Home » Auto » Industry/ Trends4 Safest made in India cars, safest and affordable cars in India

4 सबसे सेफ मेड इन इंडिया कारें, विदेशों में भी मचा रही हैं धूम

भारत में बनी कारों को कई देशों में एक्सपोर्ट किया जा रहा है...

1 of

नई दिल्ली। इंडियन ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री ने अपनी कारों को ग्लोबल स्टैंडर्ड पर लाने के लिए कई सेफ्टी फीचर्स और टेक्नोलॉजीज को यूज करना शुरू कर दिया है। कार कंपनियों के लिए 1 अप्रैल 2019 से नए सेफ्टी नॉर्म्स को लागू करना अनिवार्य हो जाएगा। इससे पहले ही कई मेड इन इंडिया कारें ग्लोबल NCAP टेस्ट में न केवल पास हुईं है बल्कि उनको 4 स्टार सेटिंग भी मिली है। यहां हम आपको ऐसी कारों के बारे में बता रहे हैं जो भारत में बनी हैं और उनका परफॉर्मेंस क्रैश टेस्ट में काफी बेहतरीन रहा है।  

 

टाटा Nexon

 

भारत में बनी कारों के लि‍ए ग्‍लोबल NCAP द्वारा कि‍ए गए क्रैश टेस्‍ट के लेटेस्‍ट राउंड में सब-कॉम्पैक्‍ट एसयूवी Tata Nexon को 4 स्‍टार रेटिंग मि‍ली है। टाटा नेक्‍सॉन को एडल्‍ट ऑक्‍युपेंट सेफ्टी के लि‍ए 4 स्‍टार और चाइल्‍ड ऑक्‍युपेंट सेफ्टी के लि‍ए 3 स्‍टार मि‍ले हैं। NCAP की ओर से जर्मनी के म्‍यूनि‍ख में मौजूद टेस्‍ट लैप में 64 Kmph पर स्टैंडर्ड फ्रंटल ऑफसेट टेस्‍ट कि‍या गया। NCAP के टेस्‍ट रि‍जल्‍ट पॉजि‍टि‍व रहे हैं और कार को 'स्‍टेबल' बताया गया है। टाटा नेक्सॉन का एक्सपोर्ट श्रीलंका में भी शुरू किया गया है।

 

कंपनी ने क्‍या कहा
 
टाटा मोटर्स के पैसेंजर व्‍हीकल बि‍जनेस यूनि‍ट के प्रेसि‍डेंट मयंक पारीख ने कहा कि‍ इन परि‍णामों के साथ ही नेक्सॉन भारत की सबसे सेफ सब कॉम्‍पैक्‍ट एसयूवी बन गई है। हमारे नेक्‍सॉन कस्‍टमर्स के लि‍ए आज यह गर्व की बात है। हमारा बेस्‍ट क्‍वालि‍टी प्रोडक्‍ट देने का सफर आगे भी बना रहेगा।    
 
ये चीजें नेक्सॉन को बनाती हैं सेफ
 
टाटा नेक्‍सॉन के सभी इंजन या गि‍यरबॉक्‍स ऑप्‍शन के साथ-साथ सभी वेरि‍एंट्स में डुअल एयरबैग स्‍टैंडर्ड फीचर्स है। नेक्‍सॉन के सभी मॉडल्‍स में प्री-टेंशनर्स के साथ सीट बेल्‍ट, ISOFIX चाइल्‍ड सीट एंक्रोरेंज और एबीएस स्‍टैंडर्ड फीचर्स हैं। सभी मॉडल्‍स में हाई लेवल के सेफ्टी इक्‍युप्‍मेंट को स्‍टैंडर्ड फीचर्स के तौर पर दि‍या गया है। यह एक बड़ा कारण है कि‍ टाटा नेक्‍सॉन को हाई स्‍कोर मि‍ला है। 
 
टेस्‍ट में पाया गया है कि‍ फ्रंट ऐंड पर पैसेंजर एरि‍या सेफ और वहां कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ है। कार का ए-पि‍लर भी सही है। इसके अलावा, ISOFIX चाइल्‍ड रि‍स्‍ट्रेंट सि‍स्‍टम (CRS) की वजह से चाइल्‍ड ऑक्‍युपेंट प्रोटेक्‍शन को 3 स्‍टार मि‍ले हैं।

 

आगे पढ़ें...

 

ह्युंडई क्रेटा

 

ह्युंडई की सबसे सफल और पॉपुलर कॉम्पैक्ट एसयूवी क्रेटा को भी क्रैश टेस्ट में परफॉर्मेंस काफी अच्छा रहा है। मेड इन इंडिया क्रेटा को कई मार्केट्स में एक्सपोर्ट भी किया जाता है। हाला ही में लैटिन NCAP टेस्ट में भारत में बनी क्रेटा को 4 स्टार रेटिंग मिली है। हालांकि, यह लेफ्ट हैंड ड्राइव वर्जन है। इस कार को मैक्सिमम 17 प्वाइंट में से 15.57 प्वाइंट मिले हैं। इस कार में डुअल एयरबैग है जोकि स्टैंडर्ड फीचर है।  

 

आगे पढ़ें...

 

जीप कम्पास

 

मेड इन इंडिया जीप कम्पास को आस्ट्रेलिया NCAP क्रैश टेस्ट में 5 रेटिंग मिली है। जीप कम्पास को भारत में बना कर आस्ट्रेलिया और जापान में एक्सपोर्ट किया जा रहा है। यह दोनों ही राइट हैंड ड्राइव मार्केट्स हैं। कम्पास के राइट हैंड ड्राइव वर्जन को फिएट के रंजनगांव प्लांट में बनाया जा रहा है। इसी कार को भारत में भी बेचा जाता है।

 

आगे पढ़ें...

 

टोयोटा इटिओस लिवा

 

लिवा में डुअल एयरबैग्स को स्टैंडर्ड फीचर्स के तौर पर रखा गया है। साल 2016 में हुए ग्लोबल NCAP टेस्ट में लिवा को एडल्ट प्रोटेक्शन के लिए 4 स्टार मिले और चाइल्ड प्रोटेक्शन के लिए 2 स्टार मिले हैं।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट