बिज़नेस न्यूज़ » Auto » Industry/ Trendsइस कार के लि‍ए 44 करोड़ तक लगी बोली, कभी हिटलर खुद चलाता इसे

इस कार के लि‍ए 44 करोड़ तक लगी बोली, कभी हिटलर खुद चलाता इसे

ऐतिहासि‍क कारों में से एक 1939 लग्‍जरी मर्सडीज बेंज 770के ग्रोसर ऑफेनर को नीलाम कि‍या जा रहा है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। दुनि‍या की सबसे ऐतिहासि‍क कारों में से एक 1939 लग्‍जरी मर्सडीज बेंज 770के ग्रोसर ऑफेनर को नीलाम कि‍या जा रहा है। यह कार ऐतिहासि‍क इसलि‍ए है क्‍योंकि‍ इस कार को हि‍टलर ने खुद ऑर्डर देकर बनाया था। इस कार इस्‍तेमाल हि‍टलर नाजी सैनि‍कों को सलामी देने के लि‍ए करते था। 

 

इस कार की नीलामी शुरू हुई और बोलि‍यां भी लगीं इसके बावजूद इसे नीलाम नहीं कि‍या गया। इस कार की नीलामी स्‍कॉट्सडेल में 17 जनवरी को वर्ल्‍ड वाइड ऑक्‍शनर इवेंट में की गई है। खास बात यह है कि‍ हिटलर की इस कार को दूसरे विश्व युद्ध के दौरान अमेरिकी और फ्रांस की फौज ने सीज कर दिया था। इस कार को मिलि‍ट्री पोलि‍स मोटर पूल में डाल दि‍या गया था। इस कार के लि‍ए 70 लाख डॉलर (करीब 44 करोड़ रुपए) की बोली लग चुकी है। 

 

आगे पढ़ें...

 

हि‍टलर की रैली में थी यह कार

 

माना जाता है कि‍ यह कार सबसे पहले अक्टूबर 1939 में सामने आई थी। उस वक्त बर्लिन में हिटलर ने इस कार के साथ रैली की थी। मर्सडीज-बेंज 770 ग्रोसर कार के सिर्फ पांच मॉडल ही मौजूद हैं। कहा जा रहा है कि इस कार की नीलामी से जो पैसा मिलेगा उसका 10 फीसदी शिक्षा के लिए फंड दिया जाएगा। 

 

आगे पढ़ें...

 

हि‍टलर खुद चलाता था यह कार

 

कार की नीलामी से जुड़े जॉन क्रूज का कहना है कि यह कार हिटलर को बेहद पसंद थी। वो खुद इस कार को चलाते थे। यह कार खास तौर पर हिटलर के लिए तैयार की गई थी।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट