बिज़नेस न्यूज़ » Auto » Industry/ Trendsपार्किंग की समस्या से तंग आकर बना डाली फोल्डेबल कार

पार्किंग की समस्या से तंग आकर बना डाली फोल्डेबल कार

सफर में 10 मिनट लगते थे लेकिन कार पार्क करने के लिए जगह खोजने में 30 मिनट लग जाते थे

parking problem inspired to make foldable car

 

नई दिल्ली। पार्किंग की समस्या भारत के सभी बड़े शहरों में हैं। दिल्ली और मुंबई में तो पार्किंग को लेकर अक्सर मारपीट तक की नौबत आ जाती है। कमोबेश यही हाल इजरायल में भी है। तभी तो तेल अवीव के एक शख्स ने पार्किंग की समस्या से तंग आकर फोल्डेबल कार बना डाली। असल में तेल अवीव में एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने में अगर 10 मिनट लगते हैं तो पहुंचने के बाद कार पार्क करने के लिए जगह खोजने में 30 मिनट लग सकते हैं। इस प्रकार के कड़वे अनुभव से दुखी होकर इजरायल के दो उद्यमी असफ फोरमोजा एवं उदी मेरीडोर ने फोल्डेबल कार बनाने की ठान ली।

 

 

फोल्डेबल  कार बनाने के लिए बनाई कंपनी

वर्ष 2014 में दोनों शख्स ने सिटी ट्रांसफॉर्मर लिमिटेड नामक कंपनी बनाई। कंपनी ने कई प्रयोग के बाद एक अल्ट्रा लाइट व्हीकल विकसित किया, जिसके चेसिस को एक बटन की मदद से फोल्ड किया जा  सकता था। इस व्हीकल की सबसे बड़ी खासियत है कि एक व्हीकल के पार्क होने की जगह में पांच अल्ट्रा लाइट व्हीकल को पार्क किया जा सकता है। अभी इस कार को अंतिम रूप से देने का काम किया जा रहा है। टेक मैगजीन सीटेक में छपी खबरों के मुताबिक फोल्डेबल कार विकसित करने वाले फोरमोजा को इस बात की तकलीफ थी कि बुजुर्गों को कार पार्किंग की जगह नहीं मिलती है और वे अपनी कार को भार समझने लगे हैं।

 

 

दो साल में बाजार में आएगी फोल्डेबल कार

सीटेक के मुताबिक फोल्डेबल कार को विकसित करने का काम जारी है। यह कार फोल्ड होने के बाद 45 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती है। अनफोल्ड होकर इसे 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलाया जा सकता है। फोल्डेबल कार को बाजार में उतारने के लिए इजरायल की नियामक बॉडी से मंजूरी ली जा रही है। बाजार में फोल्डेबल कार को कमर्शियल रूप से उतारने में दो साल का वक्त लग सकता है।

 

 

अगले साल पायलट प्रोग्राम

फोल्डेबल कार को विकसित करने वाले फोरमोजा के मुताबिक अगले दो-तीन महीने में वह प्री-ऑर्डर बुकिंग करने लगेंगे। इस कार को बनाने वाली कंपनी सिटी ट्रांसफॉर्मर अगले साल तेल अवीव में पायलट प्रोग्राम लॉन्च करने जा रही है। इस प्रोग्राम के तहत सिटी के भीतर लोगों को फ्री-राइड ऑफर किए जाएंगे। कुछ साल के बाद कंपनी ने कार शेयरिंग सर्विस शुरू करने की योजना बनाई है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट