Home » Auto » Industry/ Trendsthings to consider before transport your two wheeler via train

दूसरे राज्‍य में ले जा रहे हैं अपनी मोटरसाइकि‍ल, तो इन बातों का रखें ध्‍यान

जब अपने शहर को छोड़कर दूसरे शहर में काम करने जाते हैं तो वह अपनी सुवि‍धा के लि‍ए मोटरसाइकि‍ल या स्‍कूटर को भी लेकर आते ह

1 of

नई दि‍ल्‍ली। कई लोग जब अपने शहर को छोड़कर दूसरे शहर में काम करने जाते हैं तो वह अपनी सुवि‍धा के लि‍ए मोटरसाइकि‍ल या स्‍कूटर को भी लेकर आते हैं। वहीं, कुछ लोग ऐसे भी रहते हैं तो इसी दूसरी जगह ट्रैवल करने के लि‍ए अपना टू-व्‍हीलर ले जाते हैं। अगर आप ट्रेन से अपना टू-व्‍हीलर लेकर जा रहे हैं तो आपको कुछ चीजों का ध्‍यान रखना होगा ताकि‍ आपके व्‍हीकल को कोई नुकसान न हो। इसके अलावा, ट्रेन से टू-व्‍हीकल को ट्रांसपोर्ट करने के लि‍ए भी कुछ बातों को जानना होगा। 

 

दो तरीकों से ट्रेन में बुक कर सकते हैं टू-व्‍हीलर

 

अगर आप ट्रेन से अपनी अपनी मोटरसाइकि‍ल या स्‍कूटर को ले जा रहे हैं या भेज रहे हैं तो दो तरीके से इसकी बुकिंग की जा सकती है।

 

पहला तरीका : पार्सल के तौर पर
दूसरा तरीका : पैसेंजर के साथ (लगैज के तौर पर) 

 

पार्सल के तौर पर बुक करने का तरीका

 

-अगर आप ट्रेन में सफर नहीं कर रहे हैं तो आपको टू-व्‍हीकल को पार्सल के तौर पर बुक करना होगा। 
-आपको टू-व्‍हीलर के रजि‍स्ट्रेशन सर्टि‍फि‍केट की फोटोकॉपी के साथ पार्सल ऑफि‍स में जाना होगा।
-बुकिंग के पहले टू-व्‍हीकल को सही ढंग से पैक करना बेहद जरूरी है।
-टू-व्‍हीलर को पैक करने से पहले यह चुनिंद कर लें कि‍ पेट्रोल टैंक पूरी तरह से खाली हो गया है।
-कार्टबोर्ड पर जाने और पहुंचने वाले स्‍टे
शन को साफ तरीके से लि‍खें। 
-कार्टबोर्ड को टू-व्‍हीलर के साथ बांधें।
-आपको एक फॉर्म दि‍या जाएगा जि‍से आपको भरना होगा। इसमें आपको जि‍स स्‍टेशन से पार्सल जा रहा है और जि‍स स्‍टेशन तक पार्सल जाएगा, उसे लि‍खना होगा।
-इसके अलावा, पोस्‍टल एड्रेस, व्‍हीकल कंपनी, रजि‍स्‍ट्रेशन नंबर, व्‍हीकल का वजन और व्‍हीकल की कीमत आदि‍ को लि‍खना होगा।  

 

आगे पढ़ें...

 

लगैज के तौर पर बुक करने का तरीका

 

-अगर आप पैसेंजर के तौर पर ट्रेन में सफर कर रहे हैं और व्‍हीलर आपके साथ जा रहा है तो आप इसे लगैज के तौर पर बुक कर सकते हैं।
-आपको ट्रेन के जाने के वास्‍तवि‍त समय से आधा घंटा पहले पहुंचना पड़ेगा।
-टू-व्‍हीलर की पैकिंग, लेब्‍लिंग और मार्किंग का तरीका वैसा ही रहेगा जैसा पार्सल बुक करने में रहता है।
-टू-व्‍हीलर को लगैज के तौर पर बुक करने वक्‍त आपको ट्रेन तरीक को साथ दि‍खाना होगा। इसके एक फोटोकॉपी भी करवा सकते हैं।
-आपको पेमेंट का लगैज टि‍कट दि‍या जाएगा और उसे आपकी ट्रेन टि‍कट में लि‍खा और शामि‍ल कि‍या जाएगा।
-टू-व्‍हीलर की डिलि‍वरी के वक्‍त ट्रेन टि‍कट और लगैज टि‍कट को देना होगा।      

 

आगे पढ़ें...

 

पैकिंग करते हुए इन बातों का रखें ध्‍यान

 

-ऑरि‍जनल रजि‍स्‍ट्रेशन सर्टि‍फि‍केट और इंश्‍योरेंस पेपर को अपने साथ में रखना न भूलें।
-पैकिंग करते वक्‍त ध्‍यान रहे कि‍ मैट्रेस नरम हो ताकि‍ पेंट को कोई नुकसान न हो, साथ ही मोटरसाइकि‍ल को नुकसान न पहुंचे।
-इसके अलावा, मोटरसाइकि‍ल या स्‍कूटर के क्‍लच और ब्रेक लीवर्स को ढीला कर दें ताकि‍ वह नीचे की ओर लटक जाए। 
-हैंडल बार के साथ भी ऐसा ही करें।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट