Home » Auto » Industry/ Trends2017 में इन कारों का भारत में खत्‍म हुआ सफर- list of cars discontinued in India during 2017

2017 में इन कारों का भारत में खत्‍म हुआ सफर, ये है लि‍स्‍ट

हर साल ऐसा होता है कि‍ कुछ मॉडल्‍स की सेल्‍स काफी अच्‍छी रहती तो कुछ मॉडल्‍स फेल हो जाते हैं।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। हर साल ऐसा होता है कि‍ कुछ मॉडल्‍स की सेल्‍स काफी अच्‍छी रहती तो कुछ मॉडल्‍स फेल हो जाते हैं। साल 2017 में भी कुछ ऐसा ही हुआ। ऐसी कई कारें रहीं जि‍नका सफर भारत में इस साल खत्‍म हो गया। इसके पीछे उनकी गि‍रती सेल और दूसरी कारों की लॉन्चिंग रही है। मारुति‍ सुजुकी इंडि‍या, ह्युंडई मोटर, रेनो, महिंद्रा आदि‍ कंपनि‍यों ने अपने चुनिंदा मॉडल्‍स का प्रोडक्‍शन बंद कर दि‍या। 

 

मारुति‍ सुजुकी रि‍ट्ज
 
देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति‍ सुजुकी इंडि‍या (एमएसआई) ने अपनी पॉपुलर हैचबैक कारों में से एक रि‍ट्ज की बि‍क्री डोमेस्‍टि‍क और इंटरनेशनल मार्केट्स में बंद कर दि‍या है। साल 2009 में लॉन्‍च हुई रि‍ट्ज (पेट्रोल और डीजल) के करीब 4 लाख यूनि‍ट्स बेची हैं।
 
मारुति‍ के स्‍पोक्‍सपर्सन ने इस डेवलपमेंट की पुष्‍टि‍ करते हुए कहा कि‍ अपने प्रोडक्‍ट पोर्टफोलि‍यो में बदलाव करते हुए हम अपने पोर्टफोलि‍यो को लगातार रीव्‍यू करते हैं ताकि‍ नए मॉडल्‍स को पेश कि‍या गया है। स्‍पोक्‍सपर्सन ने यह भी कहा कि‍ मारुति‍ सुजुकी ने अगले 10 सालों के लि‍ए स्‍पेयर पार्ट्स और सर्वि‍स की उपलब्‍धता को सुनि‍श्‍चि‍त किया है।

 

आगे पढ़ें...

 

 

होंडा मोबि‍लि‍यो 
 
जापान की कार कंपनी होंडा ने अपने मल्टी पर्पस व्हीकल (एमवीपी) मोबिलियो की भारत में बिक्री बंद कर दी है। इसकी लॉन्चिंग 31 महीने पहले की गई थी। अब इसका प्रोडक्शन बंद कर दिया गया है। खराब डिमांड की वजह से सेल बंद की गई है।

 

आगे पढ़ें...

 

रेनो की कई कारें हुईं बंद 
  
रेनो इंडि‍या के सीईओ और एमडी सुमि‍त सहानी ने एक इंटरव्‍यू में कहा कि‍ रेनो ने भारत में छह साल पहले ऑपरेशन शुरू कि‍या था और अब हमारे पोर्टफोलि‍यो में तीन कारें - क्‍वि‍ड, डस्‍टर और लॉजी है और अपने पोर्टफोलि‍या को स्‍टेप बाय स्‍टेप बनाएंगे। हम हर साल एक कार को लॉन्‍च कर अपने पोर्टफोलि‍यो का वि‍स्‍तार करेंगे।
 
रेनो पल्‍स
 
कंपनी ने पल्‍स को भी बनाना बंद कर दि‍या है। यह हैचबैक सेगमेंट की कार थी। जून 2017 से अब तक इसका कोई मॉडल नहीं मि‍ला है। इस कार को 2015 में पेश कि‍या गया था। लेकि‍न सेल्‍स खराब होने की वजह से यह सफल नहीं हो पाई। इसकी कीमत 5.08 लाख रुपए से 6.95 लाख रुपए के बीच थी।

 

रेनो स्‍काला
 
रेनो ने अपनी कार स्‍काला को बंद कर दि‍या है। स्‍काला की सेल्‍स मार्च 2017 से अब तब जीरो चल रही है। इससे पहले भी कंपनी इसके 38 यूनि‍ट्स से ज्‍यादा नहीं बेच पा रही थी। इसकी सेल नहीं होने की वजह से कंपनी ने इसका प्रोडक्‍शन बंद कर दि‍या है। इसकी कीमत 7.94 लाख रुपए से 9.39 लाख रुपए के बीच थी। यह सेडान सेगमेंट की कार थी।

 

रेनो Fluence
 
कंपनी ने अपनी कार फ्यूएंस को भी बंद कर दि‍या है। फ्यूएंस लॉन्‍च होने के बाद से ही खराब परफॉर्मेंस दे रही थी। यही वजह है कि‍ कंपनी ने इसे बनाना बंद कर दि‍या है।

 

रेनो Koleos
 
रेनो ने इस कार को भी बनाना बंद कर दि‍या है। Koleos की सेल्‍स पि‍छले साल से ही नहीं हो रही है। यही वजह है कि‍ इसका प्रोडक्‍शन बंद कर दि‍या गया।

 

आगे पढ़ें...

 

ह्युंडई सेंटा फे
 
ह्युंडई मोटर ने भारत में अपनी एक मात्र सात सीटर कार सेंटा फे को बंद कर दि‍या है। कंपनी ने सेंटा फे को अपनी ऑफि‍शि‍यल वेबसाइट से हटा दि‍या है। इसे हटाने के पीछे गि‍रती सेल्‍स बताया जा रहा है। सेंटा फे की कीमत दूसरी कॉम्‍पीटिटर कारों जैसे टोयोटा फॉच्‍यूर्नर और फोर्ड एंडेवर से काफी ज्‍यादा थी।

 

आगे पढ़ें...

 

महिंद्रा की कार
 
महिंद्रा एंड महिंद्रा के स्‍पोक्‍सपर्सन ने इस बात की पुष्‍टि करते हुए कहा है कि‍ ऑटोमैटि‍क ट्रांसमि‍शन ने अपने समय में स्‍कॉर्पि‍यो को काफी मजबूत कि‍या है और अब उसे बंद कर दि‍या गया है। स्‍पोक्‍सपर्सन ने कहा कि‍ कंपनी की ओर स्‍कॉर्पि‍यो में ऑटोमैटि‍क ट्रांसमि‍शन को पेश करने पर वि‍चार केवल मार्केट की जरूरत के आधार पर कि‍या जाएगा। कंपनी ने न्‍यू जेनरेशन स्‍कॉर्पि‍यो का ऑटोमैटि‍क वेरि‍एंट 2015 में लॉन्‍च कि‍या है। इसकी कीमत 13.13 लाख से 14.33 लाख रुपए (एक्‍स शोरूम दि‍ल्‍ली) रखी गई थी।  
 
आगे पढ़ें...

 

शेवरले की सबसे पॉपुलर कार
 
जनरल मोटर्स ने इस साल ऐलान कर दि‍या था कि‍ वह भारत में अपनी कारों को बेचना बंद कर रही है। 31 दि‍संबर 2017 के बाद इन कारों को नहीं बेचा जाएगा। वहीं, जनरल मोटर इंडि‍या का भारत में मौजूद ब्रांड शेवरले केवल कारों को एक्‍सपोर्ट करेगा। ऐसे में कंपनी की सभी कारें भारत में बि‍कनी बंद हो गई हैं।  

 

बीट

 

कंपनी की सबसे पॉपुलर कार बीट रही है। इसकी सेल्‍स में सालाना आधार पर 57 फीसदी की गि‍रावट दर्ज की गई है। अब इसकी कोई भी यूनि‍ट भारत में नहीं बि‍क रही है।

 

टवेरा
 
टवेरा का सबसे ज्‍यादा यूज कैब सर्वि‍स और टूर सर्वि‍स में कि‍या जाता है। शेवरले ने अप्रैल 207 में टवेरा के 487 यूनि‍ट्स को बेचा जबकि‍ एक साल पहले इसी माह के दौरान यह आंकड़ा 871 यूनि‍ट्स था। अब इसकी कोई भी यूनि‍ट भारत में नहीं बि‍क रही है।

 

आगे पढ़ें...

 

शेवरले क्रूज
 
शेवरले की लग्‍जरी कार क्रूज को भी भारत में बेचा जा रहा था। 

 

सेल सेडान
 
शेवरले भारत में सेडान कार सेल को भी बेच रही थी। 

 

शेवरले ट्रेलब्‍लेजर
 
शेवरले ट्रेलब्‍लेजर को भी बेच रही थी। अब इसकी कोई भी यूनि‍ट भारत में नहीं बि‍क रही है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट