बिज़नेस न्यूज़ » Auto » Industry/ Trendsरॉयल एनफील्‍ड के साथ मोटरसाइकिल बिजनेस को देंगे स्‍पीड, नए सेगमेंट में आने का इरादा नहीं : आयशर मोटर्स

रॉयल एनफील्‍ड के साथ मोटरसाइकिल बिजनेस को देंगे स्‍पीड, नए सेगमेंट में आने का इरादा नहीं : आयशर मोटर्स

आयशर मोटर्स की ओर से कहा गया है कि‍ वह रॉयल एन्‍फील्‍ड के साथ अपने बि‍जनेस को और आगे बढ़ाएंगे।

Focus on motorcycles not looking at new segments says Eicher Motors
नई दि‍ल्‍ली. आयशर मोटर्स की ओर से कहा गया है कि‍ वह रॉयल एन्‍फील्‍ड के साथ अपने बि‍जनेस को और आगे बढ़ाएंगे। कंपनी के एक टॉप लेवल के अधि‍कारी ने कहा है कि‍ कंपनी यूएस बेस्‍ड कंपनी पोलारि‍स के साथ चल रहे ऑफ रोड ज्‍वाइंट वेंचर के फेल होने के चलते अभी कि‍सी और सेगमेंट में कदम रखने नहीं जा रही है। 
 
कंपनी का फि‍लहाल ट्रक और बसों बनाने वाली कंपनी वोल्वो के साथ 50 फीसदी के ज्‍वाइंट वेंचर में है। हाल ही में कंपनी ने अपने ज्‍वाइंट वेंचर ईशर पोलारिस प्राइवेट लिमिटेड (ईपीपीएल) को बंद करने की घोषणा की थी। इसके तहत निजी उपयोगिता वाले वाहनों का प्रोडक्‍शन और बिक्री की जारी रही थी। 
 
आयशर माेटर्स के एमडी और सीईओ सि‍द्धार्थ लाल ने कहा कि‍ फि‍लहाल हम अपना 100 फीसदी दि‍माग मोटरसाइकल पर लगाना चाहते हैं। ऐसे में हमारा अभी इसके अलावा कि‍सी भी सेगमेंट में उतरने का इरादा नहीं है। बता दें कि‍ आयशर मोटर्स भारत और विदेशी बाजारों में मध्यम आकार की मोटरसाइकल रॉयल एनफील्ड  बेचती है।
 
वहीं, जब सि‍द्धार्थ लाल से सवाल कि‍या गया कि‍ ईपीपीएल के एक्‍सपीरि‍यंस के बाद आप फि‍र से फोर व्‍हीलर सेगमेंट में उतरेंगे। तो उन्‍होंने जवाब दि‍या कि‍ बि‍लकुल नहीं। फि‍लहाल हम ईपीपीएल के ऑपरेशंस को समेटने में जुटे हुए हैं। 
 
उन्‍होंने बताया कि‍ रॉयल एनफील्ड ग्‍लोबल मार्केट में अपना विस्तार करने की तैयारी कर रही है। इसके अलावा कंपनी थाईलैंड और इंडोनेशिया में पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनियों की स्थापना की प्रक्रिया में है। सि‍द्धार्थ लाल ने आगे कहा कि‍ इन दाेनों देशों में रॉयल एनफील्‍ड की डि‍मांड काफी है। ऐसे में हमारा पहला कदम होगा कि‍ यहां मार्केटंग कंपनी शुरू की जाए। बता दें कि‍ दुनि‍याभर के 50 देशों में रॉयल एनफील्ड की 540 डीलरशि‍प हैंं। जबकि‍ 36 एक्‍सक्‍लुसि‍व स्‍टोर हैं, जि‍नमें से 11 स्‍टोर 2017- 18 में ही खोले गए हैं। 
 

prev
next
मनी भास्कर पर पढ़िए बिज़नेस से जुड़ी ताज़ा खबरें Business News in Hindi और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट