Home » Auto » Industry/ Trendsअंग्रेजों ने की बेइज्जती, तो इस सरदार ने ऐसे लिया बदला - indian sikh billionaire match turban colour with Rolls Royce

अंग्रेजों ने की बेइज्जती, तो इस सरदार ने ऐसे लिया बदला

लंदन में एक सि‍ख अरबपति‍ ने अंग्रेजों से अपनी बेइज्‍जती का बदला अनोखे अंदाज में लि‍या।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। लंदन में एक सि‍ख अरबपति‍ ने अंग्रेजों से अपनी बेइज्‍जती का बदला अनोखे अंदाज में लि‍या। AlldayPA के सीईओ रूबेन सिंह ने यूके में अपनी रॉल्‍स रॉयस को पगड़ी के अलग-अलग कलर के साथ मैच करते हुए एक चैलेंज को जीत कर दि‍खाया और उनका यह चैलेंज सोशल मीडि‍या पर वायरल हो गया। उन्‍होंने ट्वि‍टर को अपना हथि‍यार बनाते हुए लोगों को बताया कि‍ वह अंग्रेजों को दि‍ए चैलेंज को कैसे पूरा कर रहे हैं। 

 

क्‍या था मामला   

 

दरअसल, रूबेन सिंह की पगड़ी को एक अंग्रेज ने 'बैंडेज' बता दि‍या और उनकी और उनकी पगड़ी की बेइज्‍जती करने की कोशि‍श की। रूबेन ने ट्वि‍टर पर लि‍खा, 'हाल ही में कि‍सी ने मेरी टर्बन को 'बैंडेज' कहा। टर्बन मेरा ताज है और मेरा गर्व। उन्‍होंने अंग्रेज को चैलेंज कि‍या कि‍ वह अपनी टर्बन को अपनी रॉल्‍स रॉयस कारों के साथ मैच करेंगे और वो ही पूरे हफ्ते। अंग्रेज ने शर्त लगाई थी कि‍ रूबेन सिंह अपनी टर्बन को अपनी कार के रंग के समान सात दि‍नों तक नहीं रखते। लेकि‍न रूबेन ने अंग्रेज को अपने अंदाज में करार जवाब दि‍या। 

 

आगे पढ़ें...

फेसबुक फोटो हुई पोस्‍ट

 

टर्बन के कलर के साथ रॉल्‍य रॉयस को मैच करने वाले सिख अरबपति‍ की फोटोज सबसे पहले भारतीय बॉडीबि‍ल्‍डर वरि‍न्‍दर गुहमान ने फेसबुक पर पोस्‍ट की। यह पोस्‍ट वायरल हो गई। उनकी फोटोज को पोस्‍ट होने के बाद ही कुछ समय में 1,800 शेयर्स और 9,000 लाइक्‍स मि‍ल गए।  

 

आगे पढ़ें...

17 साल की उम्र में शुरू कि‍या बि‍जेनस 

 

रूबेन सिंह ने एक फैशन चेन:  Miss Attitude को शुरू किया जोकि‍ 90 के दशक में ब्रि‍टेन में काफी पॉपुलर हो गया। 17 साल की उम्र में उन्‍होंने अपने पहले ‘Miss Attitude' के लि‍ए रोज 20 घंटे से ज्‍यादा काम कि‍या। अपने एम्‍पायर को बढ़ा करने की चाहत से पहले ही वह कर्ज में फंस गए और उनको अपना बि‍जनेस मात्र 1 पौंड (करीब 80 रुपए) में बेचना पड़ा।  

 

आगे पढ़ें...

बर्बाद होने के बाद खड़ा कि‍या एम्‍पायर

 

रूबेन सिंह को अपने दूसरे बि‍जनेस alldayPA पर अपना कंट्रोल खोना पड़ा क्‍योंकि‍ साल 2007 में वह दि‍वालि‍या हो गए। इसके बाद 2007 से 2017 के बीच सिंह ने कड़ी मेहनत से दोबारा सफलतापूर्वक alldayPA पर अपना कंट्रोल वापस हासि‍ल कि‍या और सीईओ बन गए। रूबेन को यूके का बि‍ल गेट्स भी कहा जाता है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट