Home » Auto » Industry/ Trendsफोर्ड इंडि‍या बनी नंबर 1 कार एक्‍सपोर्टर - ford india no 1 and tata out from top 10 car exporters

फोर्ड इंडि‍या बनी नंबर 1 कार एक्‍सपोर्टर, टॉप 10 की लि‍स्‍ट से टाटा मोटर्स हुई बाहर

ऑटोमोबाइल मैन्‍युफैक्‍चरर्स की ओर से टॉप एक्‍सपोर्ट्स बनने की होड़ लगी हुई है।

1 of

 

 
नई दि‍ल्‍ली। ऑटोमोबाइल मैन्‍युफैक्‍चरर्स के बीच कारों को एक्‍सपोर्ट करने की होड़ लगी हुई है। ऐसे में देश की बड़ी कंपनी टाटा मोटर्स टॉप 10 कार एक्‍सपोर्ट्स की लि‍स्‍ट से ही बाहर हो गई है। वहीं, अमेरिकी कार कंपनी की भारतीय ईकाई फोर्ड इंडि‍या और ह्युंडई मोटर्स इंडि‍या लि. के बीच नंबर वन एक्‍सपोर्टर पॉजि‍शन के लि‍ए मुकाबला चल रहा है। हालांकि‍, इस मामले में फोर्ड इंडि‍या ने बाजी मार ली है। सोसाइटी ऑफ इंडि‍यन ऑटोमोबाइल मैन्‍युफैक्‍चरर्स (सि‍आम) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबि‍क, फोर्ड इंडि‍या ने 8 महीने (अप्रैल-नवंबर 2017-18) में 1,12,404 कारों को एक्‍सपोर्ट कि‍या है। इन आंकड़ों के साथ फोर्ड इंडि‍या नंबर वन कार एक्‍सपोर्टर बन गई है। 
 
टॉप 10 की लि‍स्‍ट से टाटा मोटर्स बाहर
  
टाटा मोटर्स इस लि‍स्‍ट से बाहर हो गई है। टाटा मोटर्स अपने पोर्टफोलि‍यो को सुधारने का काम रही है और वह डोमेस्‍टि‍क मार्केट पर फोकस कर रही है। टाटा मोटर्स ने टि‍गोर, नेक्‍सॉन, टि‍आगो और हैक्‍सा जैसी नई कारों को लॉन्‍च कर अपने पोर्टफोलि‍यो में शामि‍ल कि‍या है। हालांकि‍, कंपनी ने 8 माह में केवल 1,307 यूनि‍ट्स का ही एक्‍सपोर्ट कि‍या है, इसमें 59.51 फीसदी की गि‍रावट दर्ज की गई। 
 
इसी दौरान, महिंद्रा एंड महिंद्रा (एमएंडएम) की एंट्री टॉप 10 पैसेंजर व्‍हीकल्‍स की लि‍स्‍ट में हो गई है। हालांकि‍, कंपनी के एक्‍सपोर्ट में सालाना आधार पर 46.96 फीसदी की गि‍रावट आई है। कंपनी ने इस दौरान 3,976 व्‍हीकल्‍स को एक्‍सपोर्ट कि‍या है। कंपनी के प्रमुख एक्‍सपोर्ट मार्केट्स में अफ्रीका और साउथ अमेरि‍का है।
 
डोमेस्‍टि‍क डि‍मांड पूरी करने में लगी है ह्युंडई
 
ह्युंडई मोटर इंडि‍या लि‍. के डायरेक्‍टर (सेल्‍स एंड मार्केटिंग) राकेश श्रीवास्‍तव ने बताया कि‍ कंपनी के लि‍ए डोमेस्‍टि‍क मार्केट काफी अहम है और नए प्रोडक्‍ट्स को देश में उपलब्‍ध कराना जरूरी है। यही वजह है कि‍ एक्‍सपोर्ट में कटौती करने पड़ी है। मौजूदा समय में ह्युंडई वरना के लि‍ए करीब 3 माह का और क्रेटा के लि‍ए 1.5 माह का वेटिंग पीरि‍यड चल रहा है। हाल ही में कंपनी को वरना के लि‍ए मि‍डल ईस्‍ट से भी ऑर्डर मि‍ला है जि‍से हमें पूरा करना है। वहीं, डोमेस्‍टि‍क मार्केट में वरना के लि‍ए 4 माह के दौरान 24 हजार कारों की बुकिंग मि‍ल चुकी है। 
 
उन्‍होंने यह भी कहा कि‍ हमने साल 2017 में 6.72 लाख यूनि‍ट्स का टारगेट रखा है जि‍समें डोमेस्‍टि‍क 5.25 लाख यूनि‍ट्स रहेगा और बाकी एक्‍सपोर्ट होगा। आंकड़ों के मुताबि‍क, अप्रैल-नवंबर 2017-18 के दौरान ह्युंडई ने 97,078 यूनि‍ट्स को एक्‍सपोर्ट कि‍या जोकि‍ सालाना आधार पर 18.38 फीसदी कम है।  
 
गुजरात प्‍लांट में प्रोडक्‍शन बढ़ा रही है मारुति‍ सुजुकी इंडि‍या
 
मारुति‍ सुजुकी इंडि‍या अपने गुजराज प्‍लांट में प्रोडक्‍शन को बढ़ा रही है। मारुति‍ सुजुकी इंडि‍या के वरि‍ष्‍ठ अधि‍कारी ने बताया कि‍ कंपनी अपनी नई स्वि‍फ्ट और बलेनो के करीब 1000 यूनि‍ट्स को बना रही है। इसके अलावा, बलेनो के प्रोडक्‍शन को पूरी तरह से मानेसर में शि‍फ्ट करने की प्‍लानिंग भी चल रही है। आंकड़ों के मुताबि‍क, मारुति‍ सुजुकी ने 8 माह के दौरान 79,181 यूनि‍ट्स को एक्‍सपोर्ट कि‍या है।   
 
कार कंपनी कार एक्‍सपोर्ट
फोर्ड इंडि‍या 1,12,404
ह्युंडई मोटर इंडि‍या 97,078
मारुति‍ सुजुकी 79,181
फॉक्‍सवैगन इंडि‍या 63,955
जनरल मोटर्स इंडि‍या 56,622
नि‍सान मोटर इंडि‍या 41,628
टोयोटा कि‍र्लोस्‍कर 10,709
रेनो इंडि‍या 8,060
महिंद्र एंड महिंद्रा 3,976
होंडा कार्स इंडि‍या 3,392

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट