Home » Auto » Industry/ Trendshonda moving ahead to become no 1 two wheeler company, नंबर 1 टू-व्‍हीलर बनने के करीब पहुंची होंडा

नंबर 1 टू-व्‍हीलर बनने के करीब पहुंची होंडा, हीरो की बादशाहत को खतरा

बीते करीब एक दशक से भारत की नंबर 1 टू-व्‍हीलर कंपनी हीरो मोटोकॉर्प की बादशाहत को खतरा पैदा हो गया है।

1 of

नई दि‍ल्‍ली। बीते करीब एक दशक से भारत की नंबर 1 टू-व्‍हीलर कंपनी हीरो मोटोकॉर्प की बादशाहत को खतरा पैदा हो गया है। उसको यह चुनौती कोई और नहीं बल्‍कि‍ हीरो की पुरानी पार्टनर होंडा मोटरसाइकि‍ल्‍स एंड स्‍कूटर्स इंडि‍या (HMSI) से ही मि‍ल रही है। सोसाइटी ऑफ इंडि‍यन ऑटोमोबाइल मैन्‍युफैक्‍सचर्स (सि‍आम) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबि‍क, डोमेस्‍टि‍क सेल्‍स और एक्‍सपोर्ट मि‍लाकर दोनों कंपनि‍यों के बीच करीब 12 हजार यूनि‍ट्स का ही अंतर रह गया है।

 

हालांकि‍, डोमेस्‍टि‍क मार्केट में यह अंतर 40 हजार यूनि‍ट्स का है। होडा मोटरसाइकि‍ल्‍स एंड स्‍कूटर्स इंडि‍या इस वक्‍त देश की दूसरी सबसे बड़ी टू-व्‍हीलर कंपनी है। हालांकि‍, अगर होंडा की ग्रोथ का ट्रेंड यही रहा तो यह जल्‍द ही नंबर 1 कंपनी बन सकती है। 


बेहद कम बचा है अंतर

 

अप्रैल 2018 में होंडा की टोटल सेल्‍स 6,81,888 यूनि‍ट्स रही है। इसमें 18 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है। वहीं, हीरो मोटोकॉर्प की टोटल सेल्‍स इसी दौरान 6,94,022 यूनिट्स रही है और इसकी सेल्‍स ग्रोथ 16.5 फीसदी रही है। इन आंकड़ों के हि‍साब से दोनों कंपनि‍यों में केवल 12 हजार यूनि‍ट्स का अंतर ही बचा है। अगर होंडा अपनी इस रफ्तार को बरकरार रखती है तो वह मौजूदा फाइनेंशि‍यल ईयर में नंबर 1 टू-व्‍हीलर कंपनी का खि‍ताब अपने नाम कर लेगी।    

 

होंडा ने मारा छक्‍का

 

HMSI के सीनि‍वर वाइस प्रेसि‍डेंट, सेल्‍स एंड मार्केटिंग वाई. एस. गुलेरि‍या ने कहा कि‍ होंडा के लि‍ए भारत का लगाव लगातार बढ़ता जा रहा है और होंडा टू-व्‍हीलर्स इंडि‍या ने 2018-19 की शानदार शुरुआत की है। अप्रैल में ही सेल्‍स का रि‍कॉर्ड तोड़ दि‍या है। 

 

बीते साल अप्रैल में होंडा ने 5 लाख यूनि‍ट्स का आंकड़ा पहली बार क्रॉस कि‍या था और अब मात्र एक साल के बाद हमने 6 लाख यूनि‍ट्स का आंकड़ा भी पार कर लि‍या। हमने सभी सेगमेंट्स में इति‍हास बनाया है। उन्‍होंने कहा कि‍ होंडा ने पहली बार एक माह में 4 लाख स्‍कूटर्स के सेल्‍स आंकड़ों को पार कि‍या जबकि‍ मोटरसाइकि‍ल्‍स सेल्‍स का आंकड़ा 2 लाख के पार चला गया है।  


प्रोडक्‍शन की कैपेसि‍टी बनेगी दि‍क्‍कत

 

सेल्‍स का रि‍कॉर्ड हासि‍ल करने के बावजूद होंडा के लि‍ए प्रोडक्‍शन की कैपेसि‍टी दि‍क्‍कत बन सकती है। होंडा की पूरे साल की कैपेसि‍टी 64 लाख यूनि‍ट्स है जबकि‍ हीरो मोटोकॉर्प की कैपेसि‍टी 92 लाख यूनि‍ट्स प्रति‍ वर्ष है। हीरो ने मार्च में ही अपने आठवें प्‍लांट की शुरुआत की है जि‍सकी सालाना कैपेसि‍टी 18 लाख यूनि‍ट्स है।  

 

मोटरसाइकि‍ल में बजाज को छोड़ चुकी है पीछे

 

होंडा मोटरसाइकि‍ल्‍स पहले ही बजाज ऑटो को मोटरसाइकि‍ल सेल्‍स के मामले में पीछे छोड़ चुकी है। सि‍आम के आंकड़ों के मुताबि‍क, होंडा ने डोमेस्‍टि‍क मार्केट में अप्रैल 2018 में 2,12,292 मोटरसाइकि‍ल्‍स को बेचा। इसकी सेल्‍स ग्रोथ 15.8 फीसदी रही है। वहीं, बजाज ऑटो ने इसी दौरान 2,00,742 यूनिट्स को बेचा है और इसमें 24 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है।

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट
Don't Miss