Home » Auto » Industry/ TrendsHow to detect odometer before buy used car

यूज्‍ड कार के मीटर के साथ होती है छेड़छाड़, खरीदने से पहले 4 स्‍टेप बता देंगे हकीकत

ओडोमीटर में दि‍खने वाले कि‍लोमीटर को कार बेचने से पहले बदल दि‍या जाता है ताकि‍ उसकी कीमत बढ़ाई जा सके।

How to detect odometer before buy used car

नई दि‍ल्‍ली। भारत में सेकंड हैंड कार डीलर से यूज्‍ड गाड़ी खरीदते वक्‍त सबसे बड़ा जोखि‍म होता है, ओडोमीटर (मीटर रीडिंग/माइलेज) के साथ छेड़छाड़। ओडोमीटर में दि‍खने वाले कि‍लोमीटर को कार बेचने से पहले बदल दि‍या जाता है ताकि‍ उसकी कीमत बढ़ाई जा सके। ऐसे कई मामले सामने आए हैं जहां लोगों ने केवल 60 हजार कि‍मी चली सेकंड हैंड कार को खरीदा लेकि‍न कुछ दि‍न बाद ही पता चला कि‍ यह इससे कहीं ज्‍यादा चल चुकी है। इसके बारे में आमतौर पर कार में लगे सर्वि‍स स्‍टि‍कर या ऑथराइज्‍ड सर्वि‍स स्‍टेशन से पता चलता है, जोकि‍ कार का रि‍कॉर्ड रखते हैं।  

 

कैसे होती है छेड़छाड़

 

आजकल सभी कारें डि‍जि‍टल ओडोमीटर के साथ आती हैं जि‍समें सर्कि‍ट बोर्ड के साथ चि‍प लगा रहता है। इस चि‍प में ओडोमीटर की रीडिंग स्‍टोर होती है। मेकैनि‍क या तो बोर्ड में लगी चि‍प की जगह अपनी रीडिंग वाली नई चि‍प को लगा देते हैं या फि‍र OBD2 रीडर्स की मदद से ऑरि‍जनल चिप में रीडिंग को बदल देते हैं। OBD2 रीडर्स को कार में लगे OBD2 पोर्ट से कनेक्‍ट करके ऐसा कि‍या जाता है।  

 

कैसे करें इसकी पहचान

 

मुश्‍कि‍ल बात यह है कि‍ इस फ्रॉड की पहचान करने का कोई सिंगल तरीका नहीं है। आप अपनी समझ या अनुभवी मेकैनि‍क की मदद से इसे ढूंढ सकते हैं। हालांकि‍, कुछ चीजें हैं जि‍ससे आपको पता चल सकता है कि‍ ओडोमीटर के साथ छेड़छाड़ हुई है या नहीं।

 

-अगर मुमकि‍न हो तो, OBD2 रीडर को पोर्ट से कनेक्‍ट कर डाटा हासि‍ल करें। ज्‍यादातर कार के ओडोमीटर माइलेज रीडिंग को स्‍टोर करते हैं। 
-कि‍सी ऑथराइज्‍ड सर्वि‍स सेंटर से कार की सर्वि‍स और मैंटेनेंस हि‍स्‍ट्री को ढूंढने की कोशि‍श करें और मौजूदा रीडिंग की तुलना अंति‍म सर्वि‍स वाले कि‍लोमीटर से करें।   
-अगर कार का माइलेज उसके मैन्‍युफैक्‍चरिंग ईयर की तुलना में बेहद कम है तो आप विंडशि‍ल्‍ड या डोर आदि‍ पर लगे स्‍टि‍कर से पता रहें कि इसकी सर्वि‍स इतनी कि‍.मी चलते के बाद की गई है। 
-कार के टायर को ध्‍यान से देखें। आमतौर पर नए टायर्स 40 हजार से 50 हजार कि‍मी तक चलते हैं। अगर कार का ओडोमीटर 13 हजार दि‍खा रहा है और उसके ऑरि‍जनल टायर्स को बदला गया है तो यह स्‍पष्‍ट है कि‍ ओडोमीटर के साथ छेड़छाड़ की गई है।

 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट