Home » Auto » Industry/ Trendsyou have to wait more for Royal Enfield

Royal Enfield: बढ़ सकता है वेटिंग पीरियड

कर्मचारियों की नाराजगी से प्रभावित हो सकता है उत्पादन

you have to wait more for Royal Enfield

नई दिल्ली।  

Royal Enfield खरीदने का मन बना रहे हैं तो जल्दी कर लें। कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से Royal Enfield का उत्पादन इस माह में प्रभावित हो सकता है। त्योहारी सीजन होने के कारण अक्टूबर-नवंबर में बाइक की बिक्री अधिक होती है। पिछले दो दिनों से चेन्नई स्थित Royal Enfield की उत्पादन यूनिट का काम प्रभावित हो रहा है। रॉयल एनफील्ड की मूल कंपनी आयशर मोटर्स लिमिटेड की तरफ से एक्सचेंजों को दी गई जानकारी के मुताबिक 24 सितंबर को इस यूनिट कर्मचारियों के एक वर्ग काम पर नहीं पहुंचे और इस वजह से सितंबर 2018 में 10,000 मोटरसाइकिल का उत्पादन प्रभावित हुआ। सितंबर में रॉयल एनफील्ड की बिक्री 71,662 यूनिट  थी पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 2 फीसदी ज्यादा है।

फिर शुरू हुई हड़ताल

यूनियन सूत्रों के मुताबिक कर्मचारियों के एक समूह ने पिछले सोमवार को फिर से हड़ताल शुरू कर दी। मैनेजमेंट की तरफ से उन्हें फैक्टरी के भीतर मोबाइल फोन ले जाने से रोक दिया गया थी। रविवार को करीब 700 स्थायी कर्मचारी काम से अनुपस्थित रहे। कर्मचारियों की मांग है कि प्रबंधन या तो उन्हें मोबाइल फोन फैक्टरी के अंदर ले जाने दे या फिर मोबाइल फोन रखने के लिए लॉकर उपलब्ध कराए।

कितना है वेटिंग पीरियड

Royal Enfield के बढ़ते क्रेज के साथ इसका वेटिंग पीरियड भी बढ़ता जा रहा है। हालांकि कई छोटे शहरों में वेटिंग पीरियड काफी कम है या नहीं है। Royal Enfield के डीलरों ने बताया कि बुलेट 350 लेने के लिए दिल्ली व बंगलुरु में 15 दिनों का वेटिंग पीरियड है। वहीं मुंबई में बुलेट 350 के लिए 20 दिनों की तो कोच्चि में 25 दिनों का वेटिंग पीरियड चल रहा है। हालांकि चेन्नई, अहमदाबाद, जयपुर, लखनऊ जैसे शहरों में बुलेट 350 के लिए कोई वेटिंग पीरियड नहीं है। क्लासिक 350 के लिए मुंबई, पुणे, अहमदाबाद व कोच्चि में एक महीने का वेटिंग पीरियड चल रहा है। डीलरों के मुताबिक अगर चेन्नई के प्लांट में उत्पादन प्रभावित होता है तो निश्चित रूप से Royal Enfield का वेटिंग पीरियड बढ़ जाएगा क्योंकि नवरात्र में डिलिवरी के लिए पहले से ही काफी बुकिंग चल रही है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट