवी लैंड क्रूजर (1.41 लाख रुपए) को बेचती है। 

 

केटीएम के डि‍प्‍टी एमडी एन. राजा ने बताया कि‍ बढ़ती इनपुट कॉस्‍ट के लि‍हाज से चुनौती बनी हुई है। हम अभी तक इसे कुछ दि‍नों तक संभाल (कीमत में इजाफा) सकते हैं। जल्‍द ही हम इस पर फैसला लेगें। यह अगले माह भी हो सकता है। उन्‍होंने यह भी कहा कि‍ कंपनी कीमतों में बढ़ोतरी के लेवल पर काम कर रही है। लग्‍जरी कार कंपनि‍यों जैसे ऑडी, जेएलआर और मर्सडीज-बेंज ने इसी महीने कस्‍टम ड्यूटी बढ़ने की कीमत से 1 लाख से 10 लाख रुपए तक दाम बढ़ाए हैं।  

 

इस साल 9 फीसदी तक रह सकती है सेल्‍स ग्रोथ

 

राजा ने कहा कि‍ चालू कैलेंडर ईयर में इंडस्‍ट्री की ग्रोथ 8 से 9 फीसदी की रेंज में रह सकती है और केटीएम की ग्रोथ इसी रेंज में रह सकती है। उन्‍होंने यह भी कहा कि‍ कंपनी को उम्‍मीद है कि‍ पि‍छले साल के मुकाबले इस साल हैचबैक और सेडान सेगमेंट ज्‍यादा बेहतर रहेंगे।  

 

रूरल मार्केट में 8 से 9 फीसदी रह सकती है ग्रोथ

 

उन्‍होंने कहा कि‍ पि‍छले साल पैसेंजर कार सेल्‍स की ग्रोथ 3 से 4 फीसदी रही लेकि‍न इस साल उम्‍मीद है कि‍ सेडान और हैचबैक सेगमेंट की ग्रोथ औसतन करीब 6 से 7 फीसदी रह सकती है। हालांकि‍, ग्रोथ वि‍भि‍न्‍न कारकों जैसे ब्‍याज दरें, पेट्रोल-डीजल की कीमतें और मानसून पर नि‍र्भर रहती है। राजा ने कहा कि‍ बीते साल रूरल सेगमेंट से डिमांड पैदा हुई थी। हमारा मानना है कि‍ इस साल यह ग्रोथ 8 से 9 फीसदी रह सकती है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट