Home » Auto » Industry/ Trendssoon mahindra and tata may discontinue these cars

जल्द बंद हो सकती हैं महिंद्रा-टाटा की 4 कारें, खरीदने से पहले देख लें लि‍स्‍ट

इन मॉडल्‍स की सेल्‍स में कोई सुधार नहीं देखा जा रहा है और यह कंपनी को खास फायदा नहीं पहुंचा पा रही हैं।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। इंडि‍यन ऑटोमोबाइल मार्केट में कस्‍टमर्स की पसंद तेजी से बदल रही है। जि‍न कारों की डि‍मांड कुछ साल पहले तक थी उनकी सेल्‍स में अब गिरावट आ रही है। यह मामला महिंद्रा और टाटा मोटर्स के साथ देखा जा रहा है। इन दोनों कंपनि‍यों की 4 कारें ऐसी हैं जि‍नकी डि‍मांड लगातार घटती जा रही है और वह कंपनी के लि‍ए फायदे का सौदा नहीं बचीं हैं। इन कारों में महिंद्रा नूवास्‍पोर्ट से लेकर टाटा बोल्‍ट तक शामि‍ल हैं। कंपनि‍यों ने भी कहा है कि‍ वह कस्‍टमर्स की जरूरतों के हि‍साब से अपने पोर्टफोलि‍यो को बदल रही हैं।

 

यहां हम उन मॉडल्‍स की बात कर रहे हैं जि‍न्‍हें 2018 में भारत में बेचना बंद कि‍या जा सकता है। ऐसा इसलि‍ए भी क्‍योंकि‍ इन मॉडल्‍स की सेल्‍स में कोई सुधार नहीं देखा जा रहा है और यह कंपनी को खास फायदा नहीं पहुंचा पा रही हैं।

 

महिंद्रा नूवोस्‍पोर्ट

 

महिंद्रा ने अपनी क्‍वांटो को कुछ बदलाव और नए फीचर्स के साथ रीब्रांडिंग करते हुए नूवोस्‍पोर्ट को पेश कि‍या था लेकि‍न इंडि‍यन मार्केट में इस कार को कोई खास रि‍स्‍पॉन्‍स नहीं मि‍ला है। साल 2018 के पहले 5 माह में नूवोस्‍पोर्ट की कुल सेल 5 यूनि‍ट्स ही रही है। वहीं, मई 2018 में इसकी एक भी यूनि‍ट नहीं बि‍की है। ऐसे में इस कार को जल्‍द ही बंद कि‍या जा सकता है।

 

आगे पढ़ें...

 

महिंद्रा वेरि‍टो डीजल

 

साल 2017 की दूसरी छमाही में महिंद्रा वेरि‍टो की टोटल सेल्‍स 300 यूनि‍ट्स भी नहीं रही है। क्‍योंकि‍ महिंद्रा इलेक्‍ट्रि‍क व्‍हीकल सेगमेंट सबसे आगे है ऐसे में यह माना जा रहा है कि‍ 2018 में वेरि‍टो का केवल इलेक्‍ट्रि‍क वर्जन ही उपलब्‍ध होगा और इसके डीजल वर्जन को बंद कर दि‍या जाएगा। साल 2018 के पहले पांच माह में वेरि‍टो, वाइब की केवल 500 यूनि‍ट्स को बेचा गया है। 

 

आगे पढ़ें...

 

टाटा बोल्‍ट

 

टाटा मोटर्स की ओर से कहा जा चुका है कि‍ वह साल 2018 में अपने कमर्शि‍यल और पैसेंजर व्‍हीकल सेगमेंट में कटौती करेगी। यही वजह है कि‍ इंडि‍का और इंडि‍गो का प्रोडक्‍शन बंद कर दि‍या गया। इसी तरह टाटा मोटर्स की बोल्‍ट को भी बंद कि‍या जा सकता है। बोल्‍ट की पॉजि‍शन टि‍आगो-टि‍गोर लॉन्‍च होने के बाद खराब हो गई है क्‍योंकि‍ यह समान प्राइस सेगमेंट की कार है। बोल्‍ट की औसतन सेल्‍स केवल 200 यूनि‍ट्स है और कंपनी की ओर से इस कार को कि‍सी तरह का प्रमोशन नहीं कि‍या जा रहा है। 

 

आगे पढ़ें...

 

टाटा नैनो

 

साल 2009 में लॉन्‍च हुई टाटा नैनो का प्रोडक्‍शन भी बंद कि‍या जा सकता है। साल 2018 के पहले पांच महीने में टाटा नैनो की केवल 205 यूनि‍ट्स ही बेची गई हैं। ऐसे में इस कार भी सफर खत्‍म हो सकता है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट